जानें पील ऑफ मास्क के क्या हैं फायदे और कैसे करता है ये त्वचा की सफाई

जानें पील ऑफ मास्क के क्या हैं फायदे और कैसे करता है ये त्वचा की सफाई

रोज के धूल, धूप और प्रदूषण का आपकी त्वचा पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इनकी वजह से आपकी त्वचा की ऊपरी सेल्स नष्ट हो जाती हैं। इन डेड स्किन सेल्स को निकालने के लिए और चेहरे पर ग्लो लाने के लिए आप तरह-तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करती हैं।

रोज के धूल, धूप और प्रदूषण का आपकी त्वचा पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इनकी वजह से आपकी त्वचा की ऊपरी सेल्स नष्ट हो जाती हैं। इन डेड स्किन सेल्स को निकालने के लिए और चेहरे पर ग्लो लाने के लिए आप तरह-तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट्स का इस्तेमाल करती हैं। डेड स्किन सेल्स को निकालने के लिए स्क्रब का प्रयोग ज्यादा किया जाता है मगर इससे कई बार त्वचा काली पड़ जाती है। इसलिए इसके लिए पील ऑफ मास्क का प्रयोग ज्यादा बेहतर और सुरक्षित होता है। आइए आपको बताते हैं क्या हैं पील ऑफ मास्क के फायदे और कैसे करता है ये त्वचा की सफाई।

चेहरे पर तुरंत ग्लो लाता है पील ऑफ मास्क

फेस पीलिंग का इस्‍तेमाल स्किन की वाइटनिंग और ब्राइटनिंग के लिए किया जाता हैं। फेस पीलिंग के बाद नई हेल्दी स्किन की लेयर चेहरे पर आ जाती है, जिससे आपका कॉम्प्लेक्शन एकसार दिखता है, स्किन सॉफ्ट और टाइट भी हो जाती है। सन एक्सपोजर के चलते होने वाली टैनिंग से भी पीलिंग ठीक हो जाती है। साथ ही रफ या ड्राई स्किन को स्मूद बनाने में भी पीलिंग का रोल बेहद असरदार है।

इसे भी पढ़ें:- जानें कब करवाना चाहिए आपको बॉडी पॉलिशिंग और क्यों पड़ती है इसकी जरूरत?

डेड स्किन सेल्स को निकालता है ये मास्क

पील ऑफ मास्क लगाने से चेहरे पर मौजूद डेड स्किन सेल्स निकल जाते हैं और नई परत आ जाती है। डेड स्किन सेल्स के कारण आपकी त्वचा गहरी रंग की दिखने लगती है। इन डेड स्किन सेल्स का कारण धूप और धूल में रहना है। कई बार आप घर से बाहर ज्यादा नहीं निकलती हैं फिर भी वायु में मौजूद प्रदूषण के कारण त्वचा के सेल्स मर जाते हैं। ऐसे में इन्हें साफ करने के लिए पील ऑफ मास्क बहुत फायदेमंद है।

पील ऑफ मास्क में होते हैं एंटीऑक्सीडेंट्स

ज्‍यादातर पील्स पौधे या फलों आधारित होते है और सुरक्षित होते हैं। फलों या फलों के छिलकों में मौजूद ढेर सारे एंटीऑक्सीडेंट्स आपके लिए फायदेमंद होते हैं। अच्छे प्राकृतिक पील ऑफ मास्क में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स फ्री-रेडिकल्स से लड़ने में मदद करते हैं, जिससे आप की त्वचा पर उम्र के कारण होने वाले बदलाव बहुत धीरे होते हैं और आप लंबे समय तक जवान दिखती हैं। इसके अलावा ये मुंहासों, डार्क स्पॉट्स और पिगमेंटेशन को कम करने में भी मदद करता है।

इसे भी पढ़ें:- स्किन की इन 4 स्थितियों में न करें स्क्रब का प्रयोग, हो सकता है नुकसानदायक

चेहरे के अलावा अन्य अंगों को पील ऑफ करना

हालांकि पीलिंग मुख्‍य रूप से चेहरे के लिए होती है, लेकिन घुटनों और अंडरआर्म का कालापन दूर करने, मुंहासों के निशान और पीठ की पिगमेंटेशन को दूर करने के लिए लगभग शरीर के किसी भी हिस्‍से में इस्‍तेमाल किया जा सकता है। ये एक ऐसा स्किन ट्रीटमेंट है जो स्किन के ट्रेक्सचर को बेहतर बनाने का काम करता है। ज्यादातर छिलके काफी हल्के होते हैं और कोई साइड इफेक्ट नहीं है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Skin Care in Hindi

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।