• shareIcon

क्या धोखा देना है तलाक का मुख्य कारण

मैरिज By अनुराधा गोयल , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jan 12, 2012
क्या धोखा देना है तलाक का मुख्य कारण

आइए जानें इस बात में कितनी सच्चाई है कि तलाक का मुख्य कारण धोखा देना है।

Kya dhokha dena hai talaak ka mukhya kaaran

आजकल की जीवनशैली में तलाक होना आम बात है। लेकिन क्या आप जानते हैं तलाक के कई कारण हो सकते हैं और होते हैं। कोई भी संबंध विश्वास पर बनता है और जब यह टूटता है तो तलाक तक की नौबत आ जाती है। लेकिन तलाक के कुछ कारण ऐसे भी हैं जिन्हें जानबूझकर या लापरवाही में अंजाम दिया जाता है। शादी के बाद किसी और से अफेयर करना ऐसा ही एक कारण है, जो कि तलाक का कारण बन सकता हैं। लेकिन यह जानना भी जरूरी है कि क्या धोखा देना है तलाक का मुख्य कारण या फिर इसके अलावा भी कुछ और कारण होते हैं तलाक के। आइए जानें इस बात में कितनी सच्चाई है कि तलाक का मुख्य कारण धोखा देना है।

  • बेवफाई किसी भी रिश्ते के लिए सबसे खतरनाक स्थि‍ति होती है। हर रिश्ता तब तक मजबूत रहता है जब तक उसमें शक, अविश्वास इत्यादि बातें ना हों, लेकिन जब बेवफाई की बात आती है तो पति-पत्नी के रिश्ते‍ में दरारें आना स्वाभाविक है।
  • हाल ही में हुए सर्वें बताते हैं कि 60 फीसदी पुरूष और 40 फीसदी महिलाओं के शादी के अफेयर होता है।
  • कहने का अर्थ है, जब पति-पत्नी की इस बात का खुलासा होता है या फिर उनके अफेयर की बात सामने आती है तभी रिश्ते खराब होते हैं अन्यथा सच्चाई के छिपाए रखने पर रिश्तों में दरारें आने की संभावना ना के बराबर होती है।
  • दरअसल, शादी के बाद अफेयर होना, बेवफाई होना या धोखा देने से भावनात्मक चोट पहुंचती है जिससे रिश्तों के बिखरने की आशंका बढ़ जाती है और भावनात्मक दर्द ही तलाक का अंजाम होता है।
  • हालांकि एक अन्य सर्वे में ये बात भी सामने आई कि तलाक का कारण शादी के बाद अफेयर नहीं बल्कि विश्वासघात, झूठ बोलना, धोखा देना इत्यादि के कारण तलाक की नौबत आ जाती हैं।


कुछ अन्य कारण भी है तलाक के

  • इंकार करना- जब पति-पत्नी एक-दूसरे की छोटी-छोटी खुशियों में रूचि नहीं दिखाते और हर काम को इंकार कर देते हैं और किसी भी बात को मानने के लिए तैयार नहीं होते तो रिश्तों में खट्टास आनी शुरू हो जाती है।
  • एक-दूसरे में रूचि ना होना- जब पति को पत्नी में और पत्नी को पति में किसी तरह की कोई दिलचस्पी नहीं रह जाती और दोनों अपनी ही दुनिया में मशगुल रहने लगते हैं तो तलाक की नौबत आ सकती है।
  • बातचीत ना होना- पति-पत्नी के बीच जरूरत से ज्यादा चुप्पी होना या बातों को शेयर करने की आदत ना होना या फिर आपस में बातचीत में रूचि ना लेना भी रिश्तों की समाप्ति का एक लक्षण होता है।
  • आपस में प्यार ना होना- एक ही छत के नीचे रहने वाले दो लोग जब अजनबियों की तरह रहने लगते हैं तो उनके रिश्ते खत्म होने लगते हैं। किसी भी रिश्ते को लंबे समय तक सही रूप में चलाने के लिए जरूरी है कि आपस में प्या‍र बना रहें। लेकिन प्यार की कमी और अजनबीपन से तलाक की नौबत आ सकती हैं।


अब आप समझ ही गए होंगे कि पति-पत्नी के रिश्ते को लंबे समय तक बरकरार रखने के लिए आपस में विश्वास, प्यार और समझदारी जरूरी है।



Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK