Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

अंडर वाटर स्पिनिंग मतलब फिट और कूल रहने का बेहतर उपाय

एक्सरसाइज और फिटनेस
By Meera Roy , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / May 12, 2017
अंडर वाटर स्पिनिंग मतलब फिट और कूल रहने का बेहतर उपाय

गर्मी में कूल और फिट रहने का बेस्ट तरीका है - अंडर वाटर स्पिनिंग। गर्मी में अगर पसीना निकलने के कारण अधिक एक्सरसाइज नहीं कर पाते हैं तो अंडर वाटर स्पिनिंग एक्सरसाइज करें। ये नए तरह का एक्सरसाइड है जो आपको फिट रखेगा।

Quick Bites
  • एक्वा साइक्लिंग पानी के अंदर करते हैं।
  • यह घुटनों के दर्द से छुटकारा दिलाता है।
  • यह एक तरह की फुल बॉडी एक्सरसाइज है।

फिटनसे वर्ल्ड में इन दिनों आमूलचूल परिवर्तन हो रहे हैं। दो अलग-अलग किस्म की एक्सरसाइजों को मिलाकर एक नए एक्सरसाइज को इजाद किया जा रहा है। ये एक्सरसाइज न सिर्फ नए होते हैं बल्कि अद्भुत भी होते हैं। इसी तरह का एक्सरसाइज है एक्वा साइक्लिंग। इसमें पानी और स्पीनिंग एक साथ शामिल हैं। जो लोग फिटनेस फ्रीक हैं, उन्हें ये नए तरीके का एक्सरसाइज खासा अपनी ओर आकर्षित कर सकता है। इसके असंख्य शारीरिक लाभ भी हैं। जानिए, इनके बारे में।

इसे भी पढ़ें- हमेशा झुक कर बैठते हैं? तो जरूर करें ये 3 एक्‍सरसाइज

एक्वा साइक्लिंग क्या है

एक्वा साइक्लिंग का जन्म इटली में एथलेटिक रिहैबिलिटेशन के तौर पर शुरू हुआ। एक फिजिकल थैरेपिस्ट ने इस तथ्य की खोज की है कि जो एथलीट हैं, यदि उनके घुटनों में दर्द हो तो वे पानी के अंदर स्पिन कर सकते हैं। मतलब यह कि वे एक्वा साइक्लिंग कर सकते हैं। इससे उनके घुटनों के दर्द में काफी आराम आता है। लेकिन अब धीरे-धीरे इस तकनीक को लोगों ने खासा पसंद किया और फिटनेस फ्रीकों के बीस इसने अपनी खास पहचान बना ली। पानी के अंदर मौजूद जो साइकिल रखी जाती है, वह वास्तव में स्टेशरनी बाइक्स होती हैं जो कि स्वीमिंग पूल के अंदर चार रखी जाती है। लेकिन जो इसे करता है, वह इसके ऊपर बैठता है जिससे उसके कमर का हिस्सा पानी के अंदर रहता है और बाकी हिस्सा पानी के ऊपर। यह एक तरह की फुल बॉडी एक्सरसाइज है।

कैलोरी बर्न करता है

अंडर वाटर स्पिनिंग करना हमारे शरीर के लिए बहुत लाभकारी है। विशेषज्ञों के मुताबिक इसे महज एक घंटा करने से हमारे शरीर से 800 कैलोरी बर्न होती है। इतना ही इसकी मदद से आप सेलुलाइट यानी पांव में मौजूद वसा को भी कम कर सकती है। मतलब यह कि इस एक्सरसाइज के जरिए आप बहुत तेजी से अपना वजन घटा सकती हैं और आकर्षक लुक पा सकती हैं।

 

जोड़ों के दर्द से मुक्ति

एक्वा साइक्लिंग वास्तव में पानी के अंदर किए जाने वाले एक्सरसाइजों से मिलने वाले सभी लाभों पहुंचाता है। यदि आपके पांव में दर्द है तो आप चाहें तो एक्वा साइक्लिंग कर सकती हैं। इससे न सिर्फ आपके शरीर का वजन कम होता है बल्कि जोड़ों पर पड़ने वाले वजन को भी एक्वा साइक्लिंग के जरिए कम किया जा सकता है। इससे जोड़ों के दर्द में आराम आता है। इस एक्सरसाइज की एक खासियत यह भी है कि इसे करते हुए आप पानी के अंदर हल्का महसूस करती हैं जो कि आपको एक्सरसाइज करने के लिए बाध्य करता है। इससे मसल्स बेहतर होती है, हड्डियां मजबूत होती हैं, आपके स्ट्रेस को भी यह कम करता है।

इसे भी पढ़ें- हाथों का फैट दूर करना है तो करें ये व्‍यायाम

एक्सरसाइज हैंगओवर नहीं होता

अगर आप पारंपरिक स्पिन क्लासेस में जाते हैं, तो वहां आपको हैंगओवर होने का खतरा रहता है। यही नहीं मसल्स में दर्द भी होता है और अगले दिन पूरा शरीर टूटन से भर जाता है। जबकि एक्वा साइक्लिंग करने से ऐसा नहीं होता। जो लोग एक्वा साइक्लिंग करते हैं, वे अगले 24 घंटे तक दर्द से दूर रहते हैं। वास्तव में पानी का आपके शरीर पर बहुत गहरा असर पड़ता है।

 

शांतिपूर्ण माहौल

जो लोग शांतिप्रिय हैं और रिलैक्स माहौल में एक्सरसाइज करना चाहते हैं, उनके लिए एक्वा साक्लिंग पर्फेक्ट वर्कआउट है। दरअसल ये पानी के अंदर करने के कारण आप न सिर्फ प्रकृति से जुड़े होते हैं बल्कि इसमें एक खास किस्म की शांति और रिलैक्स माहौल भी हासिल होता है। यह पारंपरिक एक्सरसाइज की क्लासों से बिल्कुल अलग है।

 

अन्य लाभ

नियमित एक्वा साइक्लिंग करने से और भी कई लाभ होते हैं जैसे कि रक्त प्रवाह बेहतर होता है, सांस लेने में आई रुकावट खत्म होती है, शरीर को ऊर्जा से भरता है। इसके अलावा चूंकि यह एक्सरसाइज प्रकृति के करीब यानी पानी के अंदर रहकर की जाती है, इसलिए सभी तरह का तनाव खत्म हो जाता है, मसल्स रिलैक्स होते हैं और नींद भी अच्छी आती है।

 

Read more articles on Sports and fitness in Hindi.

Written by
Meera Roy
Source: ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभागMay 12, 2017

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK