वजन घटाने वाली कीटो डाइट और इंटरमिटेंट फास्टिंग पहुंचा सकती है आपके हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान : शोध

Updated at: Sep 09, 2020
वजन घटाने वाली कीटो डाइट और इंटरमिटेंट फास्टिंग पहुंचा सकती है आपके हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को नुकसान : शोध

क्‍या आप जानते हैं कि कीटो डाइट या इंटरमिटेंट फास्टिंग आपके वजन को कम करने में मदद करने के साथ-साथ आपकी दिल की सेहत पर बुरा प्रभाव डाल सकती हैं।  

Sheetal Bisht
लेटेस्टWritten by: Sheetal BishtPublished at: Sep 09, 2020

क्‍या आप भी वजन घटाने के लिए कई डाइट ट्राई कर चुके हैं? अगर हां, तो आपने वजन घटाने के लिए बहुत सारी डाइट और फास्टिंग प्‍लान के बारे में सुना होगा। ऐसी ही डाइट प्‍लान में इन दिनों, दो सबसे लोकप्रिय प्‍लान हैं, इंटरमिटेंट फास्टिंग और कीटो डाइट। यह दोनों ही डाइट आपको तेजी से वजन घटाने का वादा करती हैं, लेकिन क्‍या यह आपकी सेहत के लिए पूरी तरह से सुरक्षित हैं, यह एक सोचने का विषय है। हालांकि, कीटो डाइट और इंटरमिटेंट फास्टिंग दोनों को वजन घटाने का एक प्रभावी तरीका माना जाता है। लेकिन इस नए शोध में शोधकर्ताओं ने इन दोनों को हृदय स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होने का दावा किया है। आइए यहां इस लेख में जानें कि ये नया शोध इन दोनों ट्रेंडी डाइट के बारे में क्‍या खुलासा करता है।   

कीटो डाइट और इंटरमिटेंट फास्टिंग का स्‍वास्‍थ्‍य पर प्रभाव 

क्या कीटो डाइट और इंटरमिटेंट फास्टिंग सुरक्षित हैं? यह हम सबके लिए एक बड़ा सवाल है। हम इन दोनों को अप्रभावी नहीं कह रहे हैं क्योंकि वे वजन घटाने के मामले में आपको अच्‍छा परिणाम देते हैं। लेकिन हाल में हुए एक नए शोध में कीटो डाइट और इंटरमिटेंट फास्टिंग को आपकी सेहत के लिए सुरक्षित नहीं माना गया है। हाल में शोधकर्ताओं ने पाया है कि ये दोनों आपके दिल के लिए सुरक्षित नहीं हैं। वजन घटाने की ये दो लोकप्रिय डाइट प्‍लान आशाजनक लग सकती हैं, लेकिन ये कुछ स्वास्थ्य जोखिमों के साथ आती हैं। इसके विपरीत, मेडिटेरियन डाइट और प्‍लांट बेस्‍ड और संपूर्ण भोजन खाने से आपका हृदय स्वास्थ्य अच्छा रहता है। 

इसे भी पढ़ें: स्लीपिंग पैटर्न से पता लग सकता है अल्‍जाइमर रोग की संभावना का अनुमान, शोधकर्ताओं ने किया खुलासा

Weight Loss Diet

रिसर्च

इस नए अध्ययन के सह-लेखक और एंड्रयू ज्यूमैन, एमडी और कार्डियोवास्कुलर प्रीवेंशन और राष्ट्रीय यहूदी स्वास्थ्य कल्याण के निदेशक कहते हैं, “ सायकलिकल कीटो डाइट और इंटरमिटेंट फास्टिंग जैसी डाइट , सोशल और पॉपुलर मीडिया दावों, वादों और चेतावनियों से भर गया है। यह आपके स्वास्थ्य के लिए सबसे असत्यापित और हानिकारक है। "

शोधकर्ताओं ने कहा, "स्वास्थ्य विशेषज्ञों द्वारा सुझाए गए डाइट, जैसे कि प्‍लांड बेस्‍ड और मेडिटेरियन डाइट का सुरक्षित और प्रभावकारिता के लिए बड़े पैमाने पर अध्ययन किया गया है और इन्‍होंने हृदय स्वास्थ्य में सुधार के लिए विशेष रूप से प्रदर्शन किया है।" 

कीटो डाइट और हृदय रोग का खतरा

कीटो डाइट, लो कार्ब और हाई फैट वाली एक डाइट है। यह डाइट आपको केटोसिस की स्थिति में डालता है जहां आपका शरीर कार्बोहाइड्रेट से वंचित हो जाता है। ऐसे में शरीर एनर्जी रिलीज करले के लिए फैट को बर्न करना शुरू कर देता है। यह फैट बर्न करके आपके वजन को कम करने में मदद करता है। यदि आप हाई फैट डाइट वाले हैं और उसमें आप में से बहुत से लोग सैचुरेटेड फैट या अनहेल्‍दी फैट का बहुत अधिक सेवन करते हैं। जिससे कि दिल में लिपिड का स्तर बढ़ जाता है, जो हृदय रोगों के खतरे को और बढ़ा देता है। इसके अलावा, अधिक समय तक कीटो डाइट पर रहले से आपको आर्टरी से जुड़ी समस्‍या और समय से पहले मृत्यु का खतरा भी हो सकता है। 

इसे भी पढ़ें: क्‍या सचमुच ब्‍लड प्रेशर की दवा बढ़ा सकती है कैंसर का खतरा? जानें इससे जुड़े मिथक और सच्‍चाई : शोध

Keto Diet And Intermittent Fasting Side Eefects

इंटरमिटेंट फास्टिंग और हृदय रोग का खतरा 

इंटरमिटेंट फास्टिंग से वैसे तो आपको कई फायदे भी मिलते हैं, लेकिन इस नए अध्‍ययन में शोधकर्ताओं के अनुसार इसके कुछ नुकसान भी हैं। समय-प्रतिबंधित भोजन यानि इंटरमिटेंट फास्टिंग आपकी भूख को प्रेरित करती या बढ़ाती है, जो अधिक भोजन यानि ओवरईटिंग का कारण बनता है।

शोधकर्ताओं के अनुसार, "इंटरमिटेंट फास्टिंग के संभावित जोखिमों में आगे के अध्ययन की आवश्यकता होती है,। लेकिन शोधकर्ताओं का मानना है कि इंटरमिटेंट फास्टिंग विशेष रूप से डायबिटीज  रोगियों के लिए उनके डॉक्‍टर और डाय‍टीशियन की सलाह के साथ कोशिश करना महत्वपूर्ण है। जिससे कि उनकी बीमारी और जोखिम को नियंत्रित किया जाए। 

इस प्रकार एक सीमित या कम समय के लिए इंटरमिटेंट फास्टिंग और कीटो डाइट आपके वजन को घटाने में प्रभावी हो सकती हैं। लेकिन लंबे समय तक इन डाइट प्‍लान के साथ रहना आपके हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को जोखिम में डाल सकता है। इसलिए आपको इस बारे में सर्तक रहने की जरूरत है। 

Read More Article On Health News In Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK