सर्दियों के मौसम में बच्चों को वायरल इंफेक्शन से बचाने के 5 टिप्स

Updated at: Jan 13, 2020
सर्दियों के मौसम में बच्चों को वायरल इंफेक्शन से बचाने के 5 टिप्स

सर्दियों का मौसम आपके बच्चों को कई बीमारियों की चपेट में ले लेता है और ऐसे में उनको ठंड लगने से बचाना काफी मुश्किल हो जाता है।

 
Atul Modi
नवजात की देखभालWritten by: Atul ModiPublished at: Jan 13, 2020

सर्दियों का मौसम आपके बच्चों को कई बीमारियों की चपेट में ले लेता है और ऐसे में उनको ठंड लगने से बचाना काफी मुश्किल हो जाता है। लेकिन अगर कुछ सावधानियां बर्ती जाएं, तो उन्हें ठंड लगने से बचाया जा सकता है। सही समय पर इलाज, बच्चों की देखरेख, साफ-सफाई करने से आपके बच्चे को सुरक्षित रखेंगे। आजकल अगर बच्चों को थोड़ा सा भी बुखार या ज़ुखाम हो जाता है तो उनमें बहुत कमजोरी आ जाती है और वे लंबे समय तक बीमार रहने लगते हैं। आइए जानते हैं कि कैसे सर्दियों में बच्चों को वायरल इंफेक्शन से बचाया जा सकता है।

inside-infection

बच्चों को बीमार होने से कैसे बचाऐं

  • अपने आस-पास सफाई का ध्यान रखें, अगर किसी जगह पर कूड़ा जमा है तो उसे जल्द से जल्द साफ करे, क्योंकि उनपर आए मच्छर, मक्खी आपके बच्चों तक पहुंचकर उनको नुकसान पहुंचा सकते हैं। अगर आपकी छत पर रखे कूलर या टंकी में पानी जमा है, तो उन्हें साफ करें और उसमें गंदा पानी जमा न होने दें।
  • सुबह और शाम बच्चों को घर से बाहर कम ही निकलने दें, क्योंकि अधिकतर डेंगू जैसे मच्छर दिन में ही पाए जाते हैं। हल्की सर्दियां आते ही बच्चों को गरम कपड़े पहनाऐं जिससे कि उन्हें कोई मच्छर आसानी से न काटें।
  • जिन्हें पहले से ही सर्दी-ज़ुखाम है, उनसे अपने बच्चों को दूरी बनाऐ रखने के लिए कहें जिससे कि वह उसकी चपेट में न आऐं।
  • धुली हुई सब्जियों का सेवन करें और अपने बच्चों को बाहर का खाना न खाने दें। अपने बच्चों को हाथ धोने की आदत डालें, जिससे कि उनके पेट में कीटाणु न जाएं और वे बीमारियों से बचे रहें। अपने बच्चों को आरओ का पानी या उबाल कर पानी पिलाऐं क्योंकि इस मौसम में गंदा या अधिक ठंडा पानी पीने से आपके बच्चों को ठंड लग सकती है। इस तरह वे बीमार भी पड़ सकते हैं।
  • गुनगुने पानी से अपने बच्चों को नहलाएं क्योंकि सर्दी के मौसम में ठंडे पानी से नहाने के बाद वह बीमार भी पड़ सकते हैं। छोटे बच्चों को नहलाने के बाद उनकी तेल से मालिश करनी चाहिए और मौसम के अनुसार ही कपड़े चुनने चाहिए। 

इसे भी पढ़ें: 1 साल तक के बच्चे को ना दें ये 4 चीजें, सेहत के लिए हो सकती हैं हानिकारक

inside-softskin

बीमार बच्चों का ध्यान कैसे रखें

  • अगर उन्हें जुकाम है तो, बार-बार रुमाल का इस्तेमाल न करके टिश्यू पेपर का प्रयोग करें क्योंकि यह आपके बच्चों को संक्रमण से बचा सकता है।
  • अगर संक्रमण हो जाए, तो जल्द से जल्द डॉक्टर के पास ले जाऐं और समय से दवाई देते रहें। अगर आपका बच्चा कई बार दवाई लेने से भी ठीक न हो, तो उसका ब्लड टैस्ट कराएं क्योंकि आजकल डेंगू, मलेरिया, चिकनगुनिया जैसी कई बीमारियां फैलती जा रही हैं।
  • समय से टीकाकरण कराना बहुत ही आवश्यक है, जो आपके बच्चों को काली खांसी, टेटनेस, पोलियो, खसरा जैसी बीमारियों से बचाता है। अगर आप इसका ध्यान नहीं रखेंगे, तो यह आपके बच्चों को बड़ी बीमारियों का शिकार बना देगा।

इसे भी पढ़ें: आप जानते हैं आपके बच्चे को कब लगती है भूख, जानें किन संकेतों से पहचाने की आपका बच्चा है भूखा

  • खाने-पीने का खासतौर से ध्यान रखें क्योंकि बाहर का खाना बच्चों को बहुत पसंद होता है, जो कि उनके लिए बहुत ही नुकसानदायक है। 
  • चिप्स, चॉक्लेट, आईसक्रीम जैसी चीजें बीमारी के समय बहुत हानिकारक है, इसलिए उन्हें ये बिलकुल न दें।
  • माता-पिता अपना खास ख्याल रखें क्योंकि ये अगर आप बीमार पड़ जाएंगे, तो यह वायरल आपके बच्चों को भी आसानी से बीमार कर सकता है।

Read more articles on New-Born-Care in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK