• shareIcon

    सर्दियों में ब्लड प्रेशर को सामान्य रखने के लिए आहार में ये चीजें शामिल करें

    उच्‍च रक्‍तचाप By Devendra Tiwari , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Feb 12, 2017
    सर्दियों में ब्लड प्रेशर को सामान्य रखने के लिए आहार में ये चीजें शामिल करें

    सर्दियों में दिल के मरीजों की मुसीबतें बढ़ जाती हैं, ऐसे में किस तरह का खानपान हो, जानने के लिए इस लेख को पढ़ें।

    मौसम बदलने के साथ कई समस्या‍एं होने लगती हैं। खासकर सर्दियों का मौसम कुछ लोगों के लिए बहुत बुरे अनुभव लेकर आता है। सांस के रोगियों के अलावा इस मौसम में सबसे बुरा हाल रक्तचाप की समस्या से जूझ रहे लोगों का होता है। इस मौसम में अगर किसी को उच्च रक्तचाप या निम्न रक्तचाप की समस्या हो रही है, तो विशेष ध्यान दें, क्योंकि इससे स्थिति बदतर हो सकती है और दिल का दौरा भी पड़ सकता है। लेकिन क्या आप जानते हैं आहार के जरिए इस मौसम में भी दिल को स्वस्थ रखा जा सकता है। इस लेख के द्वारा सर्दियों में दिल को दुरुस्त रखने वाले आहार के बारे में जानें।

    food

    सर्दियों में क्यों बदतर होती है समस्या

    ठंड जैसे-जैसे बढ़ती जाती है दिल के मरीजों के लिए मुसीबत बढ़ती जाती है। क्योंकि इस मौसम में शरीर से पसीना नहीं निकलता और नमक का स्तर बढ़ता जाता है, जिससे ब्लड प्रेशर अपने आप बढ़ जाता है। इस दौरान अगर दिल के रोगी एक्सरसाइज न करें, तो स्थिति और भी बदतर हो जाती है। इसके कारण ब्रेन स्ट्रोक का भी खतरा बढ़ता जाता है। धमनियों में सिकुड़न की वजह से रक्त का थक्का भी जम सकता है। इस मौसम में दिल के मरीजों को तैलीय और चिकनाई युक्त चीजों से परहेज करना चाहिए।

    उच्च रक्तचाप

    उच्च रक्तचाप के लक्षण शुरूआत में दिखाई नहीं देते हैं और जब दौरा पड़ता है, तब पता चलता है। इसलिए इसे साइलेंट किलर भी माना जाता है। यह दूसरी समस्याओं जैसे सीने में दर्द, दिखने में समस्या, चक्कर आना, सिरदर्द होना, आदि से भी संबंधित है। लेकिन इनके साथ उच्च रक्तचाप का संबंध हो जरूरी नहीं। सामान्यतया लोग हार्ट अटैक, किडनी फेल्योर, हॉर्ट फेल्योर पर ध्यान नहीं देते और धीरे-धीरे यह पैरों की नसों तक पहुंच जाता है।

    ब्लड प्रेशर जब 120 एमएम से ऊपर जाता है, तब व्यक्ति को हाई ब्लड प्रेशर की समस्या होती है। 120 से 140 एमएम तक ज्यादा नुकसानदेह नहीं होता। लेकिन जब यह 159 एमएम या इससे अधिक होता है तब हाइपरटेंशन कहलाता है। यह स्थिति खतरनाक हो सकती है, इसलिए समय पर इसे नियंत्रित करें। खानपान के साथ अपनी दिनचर्या भी बदलें।

    हाई ब्लड प्रेशर के लिए आहार

    उच्च रक्तचाप के मरीजों को सर्दी के मौसम में खानपान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है। अधिक नमक और सोडियम का प्रयोग नहीं करना चाहिए। आहार में ताजे फल, हरी पत्तेदार सब्जियां, साबुत अनाज और कम वसायुक्त आहार का सेवन करें। आप इसमें कोलेस्ट्रॉल रहित दूध भी पी सकते हैं। रेड मीट, मिठाइयां और शुगरयुक्त आहार का सेवन न करें।

    निम्न रक्तचाप

    ठंड के मौसम में लो ब्लड प्रेशर की समस्या और भी बदतर हो सकती है, क्योंकि ठंड बढ़ने के साथ नसों में रक्त का प्रवाह कम हो जाता है, जिसके कारण दिल, दिमाग और किडनी को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन नहीं मिल पाता है। निम्न ब्लड प्रेशर 80 एमएम से कम होने पर होता है। 60 और 50 एमएम या इससे नीचे ब्लड प्रेशर का स्तर होने पर हाइपरटेंशन की शिकायत हो जाती है। इससे दिल तक रक्त संचार ठीक से नहीं हो पाता और दिल का दौरा पड़ सकता है।

    निम्न रक्तचाप के लिए आहार

    लो ब्लड प्रेशर की शिकायत से ग्रस्त लोगों को भी खानपान पर विशेष ध्यान देना चाहिए। अलग-अलग तरह के फलों, सब्जियों और कम वसायुक्त मीट के साथ मछली का भी सेवन कर सकते हैं। खाने को एक बार में खाने की बजाय थोड़ा-थोड़ा करके खाएं। आलू, चावल और ब्रेड का सेवन करने से बचें।

    ब्लेड प्रेशर की समस्या होने पर सर्दियों में नियमित रूप से रक्तचाप की जांच करें और हल्की-सी भी शिकायत होने पर चिकित्सक से जरूर सलाह लें।

     

    ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

    Image Source- Shutterstock

    Read More Blood Pressure Related Articles In Hindi

     
    Disclaimer:

    इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।