• shareIcon

महिलाओं से जुड़े अंतरंगता के मुद्दे

मैरिज By Aditi Singh , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Aug 10, 2015
महिलाओं से जुड़े अंतरंगता के मुद्दे

आखिर महिलाओं की अंतरंगता से जुड़े मुद्दे क्या-क्या है और उन्हें किस तरह उनसे निपटना पड़ता है आइए जानें।

महिलाओं के बारे में ऐसा माना जाता है कि वे बहुत संवेदनशील होती हैं। कई बार वे छोटी-छोटी बातों को लेकर बेहद तनावग्रस्त हो जाती हैं। शारीरिक और भावनात्मक मुद्दों को लेकर वे बेहद अंतरंगता महसूस करती हैं। कई बार ऐसा भी देखा गया है कि वे अपनी फिजीकल एपीयरेंस, शरीर के किसी अन्य विकार, रिश्तों में दरार के कारण आत्मविश्वास में कमी आदि को लेकर बहुत जज्बाती और परेशान हो जाती हैं। आखिर महिलाओं की अंतरंगता से जुड़े मुद्दे क्या-क्या है और उन्हें किस तरह उनसे निपटना पड़ता है आइए जानें।

Women Intemecy
संवेदनशील स्वभाव

संवेदनशील स्वभाव के कारण महिलाएं भावनाओं में आसानी से बह जाती हैं जिससे उन्हें मानसिक पीड़ा भी अधिक होती है। यदि कोई महिला मोटी है या उसकी फिगर अच्छी नहीं है और वह अच्छी नहीं दिखती तो महिलाओं में आमतौर पर हीनभावना पनपने लगती हैं। इतना ही नहीं इसके कारण वे तनावग्रस्त भी हो जाती हैं। महिलाओं में किसी तरह का कोई शारीरिक विकार उनके अंदर आत्मविश्वास की कमी पैदा कर देता है।  कई महिलाएं सेक्सुअली बहुत स्ट्रांग होती है यानी उनकी अंतरंगता क्षमता बहुत अधिक होती है जिससे वह अपने साथी से संतुष्ट नहीं हो पाती। जिसके कारण ऐसी महिलाएं अकसर जल्दी अवसाद या व्याकुलता से भर जाती हैं। वैवाहिक अंतरंगता के दौरान यदि महिला किसी मुद्दे को लेकर खासकर शारीरिक संबंधों को लेकर यदि दुखी है तो भी वह तनाव में आ सकती है।

प्रेग्नेंसी का डर

सेक्स जहां पुरुषों के लिए अपनी अजीबो-गरीब फैंटेसी को पूरा करने का साधन है, वहीं औरतों के लिए यह रिलेशन काफी इमोशनल होता है। सेक्स के दौरान महिलाएं अपने आप को पूरी तरह से समर्पित कर देती हैं, लेकिन अक्सर पुरुष सेक्स संबंधों के दौरान भावनाओं में नहीं बहते। उनके लिए महज शारीरिक संतुष्टि ही काफी होती है। सेक्स करते हुए महिलाओं के लिए सबसे बड़ा डर प्रेग्नेंसी का होता है। अक्सर पुरुष साथी कंडोम का प्रयोग नहीं करना चाहते। दूसरे, कई महिलाएं भी कंडोम के साथ सेक्स में वो आनंद प्राप्त नहीं कर पाती। कई बार सेक्स संबंध इतने अचानक बन जाते हैं कि कुछ सोचने का मौका नहीं मिलता। प्रेग्नेंसी का डर सेक्स के बाद महिलाओं की चिंता का सबसे बड़ा कारण होता है।
Women Intemmecy in Hindi

संतुष्टि

पुरुषों को महिलाओं की इच्छा समझना चाहिए, पोर्न की तरह व्यवहार न करें। प्राय: पुरुष सेक्स के दौरान महिलाओं की इच्छाओं और उनकी भावनाओं का ख्याल नहीं करते। वे सिर्फ अपनी संतुष्टि से मतलब रखते हैं। यह एक स्वार्थी रवैया है। महिलाएं संवेदनशील व्यवहार से संतुष्ट होती हैं, पर पुरुष उनके साथ कुछ इस तरह सेक्स करना चाहते हैं मानो किसी पोर्न स्टार के साथ सेक्स कर रहे हैं।
 

कई बार जब महिलाओं के रिश्तों में बिना किसी ठोस कारण दरार आने लगती है या फिर उनके साथी को उन्हें समझने में परेशानी होने लगती हैं तो ऐसे में महिलाएं अपना आत्म विश्वास खोने लगती हैं।

 

Image Source- Getty

Read More Article on Relationship in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK