Monsoon Diet: महंगाई की मार से न हो परेशान, सब्जियों की जगह खाने में इस्तेमाल करें ये 5 हेल्दी चीजें

Updated at: Jul 08, 2020
Monsoon Diet: महंगाई की मार से न हो परेशान, सब्जियों की जगह खाने में इस्तेमाल करें ये 5 हेल्दी चीजें

बारिश के मौसम में महंगाई की मार से बचने के लिए सब्जियों की जगह आप इन चीजों का अपने खान-पान में शामिल कर सकते हैं।

Pallavi Kumari
स्वस्थ आहारWritten by: Pallavi KumariPublished at: Jul 08, 2020

बारिश के मौसम में आमतौर पर सब्जियां बहुत महंगी हो जाती हैं। वहीं इस बार लॉकडाउन के कारण और देश-दुनिया की खराब आर्थिक स्थितियों के चलते भी चीजों के भाव आसमां छू रहे हैं। साथ ही बारिश के मौसम में हमारा पाचन तंत्र भी कमजोर रहता है, जिससे अपच, गैस और पेट से जुड़ी कई परेशानियां सामने आती रहती हैं। इसके अलावा पत्तेदार सब्जियों में इन दिनों कीड़ों के छोटे-छोटे अंडे होते हैं, जो कई बीमारियां पैदा कर सकती हैं। वहीं अरबी और आलू जैसी सब्जियों को भी इस मौसम खाने से बचना चाहिए क्योंकि ये कार्ब्स पाचन के हिसाब से बड़े कठोर होते हैं। वहीं ये तमाम चीजें महंगी भी हैं, ऐेसे में हम बारिश में ऐसा क्या खाएं, जो सस्ता भी हो और हेल्दी भी। तो आइए जानते हैं सब्जियों के उन विकल्पों के बारे में जिन्हें हम बारिश में खा सकते हैं।

insiderainydiet

सब्जियों की जगह खाने में इस्तेमाल करें ये 5 हेल्दी चीजें (healthy things in place of vegetables)

दालें

दालें प्रोटीन और फाइबर प्रदान करती हैं, साथ ही साथ विटामिन और खनिजों का एक महत्वपूर्ण स्रोत हैं। बारिश के मौसम में ये एक हेल्दी विकल्प हैं। आप इन्हें खरीद कर लंबे समय तक स्टोर कर सकते हैं और विभिन्न विधियों से इन्हें बना सकते हैं। वहीं इसके स्वास्थ्य लाभों की बात करें, तो इनमें हाई प्रोटीन, आयरन, जिंक, फोलेट और मैग्नीशियम जैसे काफी सारे पोषक तत्व पाए जाते हैं। र प्रति दिन आधा कप बीन्स या मटर का सेवन इन पोषक तत्वों के सेवन को बढ़ाकर आहार की गुणवत्ता बढ़ा सकते हैं। तो इस मौसम में आप राजमा, सूखे मटर, चना और मूंग आदि के दाल से हेल्दी व्यंजन तैयार कर सकते हैं।

सोयाबिन या सोया चंक्स

सोयाबीन, सोया चंक्स को इसके मीठे स्वाद और रेशेदार बनावट के लिए शाकाहारी मांस के रूप में जाना जाता है। प्रोटीन में प्रचुर मात्रा में घने होने के कारण, सोया चंक्स को करी और स्नैक आइटम के हिस्से के रूप में भारतीय घरेलू रसोई में व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। सोया चंक्स के स्वास्थ्य लाभ भी बहुत हैं। सोया प्लांट प्रोटीन का एक समृद्ध स्रोत है। संयुक्त राज्य अमेरिका के कृषि विभाग के आंकड़ों के अनुसार, 100 ग्राम सोयाबीन में 36 ग्राम प्रोटीन होता है। सोया को कोलेस्ट्रॉल कम करने के लिए भी जाना जाता है। तो बारिश के दिन में अगर आपके पास कोई सब्जी न हो, तो खाने में इन्हें शामिल करें।

insidepulses

इसे भी पढ़ें : शरीर में दिखने वाले ये 5 संकेत बताते हैं कि आपके खाने में है सब्जियों की कमी, ज्यादा खाएं सब्जियां

पनीर और टाफू

टोफू और पनीर दोनों की मिल्क प्रोडक्ट्स हैं। ये दोनों ही शाकाहारी के लिए प्रोटीन, खनिज और कैल्शियम में समृद्ध है, इसके अलावा मीट की जगह भी एक बेहतरीन विकल्प है। ऐसे में बारिश के दिनों में आप कभी-कभी कभार कुछ स्पेशल बनाने के लिए अपने घर के दूध से इन्हें बनाकर सब्जियों में इस्तेमाल कर सकते हैं। इस तरह ये हाइजेनिक भी रहेगा और हेल्दी।

बेसन 

बेसन को आप सिर्फ पकोड़े के रूप में इस्तेमाल करते होंगे, जबकि भारत के कई राज्यों में इसकी सब्जियां बनाई जाती हैं। बेसन के टिक्के की सब्जी, बेसन के पापड़ की सब्जी, बेसन का मुगौड़ा और बेसन के फ्राई बीन्स आदि का इस्तेमाल बारिश के मौसम में सब्जियों के लिए इस्तेमाल होता रहा है। वहीं ये सब्जियों की तरह बहुत ज्यादा भी नहीं लगता है। आप थोड़े से बेहन से कई लोगों के लिए सब्जी बना सकते 

insideeggs

इसे भी पढ़ें : अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी ने कंप्लीट शाकाहारी बनने का लिया फैसला, बताया कि 45 साल बाद क्यों आया ऐसा ख्याल

अंडे

अंडा सबसे आसान हेल्दी विकल्पों में से एक है।एक अंडे में लगभग 75 कैलोरी होती हैं। वहीं तीन फ्राई अंडे खाने से ही लगभग 225 कैलोरी मिलती हैं। अंडे को प्रोटीन, कैल्शियम व ओमेगा-3 फैटी एसिड का अच्छा स्रोत माना जाता है। यह सभी पोषक तत्व हमारे शरीर के लिए जरूरी होते हैं। इसके अलावा कैल्शियम से दांत व हड्डियां मजबूत होती हैं। अंडे खाने से आपके शरीर को जरूरी अमीनो एसिड मिलता है जिससे शरीर का स्टैमिना बढ़ता है। इसी तरह इसके कई और फायदे भी हैं, तो बारिश के मौसम में सब्जियां न मिले तो अंडे की सब्जी बनाकर खाएं।

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK