अपनी खूबसूरत आंखों के लिए इस्तेमाल करें होम मेड काजल, यामी गौतम से जानें घर पर काजल बनाने का तरीका

Updated at: Sep 14, 2020
अपनी खूबसूरत आंखों के लिए इस्तेमाल करें होम मेड काजल, यामी गौतम से जानें घर पर काजल बनाने का तरीका

ये होम मेड काजल आंखों को साफ करता है और ऊपरी व निचली पलकों के नीचे फंसे मेकअप अवशेष को हटाता है। आइए जानते हैं इसे बनाने का तरीका।

Pallavi Kumari
फैशन और सौंदर्यWritten by: Pallavi KumariPublished at: Sep 14, 2020

काजल और सुरमा किसी की भी आंखों की खूबसूरती बढ़ा देती है। हमारे यहां दादी-नानी के जमाने ये ही काजल और सुरमा घरों में बनाया जाता है। हाल ही में अभिनेत्री यामी गौतम ने भी अपनी नानी को काजल बनाने के लिए याद किया। उन्होंने अपने इंस्टाग्राम पर काजल बनाने के पारंपरिक तरीके को साझा करते हुए बताया कि कैसे गर्मियों की छुट्टियों में जब वो अपनी नानी से मिलने जाया करती थीं, तो वो घर पर ही काजल तैयार करके उन्हें लगाया करतीं। पर क्या आप जानते हैं कि काजल घर पर कैसे बनाया जाता है और क्यों ये बाजार से खरीदे काजल की तुलना में आंखों के लिए ज्यादा फायदेमंद है?

insidekajalforeyes

घर पर काजल बनाने का तरीका (How to make Kajal)

होममेड काजल को प्राकृतिक उत्पादों का उपयोग करके बनाया जाता है। कैस्टर ऑयल, घी, कांसे के बर्तन और कपूर का उपयोग करके आंखों के लिए आयुर्वेदिक काजल बनाया जा सकता है। कई जगह काजल बनाने के लिए बादाम का उपयोग भी किया जाता है। दोनों ही मामलों में, काजल बिलकुल ही नेचुरल होता है और आंखों पर कई लाभकारी प्रभाव डालता है। यामी गौतम ने घी से काजल बनाने का तरीका बताया है। ये काजल आपकी आंखों को ठंडा और उन्हें शआंत करता। यह आपकी आंखों में मौजूद नमक को भी साफ करता है और काले घेरे को कम करने में भी मदद करता है। तो, इस होममेड काजल बनाने के लिए

  • -2 समान आकार के छोटे कटोरे और किसी भी आकार की स्टील प्लेट ले लें।
  • - फिर एक मिट्टी के तेल के दीपक का उपयोग करते हुए, एक चम्मच घी डालकर उसे जला लें।
  • - एक बार जब आप दीपक जलाते हैं, तो इसे फर्श पर 2 समान आकार के छोटे कटोरे के साथ रखें, जो कि दीपक के दोनों ओर रखा गया हो। 
  • -सुनिश्चित करें कि आपने स्टील की प्लेट में घी लगाया हो।
  • -अब प्लेट को दोनों कटोरे के ऊपर रखें और इसे कम से कम 30-45 मिनट के लिए वहीं बैठने दें। स्टील की प्लेट में घी डालने से आग जल जाएगी और कालिख बनी रहेगी। इस कालिख को एक छोटे एयरटाइट कंटेनर में स्थानांतरित करें।
  • - इस तरह तैयार हो गई आपकी काजल। अब इस काजल को ठंडी जगह पर स्टोर करें और आवश्यकता पड़ने पर इसका उपयोग करें।
insideorganickajal

इसे भी पढ़ें : पुरुष हो या महिलाएं चेहरे की सुंदरता बढ़ाती है जॉलाइन, डॉ. गीता ग्रेवाल से जानें फेस फैट कम करने के तरीके

होम मेड काजल लगाने के फायदे

1.विटामिन ई से भरपूर

आप चाहें, तो घी की जगह अरंडी के तेल से भी काजल बना सकते हैं। दरअसल अरंडी का तेल विटामिन ई का सबसे समृद्ध रूप है। यह आंखों को ठीक करने में मदद करता है, पलकों को घना और काला बनाता है। ऑर्गेनिक काजल का एक मुख्य लाभ यह है कि यह आंखों को तनाव से राहत देता है। यह आंखों की थकान से छुटकारा पाने में मदद करता है और आंखों को स्वस्थ रखता है।

2.एंटी-बैक्टीरियल

ये काजल आंखों को बाहरी और किसी भी मेकअप संक्रमण से मुक्त रखने में मदद करता है। यह लेंस और आंख की मांसपेशियों को मजबूत करने और आराम करने में भी मदद करता है। इसलिए, यह आंखों की रोशनी में सुधार करने के लिए भी फायदेमंद है।

insidealmondsoil

3.आंखों को आराम देता है

कांस्य और चांदी का उपयोग आमतौर पर आयुर्वेदिक काजल बनाने में किया जाता है और इसे ये और लाभकारी बना देता है। ये जहां आंख की एलर्जी को ठीक करने में भी मदद करते हैं, वहीं ये अधिक रगड़ के कारण चिड़चिड़ी और सूजी हुई रक्त वाहिकाओं को आराम देने का काम करते हैं और इस प्रकार आंखों की संपूर्ण कार्यप्रणाली को बेहतर बनाने में मदद करते हैं।

इसे भी पढ़ें : Grooming Hacks: टाइम की कमी का नहीं पड़ेगा आपकी ब्‍यूटी पर कोई असर अगर मालूम हैं ये ईजी ग्रूमिंग हैक्‍स

4.आंखों को ठंडा करता है

आप काजल बनाने के लिए कपूर का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।यह आंखों को ठंडक प्रदान करने में मदद करता है और आंखों को तनाव से राहत देता है। यह आंखों में मामूली दर्द और लालिमा को कम करने में मदद करता है और इस तरह आंखों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है।

इन तमाम फायदों के अलावा घी एक अन्य घटक है, जिसका उपयोग आंखों के आस पास की मांसपेशियों को आराम पहुंचाता है। घी काले घेरों से कोम करता है और आंख के आसपास नमी बना कर झुर्रियों को कम करने में भी मदद करता है। इस प्रकार, आयुर्वेदिक काजल का उपयोग आंखों को संक्रमण से मुक्त रखता है और उन्हें साफ रखता है।

Read more articles on Fashion and Beauty in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK