• shareIcon

कुछ आम और खास लोग, जिन्होंने दिया कैंसर को मुह तोड़ जवाब

कैंसर By Rahul Sharma , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jan 15, 2015
कुछ आम और खास लोग, जिन्होंने दिया कैंसर को मुह तोड़ जवाब

चाहे कोई आम आदमी या फिर मशहूर हस्ती, ये बीमारी किसी में भेद नहीं करती। बहुत से खास लोग भी इस बीमारी की चपेट में आए, इससे लड़े,... न सिर्फ लड़े बल्कि डट कर लड़े और आज कैंसर से पीड़ित लाखों लोगों के लिए प्रेरणा बने।

चाहे कोई आम आदमी या फिर मशहूर हस्ती, ये बीमारी किसी में भेद नहीं करती। बहुत से खास लोग भी इस बीमारी की चपेट में आए, इससे लड़े, न सिर्फ लड़े बल्कि डट कर लड़े। और आज कैंसर से पीड़ित लाखों लोगों के लिए प्रेरणा बने। तो चलिये आज ऐसे ही कुछ कमाल के कैंसर सरवाइवर्स की बात करते हैं, जिन्होंने न सिर्फ अपनी ज़िंदादिली और मजबूत इच्छा शक्ति के बल पर इस गंभीर बीमारी को हराया बल्कि इससे उबरने के बाद सफलता के नये आयाम हासिल किये।

दक्षिण अफ्रीकी के सुप्रसिद्ध नेता नेल्सन मंडेला का 83 वर्ष की उम्र में प्रोस्ट्रेट कैंसर के लिए इलाज किया गया था। मंडेला को रेडियेशन थेरेपी का सात सप्ताह का कोर्स दिया गया था। जिसके बाद उसकी यह बीमारी ठीक भी हुई। हालांकि उनमें कैंसर के लक्षण दोबारा भी देखए गये, लेकिन उन्होंने इससे हार नहीं मानी और इससे डट कर लड़े।

 

Lance Armstromg In Hindi

 

लांस आर्मस्ट्रांग

साइक्लिंग लेजेंड लांस आर्मस्ट्रांग को 1996 में टेस्टिकुलर कैंसर का पता चला था। उनके कैंसर का पता छोड़ी देरी से चल पाया था। पता चलने तक कैंसर उनके उसके फेफड़े, पेट और मस्तिष्क में फैल चुका था तथा उसके बचने की संभावना 40 प्रतिशत तक कम हो गई थी। लेकिन अपने शुभचिंतकों के मजबूत समर्थन और अपनी अटल इच्छा शक्ति के चलते आर्मस्ट्रांग ने अपने जीवन को बदल कर रख दिया और कैंसर के खिलाफ अपनी लड़ाई में विजयी हुए। आर्मस्ट्रांग से 1997 में पूरे विश्व में कैंसर रोगियों और उनके परिवारों की सहायता के लिए 'लांस आर्मस्ट्रांग फाउंडेशन' की शुरुआत की।

लीजा रे

बतौर मॉडल 1987 में करियर की शुरूआत करने वाली लीजा रे ने साल 2001 में फिल्म ‘कसूर’ से बॉलीवुड में एंट्री ली। उसके बाद उन्होंने कुछ हॉलीवुड फिल्मों में भी काम किया। साल 2009 में टोरंटो इंटरनेशनल फिल्म फेस्टिवल में उन्होंने सबको बताया कि वो मल्टीपल मिलोमा नाम के लाइलाज कैंसर से पीड़ित हैं। लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी, वो लड़ती रही और अपने ब्लॉग के जरिए लोगों से बीमारी से जुड़े अपने अनुभवों को बांटना शुरू किया। साल 2010 में स्टेम सेल ट्रांसप्लांट के बाद लीजा को कैंसर से मुक्ति मिली। लीजा ने कहा था, ‘मैं इस बीमारी से लड़ने के लिए तैयार थी। मेरा एकमात्र लक्ष्य था कि मैं पूरी तरह से ठीक हो जाऊं’।

 

Nelson Mandala

 

युवराज सिंह

युवराज सिंह कैंसर से बचने वाले लोगों की सूची के लिए नवीनतम सेलिब्रिटी हैं। फेफड़ों के कैंसर से पीड़ित होने की ख़बर पता चलने के बाद बावजूद सदमे में जाने के यूवी ने खुद की शक्ति को इकट्ठा किया और बीमारी के खिलाफ कृतसंकल्प होकर लड़े। उन्होंने कहा कि पूरे इलाज के दौरान उन्होंने पूर्व कैंसर पीड़ित लांस आर्मस्ट्रांग से प्रेरणा ली। घर ठीक होकर वापस आने के बाद भी युवराज ने कैंसर से पीड़ित लोगों को प्रेरित करने की इच्छा व्यक्त की और इस पर एक किताब भी लिखी।

कौन बनेगा करोड़पति, आठ की विजेता मेघा पाटिल

रियलिटी शो "कौन बनेगा करोड़पति" के आठवें सीजन में मुंबई की मेघा पाटिल ने कैंसर को हराकर पहली महिला करोड़पति बनने का खिताब अपने नाम किया। मेघा ने शो में 14 सवालों के सही जबाए दिए थे। 2007 में मेघा को ब्रेस्ट कैंसर का पता चला था। उस वक्त उनकी हालत काफी नाजुक थी। डॉक्टरों ने कह दिया था कि वो 6 महीने से ज्यादा नहीं जी पाएंगी। लेकिन मेघा की पॉजीटिव सोच और जिजीविषा ने उन्हें कैंसर से लड़ने की ताकत दी। और कैंसर जैसी गंभीर बीमारी को हराकर पहले तो मेघा केबीसी की हॉट सीट तक पहुंची। मेघा ने पूरे 1 करोड़ रूपए जीते। मेघा का कहना हैं कि केबीसी में जीती रकम से वो अपना मेडिकल लोन चुकाएंगी।


इसके अलावा अभिनेत्री क्रिस्टीना एप्पलगेट, हॉलीवुड फिल्म ‘सेक्स एंड दी सिटी’ में अभिनय कर चुकी सिंथिया निक्सन 'हैरी पॉटर' फिल्म में ‌प्रोफेसर मैक'गोनेगल का किरदार निभा चुकी 76 वर्षीय स्‍मिथ, हॉलीवुड की अभिनेत्री किम नोवाक मशहूर रॉकस्टार शेरिल तथा ओलिंपिक स्केटर डोरोथी हामिल को भी ब्रेस्ट कैंसर हुआ था। जिसे इन सभी ने प्रबल इच्छा शक्ति से हराया और जीवन को एक नया रूप दिया।  


कैंसर से लड़कर जीवित रहने के लिए जब मशहूर हस्तियां पूरे जज्बे के साथ मजबूत लड़ाई करती हैं, तो आम लोगों को भी सफलतापूर्वक इस बीमारी को हार सकने की इच्छा शक्ति और प्रेरणा मिलती है।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK