• shareIcon

इंटरनेट की लत बनेगी बीमारी

लेटेस्ट By ओन्लीमाईहैल्थ लेखक , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Oct 05, 2012
इंटरनेट की लत बनेगी बीमारी

इंटरनेट हमारे जीवन का अहम हिस्‍सा बन चुका है। लेकिन आइये जानें, इंटरनेट की लत कैसे बन रही बीमारी का कारण।

इंटरनेट हमारे जीवन का अहम हिस्‍सा बन चुका है। सुबह से लेकर शाम तक अपने कितने ही कामों के लिए हमें तकनीक के इस बड़े आविष्‍कार पर निर्भर रहना पड़ता है। दफ्तर में काम हो या रेल के टिकट बुक कराना। कोई खरीददारी करने हो या फिर किसी बिल का भुगतान ही क्‍यों न करना हो, इंटरनेट हमारी हर जरूरत को पूरा करने का काम करता है। लेकिन, इंटरनेट का अधिक इस्‍तेमाल स्‍वास्‍थ्‍य के लिहाज से ठीक नहीं है।

इसे भी पढ़े- (की बोर्ड भी बना सकता है बीमार)

लेकिन, अब इंटरनेट की आदत को बीमारी की श्रेणी में रखे जाने की कवायद शुरू हो गई है। इंटरनेट की लत में डूबे बच्‍चों को जल्‍द ही मानसिक बीमारों की लिस्‍ट में शामिल किया जाएगा। दरअसल, इस लत की बीमारी का दर्जा दिया जाने वाला है। इसमें गैजट्स, की लत के शिकार बच्‍चों के इलाज में मदद मिलने की भी उम्‍मीद जताई जा रही है।

इसे भी पढ़े- (इंटरनेट के जंजाल में उलझ रहा बालमन)

 

जानकार मानते हैं कि डायग्‍नोस्टिक एंड स्‍टैटिकल मैनुअल ऑफ मेंटल डिसऑर्डर में अगले साल मई से 'इंटरनेट यूज डिसऑर्डर' को भी शामिल किया जाएगा। इस बीमारी के लक्षणों में स्‍मार्टफोन को तो शामिल किया ही गया है साथ ही टेबलेट कंप्‍यूटर और डेस्‍कटॉप के इस्‍तेमाल की लत को भी शामिल किया जाएगा।

 

Read More Article On- (office aur swaasth)

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK