स्किन में हाइड्रेशन बढ़ाने के 10 टिप्स, जिनसे कम होंगे त्वचा पर दिखने वाले बुढ़ापे के लक्षण

हाइड्रेट स्किन के लिए ये टिप्स आपकी काफी मदद कर सकते हैं। इन्हें अपनी स्किन केयर रूटीन में शामिल करें और अपनी खूबसूरती बढ़ाएं। 

Pallavi Kumari
त्‍वचा की देखभालReviewed by: डॉक्टर अजय राणा, डर्मेटोलॉजिस्ट एंड एस्थेटिक मेडिसीन फिजिशियन Published at: Jun 10, 2021Written by: Pallavi Kumari
Updated at: Jun 14, 2021
स्किन में हाइड्रेशन बढ़ाने के 10 टिप्स, जिनसे कम होंगे त्वचा पर दिखने वाले बुढ़ापे के लक्षण

गर्मी के दिनों में ज्यादातर लोगों की स्किन ड्राई और डिहाइड्रेटेड हो जाती है। ऐसे में त्वचा अंदर से बेजान और क्षतिग्रस्त नजर आती है। सबसे ज्यादा नुकसान कोलेजन (collagen)का होता है क्योंकि हाइड्रेशन की कमी से त्वचा में कोलेजन टूटने लगता है और झुर्रियां बढ़ने लगती है। इससे आप समय से पहले ही बूढ़े नजर आने लगते हैं। इसलिए अगर आपको समय से पहले बूढ़ा नहीं दिखना है और उम्र बढ़ने के साथ जवान नजर आना है, तो आपको अपनी त्वचा में हाइड्रेशन लेवल बढ़ाना होगा। पर प्रश्न ये है कि त्वचा में हाइड्रेशन कैसे बढ़ाएं (How To Hydrate Your Skin)? इसी बारे में हमने  सीनियर डर्मेटोलॉजिस्ट डॉ. अजय राणा (Dr. Ajay Rana)से बात की, जिन्होंने त्वचा में हाइड्रेशन लेवल को ठीक करने के लिए कई टिप्स दिए।  

Inside2hydratingskin

उम्र बढ़ने के साथ क्यों घटने लगता है आपका हाइड्रेशन लेवल?

डर्मेटोलॉजिस्ट डॉ. अजय राणा (Dr. Ajay Rana) की मानें, तो जैसे-जैसे हम बड़े होते जाते हैं, त्वचा के प्राकृतिक तेलों की कमी। ये कई कारणों से होता है, जिसमें सूरज की क्षति, मौसम, खराब स्किन केयर रूटीन और डाइट से जुड़ी कमियां शामिल हैं। इसका अलावा एक बड़ा कारण ये भी है कि उम्र बढ़ने के साथ सेल्स नवीनीकरण की क्षमता भी कम होती जाती है। हाइड्रेशन की कमी से त्वचा सूखी और खुरदरी हो जाती है। साथ ही उम्र बढ़ने के साथ हमारी हमारी त्वचा उतना नमी का उत्पादन नहीं करती और ना ही त्वचा को प्राकृतिक रूप से मॉइस्चराइज कर पाती है। 

उम्र बढ़ने के साथ त्वचा के हाइड्रेशन लेवल को कैसे ठीक करें- How To Hydrate Your Skin

1. सनस्क्रीन का प्रयोग करें 

उम्र बढ़ने के साथ त्वचा में हाइड्रेशन लेवल बढ़ाने के लिए  सनस्क्रीन का प्रयोग करें जिसमें 30 या इससे अधिक का सन प्रोटेक्शन फैक्टर (SPF) हो। ब्रॉड-स्पेक्ट्रम सनस्क्रीन यूवीए और यूवीबी किरणों से रक्षा कर सकता है। जब आप घर के बाहर जा रहे हों या घर के बाहर हैं, तो हर दो घंटे पर इसे लगाएं।

2.  फैटी एसिड को डाइट में बढ़ाएं

अपने आहार में आवश्यक फैटी एसिड जैसे ओमेगा -3 और ओमेगा -6 से भरपूर चीजों की मात्रा को बढ़ाएं। ये आपकी त्वचा के प्राकृतिक सुरक्षात्मक तेल हैं। ये त्वचा में कोलेजन को टूटने से रोकते हैं और झुर्रियों को कम करते हैं। इसके लिए  जैतून , कैनोला ऑयल, मैकेरल और अखरोट जैसा चीजों का सेवन करें। इसके अलावा ये आपकी त्वचा की बनावट को भी बेहतर बनाने में मदद करते हैं। 

3. डेड सेल्स की सफाई करते रहें

डेड सेल्स लंबे समय तक त्वचा में रहने से ये इसकी बनावट को अंदर से खराब करते हैं। इसलिए अपनी त्वचा को एक्सफोलियट करते रहें।  यह मृत त्वचा कोशिकाओं को हटाने में मदद करता है, जो है बढ़ती उम्र के साथ नमी की कमी का कारण बनता है। दरअसल, डेड स्किन से नमी प्रवेश नहीं कर पाती और रास्ते में ही रह जाती है।  एक सौम्य एक्सफोलिएटिंग स्क्रब या मास्क से त्वचा की गहराई से सफाई करें। त्वचा को फिर से हाइड्रेट करने के बाद सीधे मॉइस्चराइज करें।

4. ग्लाइकोलिक एसिड का इस्तेमाल करें

उम्र बढ़ने के साथ कोशिश करें कि ग्लाइकोलिक एसिड वाले मॉइश्चराइजर का इस्तेमाल करें। साथ ही पेट्रोलियम जेली जैसे कई उत्पाद जैसे वैसलीन, एलोवेरा और ग्लिसरीन आदि का इस्तेमाल करें। ये नमी को त्वचा में फंसा कर रखने और त्वचा की बनावट को कोमल बनाए रखने में मदद करते हैं।

इसे भी पढ़ें : गर्मियों के लिए स्पेशल मैंगो फेस मास्क और हेयर मास्क, डर्मेटोलॉजिस्ट से जानें फायदे और बनाने का तरीका

5. पानी से भरपूर चीजों का सेवन करें

त्वचा को हाइड्रेट करने का पहला कदम शरीर को हाइड्रेट करना है। कम से कम 8 गिलास पानी जरूर पिएं। ऐसे खाद्य पदार्थ खाएं जिनमें पानी की मात्रा अधिक हो। ये त्वचा के अंदर सेल्स और टिशूज में पानी की मात्रा को बढ़ाता है और उनके नवीनीकरण की क्षमता को बढ़ाता है।  ऐसे खाद्य पदार्थों में तरबूज, ककड़ी, शिमला मिर्च, जामुन, आड़ू, और बेरीज आदि शामिल हैं, जिन्हें आप भरपूर मात्रा में खा सकते हैं। आप इन्हें ब्रेकफास्ट में और स्नैक्स की तरह ले सकते हैं। 

Inside3foodandvegiesforskin

6. सॉफ्ट क्लींनजर का इस्तेमाल करें

 त्वचा के महत्वपूर्ण तेल को बनाए रखने के लिए नॉन प्रोसेस्ड, सोप फ्री क्लींजर का इस्तेमाल करें। ऐसा इसलिए क्योंकि हार्ड सोप त्वचा से इसकी नमी को छीन लेता है और इसे ड्राई बना देता है। इसलिए होम मेड या फिर किसी सॉफ्ट क्लींनजर का इस्तेमाल करें।

7. लंबे समय तक गर्म पानी से ना नहाएं

लंबे समय तक गर्म पानी से नहाने से आपकी त्वचा अपनी प्राकृतिक नमी खो देती है।  इससे त्वचा ड्राई हो जाती है और आगे चलकर इसमें आसानी से झुर्रियां पड़ने लगती हैं।  इसलिए लंबे समय नहाने से बचें और नहाने के बाद तौलिए का इस्तेमाल ऐसे करें कि तौलिया आपके शरीर का सारा पानी न सोख ले। 

8. हयालूरोनिक एसिड 

अपने स्किन केयर में हाइड्रेटिंग स्किनकेयर उत्पादों का उपयोग करें। ये उत्पाद त्वचा में प्रवेश कर, त्वचा को निर्जलित होने से बचा सकते हैं। इसके लिए ऐसे उत्पाद का इस्तेमाल करें जिनमें हयालूरोनिक एसिड और ग्लिसरीन होता है। वे त्वचा को हाइड्रेट करने में मदद करते हैं और इसकी लोच बनाए रखते हैं। इसमें जल-बाध्यकारी गुण होते हैं जो इसकी भरपाई कर सकते हैं । साथ ही ये त्वचा और उम्र बढ़ने के शुरुआती लक्षणों को भी रोकता है। ग्लिसरीन में हाइड्रेटिंग गुण होते हैं जो आपकी त्वचा को शुष्क होने से बचा सकते हैं। ये त्वचा की खुजली को भी दूर करते हैं। 

Inside1mist

इसे भी पढ़ें : बीयर के प्रयोग से दूर की जा सकती हैं स्किन से जुड़ी ये 4 समस्याएं, डॉक्टर से जानें इसे कैसे करें इस्तेमाल

9. फेस मास्क/शीट मास्क का प्रयोग करें

फेस मास्क/शीट मास्क हाइड्रेटिंग अवयवों से भरे होते हैं। यह त्वचा को मोटा और नम रखते हैं। यह महीन रेखाओं की उपस्थिति को भी कम कर सकते हैं और आपकी खूबसूरती बढ़ा सकते हैं। इसके अलावा ये काले घेरे को भी कम करने में मदद कर सकते हैं। 

10. विटामिन ए और बी 3 

त्वचा की बनावट को बनाए रखने के लिए ऐसे खाद्य पदार्थ खाएं जो विटामिन ए और बी 3 से भरपूर हों। ये समग्र त्वचा स्वास्थ्य में सुधार के लिए भी जरूरी हैं। ये इसके प्राकृतिक तेलों को बचाए रखने में भी मदद करते हैं। ये त्वचा को खुजली के कारण होने वाले चकत्ते को रोकते हैं।

इन सबके अलावा त्वचा में कोलेजन और इलास्टिन की मात्रा बढ़ाने की  भी कोशिश करें। साथ ही ऐसे फल और सब्जियों को खाएं जो त्वचा को हाइड्रेट कर सकें। तो, अपनी त्वचा को अंदर से हाइड्रेटे करें और अपनी खूबसूरती को खाने से बचाएं।

Read more articles on Skin-Care in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK