इन चीजों में होता है भरपूर ओमेगा 6 फैटी एसिड, जरूर करें डाइट में शामिल

Updated at: Feb 06, 2020
इन चीजों में होता है भरपूर ओमेगा 6 फैटी एसिड, जरूर करें डाइट में शामिल

फिट रहने के लिए सभी पोषक तत्वों डाइट में शामिल करना जरूरी है। इन चीजों को अपनी डाइट में शामिल कर ओमेगा फैट की कमी को करें दूर। 

मिताली जैन
स्वस्थ आहारWritten by: मिताली जैनPublished at: Feb 06, 2020

ओमेगा -6 फैटी एसिड पॉलीअनसेचुरेटेड वसा होते हैं, जो विभिन्न प्रकार के खाद्य पदार्थों में पाए जाते हैं। इसे लिनोलेइक एसिड (Linoleic acid) भी कहा जाता है और यह मनुष्यों के लिए दो आवश्यक फैटी एसिड में से एक है। इन्हें एसेंशियल फैटी एसिड भी माना जाता है क्योंकि यह शरीर को ठीक तरह से काम करने के लिए इनकी जरूरत होती है। हालांकि शरीर इनका स्वयं ही उत्पादन नहीं करता। इसका मतलब है कि आप उन्हें खाद्य पदार्थों से प्राप्त करना चाहिए। भले ही शरीर को सही ढंग से काम करने के लिए इनकी जरूरत हो, लेकिन आपको इनका सेवन आवश्यकता के अनुसार ही करना चाहिए। 

अगर ओमेगा 3 और ओमेगा 6 फैटी एसिड का सेवन जरूरत से ज्यादा किया जाता है, तो इससे सूजन और क्रानिक डिसीज की समस्या हो सकती है। पोषण और आहार विज्ञान अकादमी के अनुसार, 19-50 वर्ष की आयु के महिलाओं और पुरुषों को क्रमशः 12 ग्राम और 17 ग्राम ओमेगा -6 फैटी एसिड की आवश्यकता प्रतिदिन होती है। तो चलिए आज हम आपको ऐसे कुछ खाद्य पदार्थों के बारे में बता रहे हैं, जिनका सेवन करके आप ओमेगा 6 फैटी एसिड की कमी को आसानी से दूर कर सकते है।

omega-6

अखरोट

अखरोट को वैसे तो ब्रेन फूड भी कहा जाता है, लेकिन यह एक प्रकार का ट्री नट है। जिसमें फाइबर से लेकर कई महत्वपूर्ण खनिज जैसे मैंगनीज, तांबा, फास्फोरस और मैग्नीशियम आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं। इतना ही नहीं, इसके सेवन से शरीर में ओमेगा 6 की जरूरत को भी पूरा किया जा सकता है। आप चाहे तो इसे यूं ही खाएं या फिर आपनी पसंदीदा डिश के उपर छिड़कें और इसका आनंद लें। 

टोफू

सोया मिल्क की मदद से तैयार किए जाने वाले टोफू में प्रोटीन, आयरन, कैल्शियम व मैंगनीज आदि उच्च मात्रा में पाया जाता है। इसे भी डाइट में कई रूपों में शामिल किया जा सकता है। 122 ग्राम टोफू में 6060 एमजी लिनोलेइक एसिड कंटेंट पाया जाता है।

omega-6

इसे भी पढ़ें: ये 5 लक्षण बताते हैं आपके शरीर में हो गई है ओमेगा-3 फैट एसिड की कमी

सूरजमुखी के बीज

सूरजमुखी के बीजों को सूरजमुखी के पौधे से प्राप्त किया जाता है और यह बेहद ही पोषक माने जाते हैं। वे विशेष रूप से महत्वपूर्ण विटामिन और खनिजों में उच्च हैं, जिनमें विटामिन ई और सेलेनियम शामिल हैं। यह दोनों एंटीऑक्सिडेंट के रूप में कार्य करते हैं जो सेल डैमेज से लेकर सूजन और क्रोनिक डिसीज से बचाते हैं। सूरजमुखी के बीजों को आप रोस्ट करके अपने हेल्दी स्नैक्स में शामिल कर सकते हैं। 28 ग्राम सूरजमुखी के बीजो में 10600 एमजी लिनोलेइक एसिड कंटेंट पाया जाता है।

पीनट बटर

पीनट बटर हेल्थ के लिए काफी अच्छा माना जाता है। इसमें केवल हेल्दी फैट्स या प्रोटीन ही नहीं पाया जाता, बल्कि यह नियासिन, मैंगनीज, विटामिन ई और मैग्नीशियम जैसे प्रमुख पोषक तत्वों से भी भरपूर है। इसके एक चम्मच अर्थात् 16 ग्राम पीनट बटर में 1960 एमजी लिनोलेइक एसिड कंटेंट पाया जाता है।

इसे भी पढ़ें: आपके स्वास्थ्य के लिए ये मछलियां हैं फायदेमंद और हानिकारक, जानें किस मछली से कितना फायदा

अंडे

अगर हेल्दी ब्रेकफास्ट की बात हो तो उसमें अंडे को जरूर शामिल करना चाहिए। अंडे सिर्फ प्रोटीन का ही पावरहाउस नहीं होते, बल्कि इनमें सेलेनियम और राइबोफ्लेविन जैसे महत्वपूर्ण पोषक तत्वों भी पाए जाते हैं। आप इन्हें नाश्ते में आमलेट बनाकर खाने से लेकर उबालने या फिर ब्रेड के साथ बेहद आसानी से खा सकते हैं। एक बड़े अंडे में लगभग 594 मिलीग्राम लिनोलेइक एसिड कंटेंट पाया जाता है।

Read More Article On Healthy Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK