• shareIcon

महिलायें वजन बढ़ने की समस्‍या से कैसे निपटें

वज़न प्रबंधन By Nachiketa Sharma , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Aug 12, 2013
महिलायें वजन बढ़ने की समस्‍या से कैसे निपटें

महिलाओं में कई कारणों से वजन बढ़ता है, मोटापा बढ़ने पर इन तरीकों को आजमाने से वजन नियंत्रित हो सकता है।

महिलाओं में कई कारणों से वजन बढ़ता है। गर्भावस्‍था और मीनोपॉज के समय वजन बढ़ना सामान्‍य माना जाता है। महिलाओं के लिए वजन बढ़ने की समस्‍या से दूर रहना मुश्किल हो जाता है।

जागिंग करती महिला यदि महिला का वजन ज्‍यादा है तो उसे कई शारीरिक समस्‍यायें होने लगती हैं। ओवरवेट महिलाओं को दिल की बीमारी होने की ज्‍यादा संभावना होती है। यदि बचपन में ही वजन ज्‍यादा है तो बाद में माहवारी अनियमित हो सकती है, इसके अलावा यदि मोटापा बना रहे तो बांझपन की शिकायत हो सकती है, ऐसा पॉलीसिस्टिक ओवरी और हार्मोनल असंतुलन के कारण होता है।

इतना ही नही वजन ज्‍यादा होने का असर महिलाओं के दिमाग पर भी पड़ता है और वह इसके कारण हमेशा तनाव में रहती हैं। इसके साथ वजन ज्‍यादा होने के कारण पैरों की एडियों का फटना, जोड़ों में दर्द रहना और त्‍वचा पर स्‍ट्रेच मार्क्‍स हो जाना आम बात है। आइए हम आपको बताते हैं कि वजन बढ़ने की समस्‍या से कैसे बचें।


मोटापे की समस्‍या से कैसे रहें दूर

असमय खाना
महिलाओं में वजन बढ़ने का सबसे बड़ा कारण कभी भी कुछ भी खा लेना, जिसके कारण मोटापा बढ़ता है। देर रात खाने से परहेज कीजिए। सोने से दो घंटा पहले खाइए, इससे खाना अच्‍छे से पचता है और वजन नही बढ़ता।


खाने की आदत
महिलायें खाने को लेकर ज्‍यादा सजग नही होती हैं जिसके कारण मोटापे का शिकार होती हैं। महिलाओं का तला हुआ खाना ज्‍यादा अच्‍छा लगता है जिसमें फैट ज्‍यादा होता है। इसलिए मोटापे की समस्‍या से बचने के लिए ऐसे खाद्य-पदार्थों से परहेज कीजिए जिसमें वसा ज्‍यादा हो।


बासी न खायें
'जैपनीज वुमन डोंट गेट ओल्ड ऐंड फैट..' नामक पुस्‍तक के अनुसार, 'भारत में अमेरिका और ब्रिटेन की नकल पर प्रिज‌र्व्ड फूड और फ्रिज में रखे भोजन को खाने का चलन इन दिनों बड़ी तेजी से बढ़ा है।' यही बासी खाना मोटापे के साथ कई बीमारियों का कारण बनता है। बासी खाने में टॉक्सिन की मात्रा बढ़ जाती है। उसे खाने के बाद भारीपन महसूस होता है। इससे हेपेटाइटिस, कॉन्सिटिपेशन, स्किन प्रॉब्लम होती है। इसलिए हमेशा ताजा खाना ही खायें।


सलाद खायें
खाने से पहले सलाद खायें, इससे मोटापे की समस्‍या नही होती है। सलाद खाने से आपके अंदर अतिरिक्‍त कैलोरी नही जाती है। सलाद खाने से हमारे शरीर को सारे पौष्टिक तत्व मिलते हैं। यह पेट तो भरता ही है ज्यादा खाना खाने से भी बचाता है। सलाद में बाकी खाने के मुकाबले तेल का प्रयोग नहीं होता है। पत्ता गोभी, टमाटर, प्याज में नींबू और चाट मसाला डालकर सलाद बनाया जा सकता है जो कि पौष्टिक है और मोटापे से बचाता है।

 

ताजे फल और हरी सब्जियां
सीजनल सब्जियों और ताजे फल सब्जियों का सेवन करने से मोटापे की समस्‍या नही होती है। बींस, गाजर, पालक, प्याज, टमाटर आदि को अपने खाने में शामिल कीजिए। सेब, संतरा जैसे फलों का सेवन‍ नियमित कीजिए।

 

नियमित व्‍यायाम
खाने पर ध्‍यान देने के अलावा नियमित रूप से व्‍यायाम भी करना चाहिए। प्रतिदिन एक्‍सरसाइज करने से मोटापा बढ़ेगा नही और आपका शरीर फिट भी रहेगा। व्‍यायाम करने से दिल और हड्डियां मजबूत होती हैं, रक्‍तचाप नियंत्रण में रहता है और बीमारियां नही होती हैं। इसलिए सुबह-सुबह व्‍यायाम करना बिलकुल न भूलें।



इसके अलावा पानी खूब पिएं और जरूरत के हिसाब से प्रोटीन से भरपूर चीजें जैसे दाल, नट्स और सीड्स को खाने में शामिल करना न भूलें। यदि आपका वजन बढ़ गया है तो ज्‍यादा चिंतित होने की बजाय कारगर उपाय आजमाइए।

 

 

Read More Articles on Weight Management In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK