शरीर में सोरायसिस (Psoriasis) इंफेक्शन होने पर इसे फैलने से कैसे रोकें? एक्सपर्ट से जानें लक्षण और बचाव

Psoriasis : सोरायसिस एक त्वचा विकार है। जिसका समय रहते इलाज करना बहुत जरूरी है। अन्यथा इससे स्थिति बिगड़ सकती है। जानें सोरायसिस को फैलने से कैसे रोके

Anju Rawat
विविधWritten by: Anju RawatPublished at: Jun 21, 2021
Updated at: Jun 21, 2021
शरीर में सोरायसिस (Psoriasis) इंफेक्शन होने पर इसे फैलने से कैसे रोकें? एक्सपर्ट से जानें लक्षण और बचाव

सोरायसिस एक त्वचा संबंधी ऑटोइम्यून और क्रॉनिक बीमारी है (Psoriasis)। सोरायसिस एक छोटी फुंसी या चकते से शुरू होता है और कई गंभीर बीमारियों को पैदा कर सकता है। इससे डायबिटीज, मोटापा और हृदय रोग होने की संभावना भी बढ़ जाती है। इसमें त्वचा पर लाल और खुजलीदार चकते या पपड़ीदार पैच बनते हैं। यह आमतौर पर घुटनों, कोहनियों, स्कैल्प, हाथों और गर्दन पर होता है। एक सामान्य त्वचा रोग नहीं है। सोरायसिस कभी-कभी बढ़ जाता है, तो कभी इसमें आराम मिल जाता है।

सोरायसिस कई तरह के होते हैं। इसमें चकत्ते वाला सोरायसिस (Plaque Psoriasis), नाखून सोरायसिस (Nails Psoriasis), गुट्टाट सोरायसिस (Guttate Psoriasis), इन्वर्स सोरायसिस (Inverse Psoriasis), पस्टुलर सोरायसिस (Pustular Psoriasis),एरिथ्रोडार्मिक सोरायसिस (Erythrodermic Psoriasis) और सोरियाटिक गठिया (Psoriatic Arthritis) शामिल हैं। 

psoriasis Symptoms

सोरायसिस के लक्षण (Psoriasis Symptoms)

सोरायसिस के लक्षण अन्य त्वचा रोगों की तरह ही होते हैं। ऐसे में व्यक्ति समझ नहीं पाता है कि यह सामान्य त्वचा रोग है या फिर सोरायसिस। साथ ही सोरायसिस के लक्षण हर व्यक्ति में अलग-अलग हो सकते हैं। सोरायसिस के कुछ सामान्य लक्षणों में शामिल हैं-

  • त्वचा पर लाल मोटे चकते
  • छोटे स्केलिंग स्पॉट
  • सूखी और फटी त्वचा, जिसमें खुजली हो सकती है और खून आ सकता है।
  • जोड़ों में सूजन और दर्द होना

सोरायसिस के कारण (Psoriasis Causes)

इम्यून सिस्टम : सोरायसिस (psoriasis) एक ऑटोइम्यून स्थिति है। इस स्थिति में शरीर खुद पर ही हमला करता है। इसमें सफेद रक्त कोशिकाएं त्वचा की कोशिकाओं पर हमला करती हैं। जिससे त्वचा पर लाल चकत्ते और सूजन होने लगते हैं। इसके अलावा त्वचा में रक्त वाहिकाओं का बढ़ना भी सोरायसिस का कारण हो सकता है।

आनुवंशिक : कुछ लोगों को ऐसे जीन विरासत में मिलते हैं, जो सोरायसिस विकसित करने की अधिक संभावना रखते हैं। अगर आपके परिवार में कोई त्वचा रोग से पीड़ित है, तो आपको सोरायसिस होने का खतरा अधिक हो सकता है। हालांकि सोरायसिस और आनुवंशिक प्रवृत्ति वाले लोगों का प्रतिशत बहुत कम है।

सोरायसिस को फैलने से कैसे रोकें (How Can Stop Psoriasis from Spreading)

आकाश हेल्थकेयर की त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉक्टर पूजा चोपड़ा बताती हैं कि सोरायसिस को फैलने से बचाने के लिए इसका उपचार बहुत जरूरी है। बिना उपचार के इसे रोकना बहुत मुश्किल है। सही तरीके से उपचार ही इसे फैलने से रोक सकता है। सोरायसिस में उतार-चढ़ाव होते रहते हैं। यह बदलते मौसम में लोगों में ज्यादा देखने को मिलता है। अगर हर मौसम में त्वचा की देखभाल की जाए, त्वचा को अच्छे से मॉयश्चराइज किया जाए तो इस समस्या को काफी हद तक रोका जा सकता है। डॉक्टर पूजा चोपड़ा बताती हैं कि इस समस्या को ठीक करने के लिए त्वचा रोग विशेषज्ञ की ही जरूरत पड़ती है। लोगों में इसके लक्षण भी अलग-अलग हो सकते हैं। 

psoriasis Prevention Tips

  • इसके उपचार में सामयिक स्टेरॉयड और विटामिन डी क्रीम शामिल होता है। इसके अलावा लाइट थेरेपी से भी इसे रोका जा सकता है।
  • अगर आप शराब पीते हैं या धूम्रपान करते हैं, तो इन्हें पूरी तरह से बंद कर दें। इनके सेवन से सिरोयसिस तेजी से फैलता है।
  • वजन को कंट्रोल करके आप इस समस्या को फैलने से रोक सकते हैं। 
  • त्वचा की अच्छी तरह देखभाल से भी आप काफी हद तक सिरोयसिस को फैलने से रोक सकते हैं। अच्छी हाइजीन को अपनाकर आप इस समस्या को फैलने से बचा सकते हैं। 
  • तनाव से सिरोयसिस बढ़ता है, ऐसे में आपको हमेशा तनाव और चिंता मुक्त रहना चाहिए।
  • नियमित रूप से योगा और ध्यान लगाकर आप इसे फैलने से बचा सकते हैं।
  • अपनी रूटीन लाइफ में अच्छा और हेल्दी खाना शामिल करें। जंक और फास्ट फूड का बिल्कुल सेवन न करें। साथ ही ज्यादा तला-भुना और प्रोसेस्ड फूड से भी दूरी बनाकर रखें।

डॉक्टर पूजा चोपड़ा कहती हैं कि अगर आपको सोरायसिस के थोड़े भी लक्षण नजर आते हैं। यानी शरीर में लाल खुजलीदार चकते या पपड़ी नजर आती है, तो तुरंत त्वचा रोग विशेषज्ञ से संपर्क करें। इससे आपकी समस्या को फैलने से रोका जा सकता है।

Read More Articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK