• shareIcon

जापानी महिलाओं की खूबसूरती का राज है ये आसान टिप्स, आप भी करें ट्राई

फैशन और सौंदर्य By Rashmi Upadhyay , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Mar 09, 2018
जापानी महिलाओं की खूबसूरती का राज है ये आसान टिप्स, आप भी करें ट्राई

चेहरे की सुंदरता और ताज़गी बनाएं रखने के लिए फेस को वॉश करना जितना ज़रूरी है उतना ही ज़रूरी है कि इसे सही विधि से प्रयोग करना। 

चेहरे की सुंदरता और ताज़गी बनाएं रखने के लिए फेस को वॉश करना जितना ज़रूरी है उतना ही ज़रूरी है कि इसे सही विधि से प्रयोग करना। फेश को वॉश करने का सही तरीका आपके चेहरे की चमक को तो बढ़ाता ही है, साथ ही आपके आत्मविश्वास में भी इजाफा करता है। जापान के लोग इस मामले में बहुत खुशनसीब हैं क्योंकि उनकी स्किन बहुत ही चमकदार और क्लीन होती है। इसका राज है उनकी फेसवॉश करने की विधि। आप भी जैपनीज़ तरीके को अपनाकर अपने चेहरे को हमेशा के लिए चमकदार और सुंदर बना सकती हैं।

कारगर है जैपनीज विधि

  • जैपनीज स्त्रियां पूरी दुनिया में अपनी खिली और सुंदर त्वचा के लिए मशहूर हैं। जापान में स्त्रियां अपने फेस को वॉश करते समय बहुत सावधानी बरतती हैं जोकि उनकी त्वचा के निखार का महत्वपूर्ण हिस्सा है। आइए जानें उनकी फेसवॉश करने की विधि।
  • अपने चेहरे और हथेलियों को अच्छे से गीला करें। थोड़ा सा फेसवॉश लेकर उसमें थोड़ा ठंडा और गुनगुना पानी मिलाकर क्रीम जैसा पेस्ट बना लें और फिर इसे चेहरे पर मलें। कुछ मिनटों तक क्रीम जैसे पेस्ट से चेहरे का मसाज करें और फिर चेहरे को धो लें।
  • जैपनीज लोग फेसवॉश को सीधे चेहरे पर नहीं लगाते बल्कि पहले वो इसे हथेलियों पर मलकर पेस्ट बना लेते हैं। ऐसा करने से चेहरा हाथों की धूल और तेल के सीधे संपर्क में आने से बचा रहता है।
  • ज्यादा झाग वाले फेसवॉश का इस्तेमाल करें। झाग चेहरे में जमी धूल और तेल को अच्छे से साफ करने में मदद करता है।
  • फेसवॉश ऐसा यूज़ करें जिससे चेहरा हाइडे्रट हो क्योंकि चेहरा वॉश करने के बाद हाइडे्रशन से त्वचा चमकदार और चिकनी हो जाती है।
  • रोज़ाना सही तरीके से चेहरा साफ करने से त्वचा की खूबसूरती बनी रहती है। धूल-मिट्टी और तेल को दूर करने के लिए चेहरे की सफाई का ध्यान रखना बहुत ज़रूरी है। त्वचा को हाइड्रेट रखने और इसके पीएच लेवल को बनाए रखने के लिए फेसवॉश को डेली रुटीन में शामिल करें।

सूरज की किरणों से बचाव

वातावरण में फैला प्रदूषण, धूल मिट्टे के कण और सूरज की तेज किरणें हमारी त्वचा को डैमेज करते हैं। इसके कारण सनबर्न, त्वचा का रूखापन और एजिंग जैसी समस्याएं जन्म लेती हैं। आप चाहे घर पर रहें या बाहर त्वचा को जवां और सुंदर बनाए रखने के लिए यूवी किरणों से इसका बचाव करें। विटमिन ई युक्त एसपीएफ सनस्क्रीन का इस्तेमाल करें। सनस्क्रीन का इस्तेमाल घर पर भी करें।

खूबसूरत हो हर सुबह

त्वचा को स्वस्थ और सुंदर बनाए रखने के लिए रात को नाइट क्रीम से मसाज करना न भूलें। सोते समय शरीर पूरी तरह से रिलैक्स होता है और इस समय सारे ऊतक सक्रिय होकर त्वचा की मरम्मत में जुट जाते हैं। नाइट क्रीम भी त्वचा का कुछ इसी तरह ख्याल रखती है। दिनभर की थकान दूर करके आपकी त्वचा को देती है एक ताज़गी भरी सुबह। चेहरे को अच्छे से वॉश करने के बाद ही नाइट क्रीम का इस्तेमाल करें। इसे अपनी आदत बनाएं और कुछ ही दिनों में फर्क महसूस करें। साथ ही, सात-आठ घंटे की नींद ज़रूर लें।

इसे भी पढ़ें : इन छोटी-छोटी गलतियों के कारण होता है अंडरआर्म्स का कालापन

तनाव को कहें न

त्वचा की समस्याओं का सबसे बढ़ा कारण है तनाव। घर-बाहर के तमाम तरह के मानसिक तनाव सबसे ज्य़ादा प्रभाव आपकी कोमल और नाज़ुक त्वचा पर डालते हैं। इसके कारण समय से पहले झुर्रियां, एजिंग के साइन और चेहरे की रौनक कम होने लगती है। ऐसी स्थिति में पडऩे से बचें। मेडिटेशन को अपनी रुटीन का हिस्सा बनाएं। चेहरे की कसावट और ग्लो को बनाए रखने के लिए फेशियल एक्सरसाइज़ करें। खानपान का भी पूरा ध्यान रखें। चेहरे को दिन में कम से कम तीन बार ज़रूर वॉश करें। तरल पदार्थों जैसे पानी, जूस आदि का सेवन खूब करें। अपने आंतरिक आत्मविश्वास को बनाएं, अपने चेहरे की चमक। थोड़ी सी केयर और समझदारी बनाए आपकी त्वचा को चमकदार और एवरग्रीन।

हर्बल फेसवॉश

  • बाज़ार में मिलने वाले फेसवॉश का इस्तेमाल करने की अपेक्षा बादाम पीसकर उसमें मलाई और ठंडा दूध मिलाकर लगाएं। इससे आपकी त्वचा तरोताज़ा हो जाएगी और रौनक भी बनी रहेगी। इसका उपयोग आप चाहें तो रोज़ कर सकती हैं ।
  • सर्दी के मौसम में चेहरे की सफाई के लिए साबुन के बजाय ग्लिसरीनयुक्त सोप फ्री फेसवॉश का इस्तेमाल करें।
  • रूखी त्वचा की सफाई के लिए बेसन में मलाई मिलाकर इससे हफ्ते में तीन बार यूज़ कर सकती हैं।
  • सामान्य त्वचा के लिए कच्चे दूध का प्रयोग करें।
  • फेश वॉश हर्बल, ग्लिसरीन, अरोमा ऑइल्स, फ्लॉवर एक्सट्रेक्ट, विटमिन ई व सी युक्त, मेडिकेटेड सभी तरह के उपलब्ध हैं, पर इनका चुनाव अपने स्किन टाइप के अनुरूप ही करें।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Beauty In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK