• shareIcon

स्किन केयर का नया ट्रेंड है 'कोरियाई स्किन एसेन्स', त्वचा के पीएच स्तर को भी रखता है बैलेंस

Updated at: Jan 25, 2020
त्‍वचा की देखभाल
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jan 25, 2020
स्किन केयर का नया ट्रेंड है 'कोरियाई स्किन एसेन्स', त्वचा के पीएच स्तर को भी रखता है बैलेंस

स्किन एसेन्स न तो मॉइस्चराइजर है, न टोनर है और न ही कोई सीरम। यह बस इन सभी उत्पादों का एक मिलाजुला रूप है।

त्वचा की अच्छी देखभाल के लिए स्किन केयर उत्पादों का सही चयन बेहद जरूरी होता है। फेस मास्क, मिट्टी के पैक, फाउंडेशन और लिपस्टिक आदि के विभिन्न तरीके स्किनकेयर रूटीन को प्रभावित करती है। इसी तरह दुनिया भर के अलग-अलग देशों में स्किन केयर के विभिन्न तरीके मौजूद हैं। वहीं इस समय ट्रेंड में कोरियाई स्किनकेयर का एक तरीका बहुत चर्चित हो गया है। दुनिया भर के फैशन बाजार में ये अपनी छाप छोड़ रही है। आइए जानते हैं इस कोरियाई स्किन केयर ट्रेंड की खास बातें, जिसने इसे स्किन केयर के ट्रेंड पर सबसे ऊपर ला कर खड़ा कर दिया है। 

inside_skincare

कोरियाई स्किन केयर का नया ट्रेंड है - स्किन एसेन्स

कोरियाई स्किनकेयर रूटीन की खास बात ये है कि ये आपकी त्वचा को कई परतों में साफ करने का काम करता है। जबकि लोग इसकी तुलना स्किनकेयर के लिए विश्व-प्रसिद्ध सीरम का इस्तेमाल करते हैं। वहीं  स्किन एसेन्स का इस्तेमाल फेस को कई परतों में मॉइस्चराइज करने का एक फॉर्मूला है। यह समझने के लिए कि ये स्किन एसेन्स क्या है आपको ज्यादा महनत नहीं लगेगी। स्किन एसेन्स न तो मॉइस्चराइजर है, न टोनर है और न ही कोई सीरम है। यह बस इन सभी उत्पादों का एक समामेलन है।

इसे भी पढ़ें : Floral Beauty Benefits: त्‍वचा के लिए कमाल के हैं ये 5 फूल, जानें इनके ब्‍यूटी बेनिफिट्स

ये आपके स्किन केयर रूटीन का एक अतिरिक्त कदम हो सकता है। इसमें टोनर के इस्तेमान के ठीक बाद और सीरम के इस्तेमाल से पहले स्किन एसेन्स का उपयोग किया जाता है। हालांकि, यह एक सीरम की तुलना में हल्का है और एक टोनर की तुलना में भारी है। एक हल्का पोशन होने के कारण, यह त्वचा को मॉइस्चराइज करता है और परतों में गहराई से रिस कर इसे हाइड्रेट करता है। एक टोनर मेकअप के छोटे कदमों को हटाने के लिए अंतिम चरण है, और इसमें मौजूद अल्कोहल सामग्री के साथ यह जल्दी से सूख जाता है। एक मलाईदार बनावट के साथ एक चेहरे का एसेन्स आपकी त्वचा में हाइड्रेटिंग और प्राइमिंग द्वारा सक्रिय अवयवों के साथ गहराई से घुसना करने के लिए डिजाइन किया गया है।

inside_koreanskincare

आप स्किन एसेन्स का उपयोग कैसे कर सकते हैं?

एक अच्छे स्किन एसेन्स का निशान वो होता है जब यह आपकी त्वचा के पीएच स्तर को क्लींजिंग और टोनिंग में संतुलित करता है। जबकि यह सभी प्रकार की त्वचा के लिए फायदेमंद है और इस तरह ये स्किन को सूखी और निर्जलित करने से बचाती है। तैलीय त्वचा वाले लोग सीबम के उत्पादन को संतुलित करने के लिए सैलिसिलिक एसिड से समृद्ध एक स्किन एसेन्स का विकल्प चुन सकते हैं।

चूंकि स्किन एसेन्स टोनर के रूप में पानी के समान नहीं है, इसलिए अपनी हथेलियों एसेन्स की कुछ बूंदें लें और इसे अपने चेहरे में तब तक लगाएं जब तक कि यह अवशोषित न हो जाए। या धीरे से अपनी ठोड़ी से शुरू करके इसे अपनी त्वचा में डालना शुरू करें और धीरे-धीरे अपने चेहरे पर मालिश करके इसे ऊपर की ओर ले जाएं। यह कदम परिसंचरण को बढ़ावा देने में मदद करता है। स्किन एसेन्स के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि वे आपकी त्वचा को हाइड्रेटिंग और मॉइस्चराइजिंग से परे रखता है। ऐसा इसलिए है क्योंकि इसमें इसका एंटी-एजिंग तत्व होता है जो लंबे समय आपकी त्वचा को निखार देता है। इस तरह मॉइस्चराइजिंग करने से त्वचा की कोशिकाओं को कोमल बनाए रखने में मदद मिलती है, जिससे आप पर एजिंग का असर कम ही दिखता है।

इसे भी पढ़ें : बढ़ती उम्र को छिपाने और चेहरे को जवां बनाए रखने में मदद करते हैं ये 5 फूड, जानें क्या है एंटी एजिंग डाइट

त्वचा के प्रकार के अनुसार चुनें स्किन एसेन्स

त्वचा कभी एक समान नहीं होती है और प्रत्येक त्वचा में विभिन्न मुद्दे हैं लेकिन हम विभिन्न प्रकार के मॉइस्चराइज़र, क्लीन्ज़र और यहां तक कि चेहरे के स्किन के हिसाब से भी स्किन एसेन्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। जैसे-

ऑयली त्वचा के लिए- सीबम उत्पादन या थर्मल पानी को नियंत्रित करने के लिए सैलिसिलिक एसिड युक्त एसेन्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। वहीं ये विटामिन से समृद्ध होते है, जो फेस के लिए काफी लाभदायक है।

शुष्क त्वचा के लिए - सूखी त्वचा के लिए एसाल्यूरोनिक एसिड या जोजोबा तेल का इस्तेमाल किया जा सकता है।

सुस्त त्वचा के लिए - सुस्त त्वचा को हमेशा ऐसे अवयवों की आवश्यकता होती है, जो इनपर एक उज्ज्वल और चमकदार प्रभाव प्रदान करें। ऐसे में आप सुबह सुबह अपनी त्वचा को जगाने के लिए जिंगी वनस्पति या नियासिनमाइड से समृद्ध एसेन्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Read more articles on Skin-Care in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK