ब्लीच इस्तेमाल करते वक्त पहनें मास्क, चश्मे व ग्लव्स, जानें ब्लीच से सफाई करते वक्त किन बातों का रखें ध्यान?

Updated at: Jul 14, 2020
ब्लीच इस्तेमाल करते वक्त पहनें मास्क, चश्मे व ग्लव्स, जानें ब्लीच से सफाई करते वक्त किन बातों का रखें ध्यान?

जैसा कि हम जानते है ब्लीच सफाई के लिए एक स्ट्रॉन्ग एजेंट है। आज हम जानेंगे ब्लीच का प्रयोग करते वक्त किन किन चीजों से बचना चाहिए। 

सम्‍पादकीय विभाग
विविधWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Jul 14, 2020

ब्लीच एक क्लींजिंग एजेंट है और इसको हम अक्सर साफ सफाई करने में प्रयोग करते हैं। परंतु ब्लीच बहुत ही स्ट्रॉन्ग होता है। इसे हम कपड़े धोने में प्रयोग करते हैं। यदि कहीं पर खून, उल्टी आदि लग जाती है तो उसे ब्लीच की सहायता से साफ किया का सकता है। दरअसल ब्लीच से सफाई करना खतरनाक या जहरीला नहीं है ।यह एक सस्ता साधन है ,जिद्दी से जिद्दी मैल के धब्बों को हटाने के लिए। यह लाइट के स्विच, दरवाजे के हैंडल्स इत्यादि को साफ करने में भी बहुत लाभदायक है। लेकिन इसका प्रयोग करते समय हमें कुछ बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए आइए जानते हैं वह कौन सी हैं।

insidebleach

ब्लीच को अमोनिया के साथ न मिलाएं  ( Dos and Don'ts of Cleaning with Bleach)

जब आप ब्लीच को अमोनिया में मिला देते है तो ,क्लोरोमाइन गैस बनती है। जोकि बहुत जहरीली होती है। इससे आपकी आंख, गले, नाक व फेफड़ों पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इससे आपको सांस लेने में भी तकलीफ हो सकती है।

कपड़े धोते वक़्त ज्यादा ब्लीच का प्रयोग न करें  (Don't Put Too Much in Your Laundry)

ब्लीच को डायरेक्ट अपने कपड़ों पर न छिड़कें और जितना बताया गया हो उससे अधिक इसका प्रयोग न करें। ब्लीच दागों को मिटाने में सहायक है। परंतु आप इसे सीधे (direct) किसी चीज पर इस्तेमाल नहीं कर सकती हैं। ब्लीच ऊन, सिल्क व चमड़े पर प्रयोग नहीं की जा सकती। 

इसे भी पढ़ें : होम क्‍लीनिंग प्रॉडक्‍ट्स बढ़ा सकते हैं बच्‍चों में एलर्जी और अस्‍थमा का खतरा, अध्‍ययन में हुआ खुलासा

ब्लीच को अपनी मोबाइल पर प्रयोग न करें (Don't Clean Your Phone With Bleach)

ब्लीच आपके फोन की फिंगर प्रिंट कोटिंग को नष्ट कर सकता है। इसकी बजाए आप एल्कोहल का प्रयोग कर सकती है। पर ध्यान रखें कि आप किसी भी चीज का प्रयोग फोन के इयरफोन व चार्जिंग स्लॉट के आसपास न करें।

insidecovid-19cleaniness

स्वयं को बचाएं ( Do Protect Yourself)

ब्लीच यदि स्ट्रॉन्ग हो तो वह आपकी स्किन को भी जला सकती है। इसका असर आपकी आंखो व फेफड़ों पर भी पड़ सकता है। इसलिए आप जब भी ब्लीच का प्रयोग करते है तो मास्क, चश्मे व ग्लव्स का प्रयोग करें। आपको अपने पैरों व हाथों को भी पूरी तरह से कवर कर लेना चाहिए। किसी खराब से कपड़ों को पहने। 

ब्लीच को एसिड्स के साथ न मिलाएं  (Don't Mix With Acids)

यदि आप ब्लीच को एसिड के साथ मिलते हैं तो क्लोरीन गैस बनती है। यदि आप इस गैस को बहुत देर तक इन्हेल करते हैं तो यह खतरनाक साबित हो सकती है। इसकी वजह से आपको खांसी, छींक आदि हो सकती हैं। आपको आंखो व नाक में जलन महसूस हो सकती है।

मेंटल पर प्रयोग न करे  (Don't Use It on Metal)

ब्लीच करोसिव होता है। यह किसी भी मेटल को काट नहीं सकता। इसे कॉपर, स्टेनलेस स्टील, एल्युमिनियम व अन्य मेटल्स पर प्रयोग न करे। और ब्लीच का प्रयोग जंग लगने से बचाने के लिए फैब्रिक पर न करें। अन्यथा वह दाग परमानेंट हो जाएगा। 

इसे भी पढ़ें : कोरोनावायरस से बचने के लिए ऐसे करें अपने घरों की सफाई, जानें किन चीजों को साफ करना है बेहद जरूरी

खिड़की व दरवाजों को खुले रखें (Do Open Windows and Doors)

यदि आपको एलर्जी या सांस लेने में तकलीफ होती है तो आपको ब्लीच का प्रयोग करते वक़्त बहुत सावधान रहने की आवश्कता है। इससे आपको अस्थमा जैसी बीमारी हो सकती है। खिड़की व दरवाजों को खुला रखने से आपके घर में हवा आती है ।जिसकी वजह से आपको ज्यादा तकलीफ नहीं होगी।

पुरानी बोतल का प्रयोग न करें (Don't Use an Old Bottle)

प्योर ब्लीच 3 से 4 महीनों के लिए ठीक रहता है। ब्लीच वाली बॉटल को धूप व गरमी से बचाके रखें। एक साल के बाद बॉटल को बदल लें। उसकी एक्सपायरिंग डेट का ध्यान रखे। 

खाद्य पदार्थो पर ब्लीच का प्रयोग न करें  (Don't Use It on Food)

ब्लीच को पानी के साथ मिला कर आप उससे खाने वाले बर्तनों को साफ करने के लिए प्रयोग कर सकते हैं पर आप खाद्य पदार्थो जैसे फल या सब्जियों पर ब्लीच का प्रयोग बिल्कुल न करें। आप उन्हें सादे पानी से धो सकती हैं। 

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK