Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

डायबिटीज में धूप की क्‍यों होती है जरूरत

डायबिटीज़
By Pooja Sinha , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Nov 02, 2011
डायबिटीज में धूप की क्‍यों होती है जरूरत

न सिर्फ धूप से मिलने वाले विटामिन डी बल्कि धूप की कमी के कारण लाखों लोगों के टाइप-2 डायबिटीज की चपेट में आने का खतरा है। लेकिन अधिक समय धूप में बिताने से आप स्वास्थ जीवन जी सकते हैं। आइए जानें मधुमेह रोगियों के लिए धूप जरूरी क्यों हैं।

Quick Bites
  • विटामिन डी की कमी से मधुमेह का खतरा।
  • अधिक समय धूप में रहने से मिलता है स्वस्थ जीवन।
  • डायबिटीज से लड़ऩे में सूर्य किरणों कारगर होती है।
  • अन्‍य बीमारियों को बढ़ने से भी रोक सकते हैं।

धूप के फायदों के बारे में कौन नहीं जानता। धूप के स्नान और सुबह की हल्की धूप में रोजाना आधे घंटे बैठने से आप कई बीमारियों को होने से न सिर्फ रोक सकते हैं बल्कि बीमारियों को बढ़ने से भी रोक सकते हैं। विटामिन डी की कमी से मधुमेह टाइप 1, ऑस्टियोपोरोसिस, ह्रदय रोग, कैंसर जैसी गंभीर बीमारियों के होने की आशंका दुगुनी हो जाती है। विटामिन डी की कमी खासतौर पर मधुमेह रोगों में वृद्धि करती है। जरूरत से कम भोजन खाने से भी विटामिन की कमी हो जाती है। लेकिन आप इस कमी को आसानी से पूरा कर सकते हैं। अधिक समय धूप में बिताने से आप स्वास्थ जीवन जी सकते हैं। आइए जानें मधुमेह रोगियों के लिए धूप जरूरी क्यों हैं।

diabetes in hindi
क्‍या कहते हैं शोध

न सिर्फ धूप से मिलने वाले विटामिन डी बल्कि धूप की कमी के कारण लाखों लोगों के टाइप-2 डायबिटीज की चपेट में आने का खतरा है। हाल ही में हुए शोधों में भी ये साबित हो चुका है कि जिन लोगों के शरीर में विटामिन-डी की पर्याप्त मात्रा होती है उनके टाइप-2 डायबिटीज का शिकार होने की संभावना काफी कम हो जाती है। क्योंकि टाइप-2 डायबिटीज से लड़ऩे में सूर्य किरणों यानी धूप से प्राप्त विटामिन डी काफी कारगर होती है।

मधुमेह और धूप

यह तो सभी जानते हैं कि विटामिन डी का एक अच्छा स्रोत्र है सूर्य का प्रकाश। सूर्य का प्रकाश त्वचा में विटामिन डी का उत्पादन बढ़ा देता है। विटामिन डी की कमी जहां कई रोगों को बढ़ाती है, वही विटामिन डी प्रचूर मात्रा में लेने से मधुमेह जैसी कई बीमारियों को कम किया जा सकता है।

sun rays in hindi

पुराने से पुराना मधुमेह रोग भी ठीक   

सूर्य के प्रकाश से पाएं जाने वाले विटामिन डी से पुराने से पुराना मधुमेह रोग भी ठीक होने लगता है। धूप का स्नान और धूप में व्यायाम इत्यादि को इसीलिए महत्ता दी जाती है जिससे कि विटामिन डी की कमी को बिना किसी अतिरिक्त मेहनत के पूरा किया जा सके। जो लोग, खासकर मधुमेह रोगी धूप में नहीं निकलते या फिर धूप से बचाव के लिए छतरी, चश्मा या इत्यादि चीजों का संरक्षण लेते हैं उनमें अकसर विटामिन डी की कमी हो जाती है।

    
डॉक्टर्स डायबिटीज रोगियों को डायबिटीज कम करने और डायबिटीज को बढ़ने से रोकने के लिए व्यायाम, टहलने और अन्य शारीरिक क्रियाओं के अलावा सुबह की धूप में टहलने, व्यायाम करने और धूप स्नान करने की सलाह भी देते हैं। यह तो आप जान ही गए हैं मधुमेह रोगियों के लिए धूप कितनी जरूरी है। अब आप भी धूप में काले होने के डर के बजाय खुद को मधुमेह जैसी गंभीर बीमारी से बचाने के लिए प्रतिदिन धूप सेकें।

Image Source : Getty
Read More Articles on Diabetes in Hindi

Written by
Pooja Sinha
Source: ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभागNov 02, 2011

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK