कीटो डाइट फॉलो करने पर आपको भी परेशान कर रहा है सिर दर्द? घबराएं नहीं अपनाएं ये आसान उपाय

Updated at: Jul 03, 2020
कीटो डाइट फॉलो करने पर आपको भी परेशान कर रहा है सिर दर्द? घबराएं नहीं अपनाएं ये आसान उपाय

कीटो सिर दर्द दरअसल इस बात का संकेत है कि कीटो डाइट आपके शरीर पर काम कर रहा है। इसलिए परेशान न हो बस इन चीजों का ध्यान रखें।

Pallavi Kumari
विविधWritten by: Pallavi KumariPublished at: Jul 03, 2020

 वजन घटाने के लिए कीटो डाइट फॉलो करने वाले लोगों की एक बड़ी संख्या है। इस डाइट को फॉलो करने पर शरीर में जो बदलाव होता है उसके संकेत आपको कई बार परेशान कर सकते हैं। दरअसल ये सब केटोसिस (Ketosis) के कारण होता है। केटोसिस एक चयापचय प्रक्रिया है, जो तब होती है जब शरीर ऊर्जा के लिए फैट जलाना शुरू कर देता है क्योंकि इसमें जलने के लिए पर्याप्त कार्बोहाइड्रेट नहीं होते हैं। इस प्रक्रिया के दौरान, लिवर केटोन्स नामक रसायन का उत्पादन करता है। वहीं जब ये डाइट काम करने लगता है तो व्यक्ति सिरदर्द (Keto headaches), मांसपेशियों में दर्द, थकान और पेट से जुड़ी समस्या की शिकायत करता है। सबसे ज्यादा लोग सिरदर्द की शिकायत करते हैं, पर कुछ टिप्स हैं जिसकी मदद से आप इस सिरदर्द से पार पा सकते हैं।

insideketodiet

कीटो डाइटर्स को सिरदर्द (Keto Headache)क्यों होता है?

कीटो आहार में, कार्ब्स में कमी आपके शरीर को केटोसिस नामक एक चयापचय मोड में डालती है, जहां शरीर कार्बोहाइड्रेट की अनुपस्थिति में ऊर्जा के लिए फैट का इस्तेमाल करता है। जब आप कीटो आहार शुरू करते हैं, तो आपका शरीर दो से सात दिनों के भीतर किटोसिस में परिवर्तित हो जाएगा। यह वह अवधि है जब कीटो सिरदर्द होता है। इसके अलावा, कार्ब को वापस लेने से भी कीटो सिरदर्द दोबारा शरू हो सकता है।

insideheadache

इसे भी पढ़ें : Weight Loss For Women's: वजन घटाने के लिए महिलाएं क्यों चुनती हैं Ketogenic Diet? जानें कीटो डाइट के विशेष लाभ

कम कार्बोहाइड्रेट, विशेष रूप से चीनी का सेवन, सिरदर्द का कारण बन सकता है। जैसे-जैसे आपका शरीर ग्लूकोज के बजाय कीटोन्स पर निर्भर होना शुरू करता है, आपके ब्लड शुगर का स्तर कम हो सकता है, इसके कारण लॉ ब्लड शुगर शुरू हो सकता है। केटोसिस में संक्रमण आपके मस्तिष्क को प्रभावित कर सकता है और इसके परिणामस्वरूप मस्तिष्क भारी रहने के साथ-साथ सिरदर्द भी हो सकता है। ऐसे अन्य कारक हैं जो कीटो सिरदर्द के जोखिम को भी बढ़ा सकते हैं। इनमें दवाएं, निर्जलीकरण, खराब नींद, तनाव और भोजन।

insidedehydration

इसे भी पढ़ें: Weight Loss Tips: कीटो डाइट लेने के बावजूद नहीं घट रहा वजन तो आप अनजाने में कर रहे यें 4 गलतियां, आज ही बदलें

कीटो सिरदर्द होने पर क्या करें?

लक्षणों की गंभीरता और अवधि व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में भिन्न हो सकती है। हालांकि यह कुछ आहारकर्ताओं के लिए केवल हल्के लक्षण हो सकता है, दूसरों को ये सिर दर्द लंबे समय तक महसूस हो सकता है। ये घंटों तक शरीर में थकान और कम ऊर्जा लक्षणों का अनुभव करवा सकता है। लेकिन इसका मतलब ये नहीं है कि आप इस डर से कीटो डाइट लेना बंद कर दें। इसके लिए आपतो ज्यादा परेशान होने कि जरूरत नहीं है क्योंकि ये सिरदर्द आमतौर पर एक अल्पकालिक प्रभाव तक ही रहता है। वहीं इन्हें रोकने और इलाज करने के कई तरीके हैं। जैसे कि

  • -खूब पानी पिएं: कीटो आहार के शुरुआती चरणों में शरीर से खोए हुए पानी को फिर से भरने के लिए पर्याप्त तरल पदार्थ पीना महत्वपूर्ण है।
  • -अपने अल्कोहल सेवन को सीमित करें: किटोसिस में संक्रमण आपके लिवर को तनाव दे सकता है। शराब अंग को और नुकसान पहुंचा सकती है।
  • -गोभी, सलाद, तोरी, और टमाटर जैसे कम-कार्ब, पानी युक्त खाद्य पदार्थ अधिक खाएं। वे पौष्टिक होते हैं और आपको हाइड्रेटेड रख सकते हैं।
  • -अधिक इलेक्ट्रोलाइट युक्त खाद्य पदार्थ लें।
  • -कीटो आहार की शुरुआत में इंटेंस एक्सरसाइज करने से बचें।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK