बैड कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकता है चीज़, एक्सपर्ट से जानें शुगर के मरीज के लिए चीज़ (Cheese) के फायदे

Updated at: Jan 22, 2021
बैड कोलेस्ट्रॉल को कम कर सकता है चीज़, एक्सपर्ट से जानें शुगर के मरीज के लिए चीज़ (Cheese) के फायदे

चीज़ में कोलेस्‍ट्रॉल कम करने की और शुगर लेवल कंट्रोल रखने के गुण पाये जाते हैं। आपको डायब‍िटीज़ है तो चीज़ खाना आपके ल‍िये फायदेमंद हो सकती है। 

Yashaswi Mathur
विविधWritten by: Yashaswi MathurPublished at: Jan 22, 2021

क्‍या डायब‍िटीज़ के मरीज़ चीज़ खा सकते हैं? इस सवाल का जवाब है हां। आप सोच रहे होंगे कि प‍िज्‍जा़-बर्गर जैसे फास्‍ट फूड में म‍िलने वाली चीज़ हेल्‍दी कैसे हो सकती है? चीज़ में नैचुरल फैट होता है ज‍िसे खाने से वजन नहीं बढ़ता पर आप उसे अनहेल्‍दी तरह से खायेंगे तो आपका वजन कंट्रोल नहीं होगा। हालांक‍ि अगर आप प्‍लेन चीज़ को खायें तो इसमें कई गुण होते हैं। चीज़ में व‍िटाम‍िन बी, बी12, ज‍िंक, फॉस्‍फोरस, सोड‍ियम, मैग्‍न‍िश‍ियम, कैल्‍श‍ियम, व‍िटाम‍िन, एंटीऑक्‍सीडेंट जैसे गुण पाये जाते हैं। इसको खाने से इंफेक्‍शन का खतरा दूर रहता है। कोलेस्‍ट्रॉल लेवल भी कंट्रोल रहता है इसल‍िये डायब‍िटीज़ के मरीज़ चीज़ खा सकते हैं। अगर आप चीज़ खाने से परहेज करते हैं तो अपनी डाइटीश‍ियन से संपर्क करें और सलाह लेकर चीज़ को खा सकते हैं। इस पर ज्‍यादा जानकारी के ल‍िये हमने बात की लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से और चीज़ के फायदों पर जानकारी ली। 

 cheese can control diabetes and cholestrol level

डायबिटीज़ को कैसे कंट्रोल रखता है चीज़? (Cheese can control diabetes)

अमरीका में प्रकाश‍ित हुई जर्नल ऑफ क्‍लीन‍िकल न्‍यूट्र‍िशन में बताई एक स्‍टडीज़ के मुताबिक अगर आप हर द‍िन 45 ग्राम चीज़ खाते हैं तो डायबिटीज़ का खतरा 10 प्रत‍िशत घट जाता है। चीज़ में कैल्‍श‍ियम की अच्‍छी मात्रा होती है इसल‍ि‍ये अगर आपकी हड्डि‍यों में अक्‍सर दर्द रहता है तो चीज़ खाने से आपको दर्द में राहत म‍िल सकती है। उसमें सैचुरेटेड फैट होता है जो शुगर लेवल कम करने में मदद करता है। इसके अलावा चीज़ इंसुल‍िन का सीक्र‍िशन बढ़ा देता है। इसमें पाए जाने वाला प्रोटीन भी इंसुल‍िन की सक्र‍ियता बढ़ा देता है। इसल‍िये थोड़ी चीज़ खाने से डायब‍िटीज़ अचानक से नहीं बढ़ेगी। हालांक‍ि आपको बाजार में चीज़ खरीदते समय इस बात का ध्‍यान रखना है क‍ि चीज़ में ज्‍यादा नमक या चीनी न म‍िलाई हो। कोशिश करें क‍ि आप फ्लेवर्ड चीज़ के बजाय ताज़ी और प्‍लेन चीज़ खरीदें। 

इसे भी पढ़ें- वजन घटाने के लिए भी कर सकते हैं चीज़ (Cheese) का सेवन, एक्स्पर्ट से जानें इसे खाने का सही तरीका और फायदे

क्‍या चीज़ खाने से बढ़ता है गुड कोलेस्ट्रॉल? (Cheese helps to maintain good cholesterol)

चीज़ का इस्‍तेमाल हम कई ड‍िशेज़ में करते हैं जैसे सैंडव‍िच, बर्गर, प‍िज्‍जा़। इन सब डिशेज़ को अगर हेल्‍दी तरह से बनाकर इन्‍हें चीज़ के साथ खाया जाये तो कोलेस्‍ट्रॉल कम हो सकता है। दरअसल चीज़ में जो फैट मौजूद होता है वो हमारी सेहत के ल‍िये अच्‍छा माना जाता है। चीज़ गुड कोलेस्‍ट्रॉल को बढ़ाता है और बैड कोलेस्‍ट्रॉल को कम करता है। चीज़ शुगर लेवल के साथ-साथ हार्ट ड‍िसीज़ के खतरे को भी कम करता है। इससे स्‍ट्रोक होने की आशंका भी घट जाती है। चीज़ में जो कैल्‍श‍ियम और व‍िटाम‍िन के2 मौजूद होता है वो कोलेस्‍ट्रॉल को शरीर में घुलने नहीं देता ज‍िससे शरीर में कैलोरीज़ भी नहीं बढ़ती। 

इसे भी पढ़ें- प्रोटीन और कैल्शियम से भरपूर होते हैं ये 3 तरह के मिल्क चीज़, जानें किसमें कितना है न्यूट्रीशन

क्‍या भूख को कंट्रोल करता है चीज़? (Cheese controls hunger)

cheese helps to control hunger

चीज़ खाने से वजन भी कंट्रोल में रहता है। चीज़ में प्रोटीन के साथ-साथ फॉस्‍फोरस की मात्रा भी होती है जो हमारे पाचन तंत्र के ल‍िये फायदेमंद है। चीज़ भूख को कंट्रोल करता है। इसे खाने के बाद आपको कुछ और खाने की क्र‍ेव‍िंग नहीं होगी और जब आप कुछ और जंक नहीं खायेंगे तो अपने आप ही आपका वजन न‍ियंत्रण में रहेगा। अगर आप वेट कम करना चाहते हैं तो मोजरैला चीज़ खा सकते हैं। इसमें बाक‍ि चीज़ के मुकाबले कैलोरी की मात्रा कम होती है और इस चीज़ में सोड‍ियम की क्‍वॉन्‍ट‍िटी भी कम रहती है। मोजरैला में कुछ ऐसे बैक्‍टेर‍िया मौजूद होते हैं जो प्रोबायोट‍िक का काम करते हैं और इंटेस्‍टाइन को दुरूस्‍त रखते हैं।  

कोई भी ड‍िश या आहार आपके ल‍िये तभी फायदेमंद है जब आप उसे सही मात्रा में खायें इसी तरह चीज़ भी फायदेमंद है पर आप उसे रोज़ या जल्‍दी-जल्‍दी खाने की गलती न करें। 

Read more on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK