• shareIcon

Know Your Plate: जानें आपकी सेहत पर क्या फर्क पड़ता है, जब आप खाते हैं 1 समोसा

स्वस्थ आहार By अनुराग अनुभव , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Nov 09, 2019
Know Your Plate: जानें आपकी सेहत पर क्या फर्क पड़ता है, जब आप खाते हैं 1 समोसा

क्या आपको पता है कि 1 समोसा खाने से आपको कितनी कैलोरीज मिलती हैं? डॉक्टर अनुजा गौर से जानें समोसा खाने के बाद आपकी सेहत पर क्या प्रभाव पड़ता है, समोसे से मिली कैलोरीज को आप कैसे बर्न कर सकते हैं और समोसा को हेल्दी कैसे बना सकते हैं।

समोसा भारत के लगभग सभी हिस्सों में स्नैक के रूप में लोकप्रिय है। अगर किसी एक स्नैक को 'भारत का राष्ट्रीय स्नैक' बनाया जाए, तो शायद इसे समोसा ही होना चाहिए। तीखे मसालेदार आलुओं से भरे हुए समोसों का स्वाद खट्टी-मीठी चटनियों और चाय के साथ और बढ़ जाता है। इतिहास के झरोखे में जाएं, तो आपको हैरानी होगी कि समोसा पहली बार 10वीं शताब्दी में बनाया गया था। जबकि भारत में ये लगभग 14वीं शताब्दी में आया। मगर इसमें कोई हैरानी नहीं कि आज समोसा भारतीय स्नैक्स में सबसे ज्यादा पॉपुलर है।

उत्तर और मध्य भारत में तो समोसे इतने पॉपुलर हैं कि आपको हर गली हर मोड़ में कोई न कोई समोसे की दुकान या खोमचा मिल जाएगा। हममें से ज्यादातर लोगों की समोसों के साथ बचपन की ढेर सारी यादें जुड़ी हो सकती हैं। अब इससे पहले कि आपके मुंह में पानी आ जाए और आप इमोशनल होकर समोसा खरीदने पहुंच जाएं, हम आपको बताते हैं इससे जुड़ी कुछ खास बातें। जी हां, समोसा खाने से पहले आपको इसकी कैलोरीज के बारे में भी जान लेना चाहिए, ताकि आपको इस बात की सही-सही जानकारी हो कि आप क्या खा रहे हैं और उसका आपकी सेहत पर क्या असर पड़ने वाला है।

समोसों के सेहत पर प्रभाव के बारे में जानने के लिए ओनलीमायहेल्थ ने डॉ. अनुजा गौर (आकाश हेल्थकेयर सुपरस्पेशियलिटी हॉस्पिटल) से बात की है। आइए आपको बताते हैं डॉ. अनुजा ने क्या कहा।

समोसा की न्यूट्रीशनल वैल्यू

  • 1 समोसा= 262 किलोकैलोरी
  • फैट- 3 ग्राम
  • प्रोटीन- 10.5 ग्राम
  • कार्बोहाइड्रेट- 45 ग्राम
  • डाइट्री फाइबर- 1.5 ग्राम

चूंकि समोसे में स्टार्च की मात्रा ज्यादा और फाइबर की मात्रा कम होती है, इसलिए एक रेगुलर साइज समोसा खाने से आपको लगभग 262 कैलोरीज मिलती हैं। इसके अलावा समोसे वनस्पति घी या तेलों में तले जाते हैं इसलिए इसमें बहुत अधिक ट्रांस फैट होता है, जो आपके शरीर के लिए नुकसानदायक होता है। अगर आप यह समोसा किसी गली-चौराहे की छोटी दुकान से खरीदते हैं, तो इस बात की भी पूरी संभावना होती है, वो समोसा पहले से इस्तेमाल तेल में तला गया हो। एक बार इस्तेमाल हो चुके तेल को दोबारा गर्म करके इसमें किसी खाद्य पदार्थ को डीप फ्राई करके खाना आपकी सेहत के लिए बहुत ज्यादा बुरा है।

इसे भी पढ़ें: बचे हुए तेल को दोबारा इस्तेमाल करना हो सकता है घातक, कई बीमारियों का खतरा

कई बार इस्तेमाल हुए तेल में बनी चीजें खाने से आपका लिपिड प्रोफाइल बढ़ता है और आपके शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल (LDL) की मात्रा बढ़ती है। हालांकि डॉ. अनुजा गौर कहती हैं कि अगर आप कभी-कभार समोसा खा लेते हैं, तो इससे आपकी सेहत पर कोई बहुत प्रभाव नहीं पड़ता है। लेकिन अक्सर खाना या रोजाना खाना आपकी सेहत के लिए अच्छा नहीं है।

समोसे में क्या होता है?

आमतौर पर समोसा बनाने के लिए निम्न चीजें इस्तेमाल की जाती हैं-

  • मैदा (रिफाइंड फ्लोर)
  • आलू
  • तेल
  • नमक
  • मसाले

समोसा एक तरह से मैदे और आलू से बनी पैटी है, जिसमें कई बार कुछ हल्की-फुल्की सब्जियां (मटर, प्याज, गाजर, पत्तागोभी) मिला दी जाती हैं। इसे तिकोने आकार में बनाकर तेल में डीप फ्राई किया जाता है।

1 समोसा खाने से मिली कैलोरीज कैसे बर्न करें?

1 समोसा खाने में आपको ज्यादा से ज्यादा 5 मिनट लगेंगे। इन 5 मिनटों में आपकी जीभ को मिलने वाले मसालों और फ्राइड आलू-मैदे के स्वाद से भले ही खुशी मिले, लेकिन इसे खाने के बाद आपके शरीर में जो 262 कैलोरीज पहुंचती हैं, उन्हें बर्न करना आपके लिए आसान काम नहीं होने वाला है। डॉ. अनुजा के अनुसार, 

1 समोसे से मिलने वाली कैलोरीज को बर्न करने के लिए आप-

  • 1 घंटे पैदल चलें या
  • 1 घंटे पावर योग करें या
  • 1 गेम टेनिस खेलें या
  • 1 सेशन एरोबिक एक्सरसाइज करें या
  • 1/2 घंटे स्विमिंग करें

अगर आप इतनी एक्सरसाइज करते हैं, तब जाकर 1 समोसे द्वारा खाई हुई कैलोरीज आपके शरीर में इस तरह टूटती हैं कि फैट जमा नहीं होता है।

samosa-burn-calories

लेकिन यहां ध्यान देने वाली बात ये है कि अगर आपको समोसे से बहुत प्यार है और आप 1 समोसे के बदले एक्सरसाइज करने को भी तैयार हैं, तो भी डॉक्टर इसे खाने की सलाह नहीं देते हैं। इसका कारण है कि समोसा आपको सिर्फ कैलोरीज ही नहीं, बल्कि काफी मात्रा में कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने वाले तत्व भी देता है। अगर आप भी समोसे के शौकीन हैं और अक्सर इसे खाते हैं, तो दूसरे फास्ट फूड्स की तरह ये आपको मोटा बना सकता है या सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है। ज्यादा समोसा खाने के कारण आपका कोलेस्ट्रॉल बढ़ सकता है, मेटाबॉलिज्म धीमा हो सकता है, डायबिटीज या ब्लड प्रेशर की समस्या हो सकती है।

इसे भी पढ़ें: मिडल ईस्ट से आया था समोसा और पॉर्चगीज़ लाए थे आलू, इन 5 फूड्स के फैक्ट्स

समोसा पसंद है, तो इसे हेल्दी ट्विस्ट दें

अगर आप खुद को समोसा-लवर मानते हैं, तो कम से कम अपनी सेहत का ख्याल रखने के लिए आप इतना कर सकते हैं कि इसे बाहर से खरीदने के बजाय घर पर बनाएं और कुछ हेल्दी तरीके से बनाएं। आइए आपको बताते हैं समोसा को हेल्दी बनाने का तरीका-

  • रिफाइंड फ्लोर (refined Flour) यानी मैदा सेहत के लिए नुकसानदायक होता है, इसलिए इसकी जगह आप होल व्हीट फ्लोर (Whole Wheat Flour) यानी आटे का प्रयोग कर सकते हैं।
  • तेल में पकाने के बजाय आप इसे माइक्रोवेव में पका सकते हैं। माइक्रोवेव में पकाने पर इसमें कोलेस्ट्रॉल बढ़ाने वाले तत्व कम हो जाएंगे और समोसा काफी हद तक ट्रांस फैट फ्री हो जाएगा।
  • आप तेल में तलने के बजाय समोसे को एयर फ्राई कर सकते हैं। आजकल बाजार में ढेर सारे एयर फ्रायर मौजूद हैं, जिनमें खाने की चीजों को फ्राई करने के लिए तेल की जरूरत नहीं पड़ती है। Amazon से Prestige PAF 6.0 1200-Watt Air Fryer 30% डिस्काउंट रेट पर (Only Rs. 3843/-) प्राप्त करने के लिए यहां क्लिक करें।
  • आलू के बजाय स्टफिंग के लिए उबली सब्जियों का प्रयोग कर सकते हैं, जिससे इसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम हो जाए।

जाते-जाते आपको एक और बात बता देते हैं। जितनी मात्रा में कैलोरीज आपको 1 समोसा खाने से मिलती हैं, उतनी कैलोरीज आपको 5 सेब खाने से मिलेंगी। मगर सेब विटामिन्स, मिनरल्स, फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट्स से भरपूर होते हैं, इसलिए ये आपकी सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं।

Read more articles on Healthy Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK