• shareIcon

विवाह और कैंसर उत्तरजीविता दर

कैंसर By सम्‍पादकीय विभाग , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Nov 24, 2011
विवाह और कैंसर उत्तरजीविता दर

शादी और कैंसर के उत्तरजीविता दर के बीच एक मजबूत सहसंबंध है। 40 साल की अवधि में किये गये एक नार्वेजियन अध्ययन में यह सामने आया, कि विवाहित पुरुषों से तुलना में अविवाहित पुरुषों में कैंसर के शिकार होने की संभावना 18% ज्यादा थी।

vivah aur cancer uttarjeevita dar

शादी और कैंसर के उत्तरजीविता दर के बीच एक मजबूत सहसंबंध है। 40 साल की अवधि में किये गये एक नार्वेजियन अध्ययन में यह सामने आया, कि विवाहित पुरुषों से तुलना में अविवाहित पुरुषों में कैंसर के शिकार होने की संभावना 18% ज्यादा थी। ये आंकड़े 1970 साल से उत्पन्न किये गये। हाल में किए गए अध्ययनों ने यह सूचित किया है कि वास्तव में विवाहित व्यक्तियों की तुलना में अविवाहित व्यक्तियों में कैंसर से होने वाली मौतों की जोखिम 35% से अधिक हैं! इसलिए, यह रुझान एक प्रमुख और अनवरत बना हुआ हैं।

विवाह का पवित्र रिश्ता पुरुषों को कैंसर के खिलाफ लड़ाई में काफी मदद करता है। लेकिन यह सहसंबंध कैसे समझाया जा सकता है? नीचे कुछ सूचीबद्ध प्रासंगिक तथ्यों को दिया हैं, जो यह सहसंबंध बेहतर समझ में मदद कर सकते हैं।

विवाह और कैंसर उत्तरजीविता दर

  • जब आपके पास एक समर्पित पत्नी होती हैं, तो वह आपके स्वास्थ्य की जरूरत का ख्याल रखती है, कैंसर जैसे घातक रोगों से लड़ना सरल हो जाता है। पत्नी को प्रतिबद्ध और सतर्क देखभाल करने वाली के रुप में जाना जाता हैं। वे बीमारी की प्रगति होने को रोकने के लिए अपने पति की हालत पर निगरानी करके मदद करती हैं, ताकि जितना संभव हो रोगों को सीमित किया जा सके। वह दवाई का समय और उपचार प्रक्रिया में किसी भी तरह की खामी ना रहे इसको भी देखती हैं, इस प्रकार से रोग के ठीक होने में बेहतर प्रतिक्रिया मिलना सुनिश्चित होता हैं।
  • पत्नी उत्कृष्ट भावनात्मक समर्थन प्रदान करनेवाली के रुप में भी जानी जाती है, जो पति को घातक रोगों का मुकाबला करने में मदद करती है। कैंसर के रूप में एक अन्त्य की बीमारी का प्रारंभिक निदान भी एक व्यक्ति को मानसिक रुप से बरबाद करने के लिए पर्याप्त हो सकता है। उन्हे अपना मनोबल बनाए रखना मुश्किल लग सकता हैं, इस प्रकार से वह आशा छोड देते है, लड़ने से पहले ही हार मान ले सकते हैं। ऐसे मामलों में, एक पत्नी या एक जिवनसाथी एक महत्वपूर्ण भूमिका निभानी होती हैं। वही सही व्यक्ति होती हैं, जो रोगी को प्रेरित और साहस पैदा कर सकती हैं।
  • विवाह और कैंसर के उत्तरजीविता दर के बिच सहसंबंध के कारणों में एक पत्नी या साथी के आने के बाद व्यक्ति के जीवनशैली में होने वाले सकारात्मक परिवर्तन भी हैं, उदाहरण के लिए, वह आपके धूम्रपान, शराब पीने से रोकने, ज्यादा, अस्वास्थ्यकर खाने से बचने, में मदद करने के साथ जुड़ा बडा उदाहरण भी हो सकती है। स्वस्थ जीवन शैली निश्चित रूप से आप को रोगों के खिलाफ मजबूत प्रतिरोध निर्माण में मदद करती हैं।


हालांकि शादी और कैंसर के उत्तरजीविता दर के बीच संबंध एक सकारात्मक लगता है, वहाँ कुछ कमियां भी हो सकती है। उदाहरण के लिए, एक पत्नी की भूमिका आसानी से एक समर्पित दोस्त, एक प्रेमीका या एक साथी या साथ में रहने वाली साथी भी निभा सकती है! यह सब आपके प्रियजनों पर निर्भर करता हैं, है, जो आपके एक स्वस्थ जीवन व्यतीत करने में मदद कर सकते हैं।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK