आयुर्वेद में शरीर की स्वेलिंग और वेट लॉस में मददगार ये 1 ड्रिंक

आयुर्वेद में शरीर की स्वेलिंग और वेट लॉस में मददगार ये 1 ड्रिंक

गर्मियों के मौसम में हर समय कुछ ठंडा पीना का मन करता है। ऐसे में आप लस्सी या फिर छाछ के साथ नींबू पानी पी लेते हैं। स्वस्थ रहने के लिए आयुर्वेद में कई रोगों के इलाज में विभिन्न प्रकार के आहार, जड़ी-बूटियों व औषध द्रव्यों में जो सबसे श्रेष्ठ है उनक

गर्मियों के मौसम में हर समय कुछ ठंडा पीना का मन करता है। ऐसे में आप लस्सी या फिर छाछ के साथ नींबू पानी पी लेते हैं। स्वस्थ रहने के लिए आयुर्वेद में कई रोगों के इलाज में विभिन्न प्रकार के आहार, जड़ी-बूटियों व औषध द्रव्यों में जो सबसे श्रेष्ठ है उनके बारे में जानकारी दी गई है। जानते हैं इनके बारे में।

ayurveda lassi

डायबिटीज़ में ये 1 चीज है काफी फायदेमंद 

डायबिटीज़ में हल्दी अधिक श्रेष्ठ मानी गई है। ऐसे ही भैंस का दूध नींद लाने में श्रेष्ठ है। वात की समस्या को दूर करने के लिए तेल, पित्त को शांत करने के लिए घी व कफ दूर करने के लिए शहद उत्तम आहार माना गया है। सूजन, बवासीर व बढ़ते वजन में छाछ को सबसे अच्छा मानते हैं। साथ ही जौ पाचनक्रिया दुरुस्त कर कब्ज में राहत देता है। सही मात्रा में यूरिन न आने की स्थिति में गन्ने का रस पीना चाहि। जिस तरह नमक को अन्न में स्वाद बढ़ाने के लिए उत्तम माना है वैसे ही शरीर के किसी हिस्से से खून बह रहा हो तो उसे रोकने व सूजन दूर करने में बकरी का दूध श्रेष्ठ है। गाय का दूध व घी बढ़ते उम्र के प्रभाव को कम कर रोगों से मुक्त रखता है।

इसे भी पढ़ेंः इम्यूनिटी को रातों-रात बढ़ाना चाहते हैं, तो पीएं सिर्फ ये ‘1’ हर्बल-टी 

छाछ है वेट लॉस के लिए बेस्ट

बुखार की स्थिति में रोग प्रतिरोधक क्षमता घट जाती है व पाचन क्रिया के धीमा होने पर ठोस आहार के बजाय दलिया-खिचड़ी खाने की सलाह देते हैं। थकावट दूर करने के लिए स्नान करना सबसे उत्तम फलदायी है। दांतों को मजबूत बनाने के लिए तेल को मुंह में थोड़ी देर रखकर हिलाना (ऑयल पुलिंग) अच्छा उपाय है। शरीर को ऊर्जावान बनाने के लिए पसीना आना जरूरी है। इसके लिए व्यायाम सबसे जरूरी है। आयुर्वेद के अनुसार भोजन शरीर को तभी लगता है जब भूख के अनुसार खाद्य पदार्थ खाए जाएं। ये पेट की अग्नि शांत कर पाचनक्षमता मजबूत करते हैं। 

इसे भी पढ़ेंः 2 आयुर्वेदिक हर्बल वॉटर, जो आपको अंदर से करे हील

वहीं अगर आप अपना वजन कम करना चाहते हैं और जिस व्यक्ति की बॉडी में ब्लोटिंग की परेशानी रहती है, वह अगर आपनी डाइट में छाछ लेता है, तो इससे उसका काफी फायदा होगा। 

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Ayurveda Related Articles In Hindi 

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।