• shareIcon

देश के आम बजट 2016 मे स्वास्थ्य सुविधाएं

लेटेस्ट By Aditi Singh , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Feb 29, 2016
देश के आम बजट 2016  मे स्वास्थ्य सुविधाएं

देश में पेश हुए आम बजट में वित्त मंत्री अरूण जेटली ने आम जनता के लिए कई स्वास्थ्य संबंधी योजनाओं की घोषणा की है। इस बारे में विस्तार से जानने के लिए ये खबर पढ़े।

भारतीय संसद  में आम बजट पेश करते हुए वित्त मंत्री अरूण जेटली ने स्वास्थ्‍य के क्षेत्र में विशेष प्रावधानों की घोषणा । वित्त मंत्री ने संसद में कहा कि सरकार सभी वर्ग के लोगों को स्वास्थ्‍य सेवा मुहैया कराने के लिए संकल्पित है।


जेटली ने देश में गुर्दे की बीमारियों के शिकार लोगों की बढती संख्या को देखते हुए सरकार ने ‘राष्ट्रीय डायलिसिस सेवा कार्यक्रम' की शुरुआत करने का प्रस्ताव रखा है जिसके तहत सभी जिला अस्पतालों में डायसिलिस सेवाएं मुहैया काराई जायेंगी।वर्ष 2016-17 का बजट प्रस्ताव पेश करते हुए जेटली ने कहा, ‘भारत में प्रति वर्ष गुर्दे की बीमारी के अंतिम चरण में पहुंच चुके 2.2 लाख नये रोगियों की बढोत्तरी हो रही है। इसके परिणाम स्वरुप 3.4 करोड डायलिसिस सत्रों की अतिरिक्त मांग बढ गयी है।


इसके साथ ही जेटली ने कहा कि प्रति परिवार एक लाख रुपये का बीमा कवर प्रदान करने के लिए एक नयी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना शुरू की जा रही है।60 साल से उपर के लोगों को इस योजना में 30,000 रुपये का अतिरिक्त लाभ दिया जायेगा। उच्चस्तरीय दवाएं उपलब्ध कराने के लिए प्रधानमंत्री जन औषधि योजना के तहत 3,500 मेडिकर स्टोर खोले जाएंगे।


गरीब और आर्थिक रूप से कमजोर परिवारों के गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों के इलाज के लिए सरकार एक नयी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना शुरू करेगी जिसमें प्रति परिवार एक लाख रुपये तक का स्वास्थ्य कवर प्रदान किया जायेगा। इस प्रस्तावित योजना के तहत ऐसे परिवार के 60 साल से अधिक आयु वाले बीमार लोगों को 30 हजार रुपये का अतिरिक्त टॉप अप पैकेज दिया जायेगा।

 

Image Source-Getty

Read More Article on Health News in Hindi.

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।