सैफ-करीना ने कर ली है दूसरे बच्चे की तैयारी, जानें दूसरी प्रेगनेंसी के साथ पहले बच्चे से कैसे बिठाएं तालमेल

Updated at: Aug 13, 2020
सैफ-करीना ने कर ली है दूसरे बच्चे की तैयारी, जानें दूसरी प्रेगनेंसी के साथ पहले बच्चे से कैसे बिठाएं तालमेल

एक बार फिर पटौदी खानदान बच्‍चे की किलकारियों से गूंजने वाला है, जी हां करीना और सैफ ने खुलासा किया है कि वह एक बार फिर मां-बाप बनने जा रहे हैं। 

Sheetal Bisht
महिला स्‍वास्थ्‍यWritten by: Sheetal BishtPublished at: Aug 13, 2020

बॉलीवुड जगत की महान हस्‍ती और एक स्‍वीट कपल सैफ अली खान और करीना कपूर खान ने अपनी दूसरी प्रेगनेंसी की पुष्टि की है। सैफ और करीना ने एक संयुक्‍त बयान में अपने फैन्‍स और शुभचिंतको की शुभकामनाओं के लिए धन्‍यवाद देते हुए कहा है, '' हमें यह घोषणा करते हुए बहुत खुशी हो रही है कि हम अपने परिवार के लिए एक और बच्‍चे की उम्मीद कर रहे हैं !! हमारे सभी शुभचिंतकों को उनके सभी प्यार और समर्थन के लिए धन्यवाद।” सैफ अली खान और करीना कपूर के इस बयान के बाद इंडस्ट्री के लोगों से लेकर फैन्‍स ने इस स्‍वीट कपल को बधाई संदेश और प्‍यार भेजा है। 

आपको बता दें, कि करीना का पहला बच्‍चा तैमूर अली खान है, जिसे उन्‍होंने 2016 में जन्‍म दिया था और अब पूरे 3 साल के अंतराल में उन्‍होंने दूसरे बच्‍चे के बारे में सोचा। आइए यहां हम आपको बताते हैं कि कैसे एक महिला को अपनी दूसरी प्रेगनेंसी के लिए खुद को और अपने पहले बच्‍चे को तैयार करना चाहिए। 

कैसे करें दूसरी प्रेग्‍नेंसी के लिए खुद को तैयार?

एक महिला के लिए भले ही दूसरी प्रेगनेंसी में प्रसव की प्रक्रिया जानी समझी होती है। लेकिन दूसरी प्रेगनेंसी में उसका शरीर उतना स्‍वस्‍थ, मजबूत और सहायक नहीं होता, जितना की पहली प्रेगनेंसी में होता है। दूसरी प्रेगनेंसी में लक्षण पहली बार अनुभव किए गए लक्षणों से कुछ अलग हो सकते हैं। विशेषज्ञों का मानना है कि दूसरी गर्भावस्था में विभिन्न स्थितियों को बेहतर तरीके से संभालने का अनुभव आता है। लेकिन कुछ मामलों में, दूसरी गर्भावस्‍था के लिए महिला को खुद को ज्‍यादा बेहतर तरीके से तैयार करने की जरूरत होती है। यहां जानिए कि दूसरी प्रेग्‍नेंसी के लिए कैसे खुद को तैयार करें। 

kareena Kapoor Khan, Saif Ali Khan, Taimur Ali Khan

स्‍वस्‍थ वजन बनाए रखें

गर्भ धारण करने से कम से कम 6 महीने पहले आप अपने वजन की जांच करें। आपका स्वस्थ वजन होना उचित है क्योंकि यह गर्भावस्था के दौरान आपके और बच्‍चे के स्‍वास्‍थ्‍य को तय करता है। इसके अलावा, यदि आप दूसरी प्रेगनेंसी को सामान्य चाहते हैं, तो इसके लिए भी स्वस्थ वजन रखना आवश्यक है।

इसे भी पढ़ें: गर्भावस्‍था के दौरान बढ़ सकता है UTI का खतरा, जानें लक्षण और बचाव

Second Pregnancy Tips

पौष्टिक खाएं

गर्भावस्था के दौरान आप पौष्टिक खाना खाएं और आर्टिफिशियल शुगर, कैफीन और शराब या धूम्रपान जैसे नशों से दूर रहें। इसके अलावा कुुछ फल ऐसे भी हैं, जिनका एक गर्भवती को भूलकर भी सेवन नहीं करना चाहिए। आप डाइट में साबुत अनाज, बीन्स आदि को शामिल करें, क्‍योंकि दूसरी बार गर्भवती होने का मतलब है कि आपके शरीर को फिर से नौ महीनों को संभालने के लिए पर्याप्त रूप से मजबूत बनना होगा। इसलिए पौष्टिक खाएं और स्‍वस्‍थ रहें। 

मेडिकल चेकअप कराएं

आप दूसरी गर्भावस्‍था के लिए गर्भधारण से पहले अपना मेडिकल चेकअप जरूर कराएं। इससे आपको यह जानने में मदद मिलेगी कि आप दूसरी प्रेगनेंसी के लिए तैयार हैं या नहीं। वहं जांच के आधार पर डॉक्‍टर आपको कुछ जरूरी सप्‍लीमेंट्स या दवाओं की सलाह भी दे सकता है, जो कि आपकी प्रेगनेंसी के लिए जरूरी हो सकती हैं। 

दूसरी बार प्रेग्‍नेंट होने पर कैसे करें अपने पहले बच्‍चे को तैयार?

एक नवजात शिशु को घर लाना दूसरी बार थोड़ा अलग होता है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि अब आप अपने पहले बच्चे के साथ, दूसरे बच्चे की देखभाल करने पर केंद्रित कर रहे हैं। दूसरे बच्चे के साथ, आपको यह भी देखना होगा कि आपका बड़ा बच्चा एक नए भाई-बहन होने के बारे में क्या प्रतिक्रिया देगा। इसलिए आइए यहां हम आपको बता रहें हैं कि दूसरी बार गर्भवती होने पर अपने पहले बच्‍चे को कैसे तैयार करें और उसके साथ तालमेल बिठाएं।

इसे भी पढ़ें: पोस्‍टपार्टम डिप्रेशन से निपटने में मदद कर सकता है ब्रेस्‍टफीडिंग करवाना

How To Prepare Your First Baby For New Sibling

बड़े बच्चे को नए भाई-बहन के लिए कैसे तैयार करें?

  • अपने बड़े बच्चे से उसके नए भाई-बहन के आने के बारे में बात करना शुरू कर दें। आप अपने पहले बच्‍चे को बताएं कि बच्चा कैसे बढ़ रहा है।
  • आप अपने बड़े बच्चे को समझाएं कि आपका आने वाला भाई-बहन ज्यादातर समय खाएगा, सोएगा और रोएगा। 
  • इसके अलावा, एक जरूरी बात कि आप अपने बड़े या पहले बच्‍चे को उसके जन्‍म का उदाहरण देकर समझाएं कि आने वाले बच्‍चे को आपके ज्‍यादा प्‍यार और दुलार की जरूरत होती है। ऐसा इसलिए क्‍योंकि इस उम्र में बच्चे अभी भी अपने माता-पिता से काफी जुड़े हुए हैं। एक नवजात शिशु के साथ उनका ध्यान या प्‍यार बंटने से उन्‍हें बुुुुराया जलन महसूस हो सकती है। 
  • वहीं यदि आपका पहला बच्‍चा छोटा है, तो आप उसे शौचालय प्रशिक्षण से लेकर अपने कुछ छोटे-छोटे कामों को खुद करना सिखाएं। 

इस प्रकार यदि इन बातों को ध्‍यान में रखते हुए आप अपनी दूसरी प्रेगनेंसी को प्‍लान करते हैं, तो आप अपने साथ होने वाले बच्‍चे और अपने बड़े बच्‍चे को स्‍वस्‍थ और खुश रख पाएंगे। इस तरह आपका दूसरा बच्‍चा आपके साथ-साथ आपके पहले बच्‍चे के लिए भी एक अच्‍छा उपहार होगा। 

Read More Article On Women's Health In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK