Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

टेक्स्ट नेक: कैसे स्मार्ट फोन पहुंचा रहा है आपकी रीढ़ को नुकसान

एक्सरसाइज और फिटनेस
By Rahul Sharma , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jan 29, 2015
टेक्स्ट नेक: कैसे स्मार्ट फोन पहुंचा रहा है आपकी रीढ़ को नुकसान

अधिक टेक्सिट‌िंग करने से शरीर को जो मुद्रा होती है उससे रीढ़ की हड्डी के प्राकृतिक आकार को नुकसान पहुंचता है। इससे सर्वाइकल स्पाइन पर तनाव बढ़ता है और स्पाइनल समस्याएं होती हैं।

Quick Bites
  • डीन धीवर नामक एक अमेरिकी चिरोप्रैक्टर ने गढ़ा 'टेक्स्ट नेक' शब्द।
  • टेक्स्ट नेक आपके स्वास्थ्य को कई प्रकार से प्रभावित करता है।  
  • न्यू यॉर्क स्पाइन एंड रिहेब मेडिसिन में हुए एक शोध के परिणाम।
  • टेक्स्ट नेक से संबंधित समस्याओं से बचना पूरी तरह संभव है।

जहां एक ओर तकनीकी उपकरणों ने हमारी जिंदगी को बेहद आसान बनाया है, इनका बहुत ज्यादा इस्तेमाल हमारे जीवन के लिए अपरिहार्य भी बन गया है। इनके ज्यादा और गलत तरीके से इस्तेमाल करने से गर्दन में दर्द की समस्या हो सकती है, जिसे टेक्स्ट नेक भी कहा जाता है। तो चलिये जानें कि टेक्स्ट नेक क्या है? यह आपके स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करता है? और इसे कैसे रोका जा सकता है?

टेक्स्ट नेक क्या है?

डीन धीवर नामक एक अमेरिकी चिरोप्रैक्टर (chiropractor)  ने पहली बार 'टेक्स्ट नेक' शब्द को गढ़ा। डीन धीवर ने इसे शब्द को किसी इंसान कुछ द्वारा इलेक्ट्रिक डिवाइस, जैसे स्मार्टफोन, टैबलेट या ई-रीडर पर अधिक समय तक समय बिताने के कारण उनकी रीढ़ की हड्डी को बार-बार हुई स्ट्रेस इंजरी का वर्णन करने के लिए बनाया। हालंकि यह अपेक्षाकृत एक नई स्वास्थ्य की स्थिति है, यह पहले से ही लाखों लोगों को प्रभावित कर रही है और एक प्रमुख वैश्विक चिंता का विषय है।

 

Smartphone Is Affecting Your Spine in Hindi

 

टेक्स्ट नेक आपके स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करता है?

अधिक टेक्सिट‌िंग करने से शरीर को जो मुद्रा होती है उससे रीढ़ की हड्डी के प्राकृतिक आकार को नुकसान पहुंचता है। इससे सर्वाइकल स्पाइन पर तनाव बढ़ता है और स्पाइनल समस्याएं होती हैं।

दरअसल मानव सिर का वजन कुछ 10 या 12 पाउंड होता है। हालांकि न्यू यॉर्क स्पाइन एंड रिहेब मेडिसिन में हुए एक शोध में पाया गया कि जब गर्दन आगे झुकती है तो सर्वाइकल स्पाइन पर वज़न बढ़ जाता है। यदि कोई व्यक्ति 15˚ के कोण पर आगे की ओर झुकता है तो रीढ़ की हड्डी पर 27 पाउंड वजन पड़ता है, 30˚ के कोण पर वजन 40 पाउंड तथा 60˚ के कोण पर 60 पाउंड पड़ता है। 60 पाउंड लगभग इतना होता है कि आठ साल के किसी बच्चे  को रोज कुछ घंटों के लिये आपकी पर लटका दिया जाए।  


औसतन, लोग प्रतिदिन उनके फोन पर दो से चार घंटे खर्च करते हैं। यही कारण है साल भर में 700 से 1,400 घंटे तक आपकी सर्वाइकल स्पाइन पर तनाव बना रहता है। किशोरों को इससे सबसे अधिक नुकसान होता है, क्योंकि वे इस स्थिति में प्रति वर्ष अतिरिक्त 5000 घंटे खर्च करते हैं।

Smartphone Is Affecting Your Spine in Hindi

 

टेक्स्ट नेक अपने स्वास्थ्य को निम्न प्रकार से प्रभावित कर सकता है -

 

  • गर्दन में दर्द और सूजन।
  • सर्वाइकल स्पाइन में वक्रता।
  • गर्दन, कंधे, पीठ, हाथ, कलाई और उंगलियों में दर्द होना।
  • सिर में दर्द या कमर व गर्दन में झुनझुनी होना।
  • दीर्घकालिक समस्याएं जैसे, मांसपेशियों में तनाव, पिन्च्ट नर्व्स, हर्नियेटेड डिस्क, जल्दी गठिया, स्पाइन डिजेनरेशन (रीड़ की हड्डी अधःपतन) या मिसलिग्न्मेंट (misalignment), मांसपेशियों की क्षति, तंत्रिका क्षति तथा गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल समस्याएं।


टेक्स्ट नेक से कैसे बचें

टेक्स्ट नेक से संबंधित समस्याओं से बचने के लिए बिना अपनी गर्दन को आगे झुकाए अपनी आंखों से डिवाइस को देखने के लिए यह एक बिंदु बनाएं। और जितनी बार हो सके ग र्दन की एक्सरसाइज करें, इसके लिये अपनी गर्दन को पहले दक्षिणावर्त और फिर घड़ी की विपरीत दिशा में चारों ओर घुमाएं, फिर बाएं से दाएं मोड़ें और सिर को ऊपर-नीचे करें।



Read More Articles On Healthy Leaving In Hindi.

Written by
Rahul Sharma
Source: ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभागJan 29, 2015

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK