आंख मूंदकर ना करें मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल, आपके चेहरे और बालों को हो भी सकता है नुकसान

Updated at: Jun 09, 2020
आंख मूंदकर ना करें मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल, आपके चेहरे और बालों को हो भी सकता है नुकसान

गर्मियों में लोग अपने स्किनकेयर और बालों की देखभाल के लिए खास तौर पर मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल करते हैं। पर इसके कुछ नुकसान भी हैं।

Pallavi Kumari
फैशन और सौंदर्यWritten by: Pallavi KumariPublished at: Jun 09, 2020

गर्मी में लोग अक्सर अपने स्किनकेयर और बालों की देखभाल के लिए विभिन्न प्रकार के फेस मास्क और हेयर मास्क का इस्तेमाल कर रहे हैं। मुल्तानी मिट्टी इन्हीं तमाम सौंदर्य उपचारों का एक मुख्य घटक यानी कि इनग्रेडियंट है। मुल्तानी मिट्टी का सही इस्तेमाल (How To Use Multani Mitti) लोग मुख्य तौर त्वचा और बालों को ठंडक पहुंचाने और आराम देने के लिए करते हैं। मुल्तानी मिट्टी का उपयोग ऑयली स्किन वाले लोग भी बहुत करते हैं। यह त्वचा से तेल को अवशोषित करता है, आपके छिद्रों को खोल देता है और आपको स्किन को साफ कर देता है। पर मुल्तानी मिट्टी के इस खूबी का नुकसान (multani mitti can harm your skin) भी है। वहीं कर किसी को अपने बालों पर भी मुल्तानी मिट्टी का उपयोग नहीं करना चाहिए। तो आइए जानते हैं मुल्तानी मिट्टी के नुकसान क्या हैं?

insidemultanimitti

सूखी त्वचा के लिए मुल्तानी मिट्टी अच्छा नहीं है

अगर आपकी सूखी त्वचा गर्मी के कारण लाल और रैशेज से भरी हुई है और आप अपने चेहरे पर ठंडा मुल्तानी मिट्टी का पैक लगाने की सोच रहे हैं, तो थोड़ा ठहर जाएं। दरअसल ड्राई स्किन वाले लोगों को मुल्तानी मिट्टी लगाने से नुकसान हो सकता है। दरअसल मुल्तानी मिट्टी को ड्राई त्वचा पर लगाने से ये पोर्स से नेचुरल तेल को भी सोखने की क्षमता रखता है। जबकि ड्राई स्किन में पहले से ही तेल की मात्रा कम होती है। इस तरह ये आपके स्किन को और खराब और रूखा बना देता है। इससे स्किन फटी हुई और अजीब नजर आ सकती है। ऐसे में जरूरी ये है कि अगर आप मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल कर रहे हैं, तो कैलामाइन लोशन और एलोवेरा जेल को इसमें मिला कर इस्तेमाल करें।

insidedryskin

इसे भी पढ़ें : शरीर की गंदगी निकालने, निखार और चमक पाने के लिए मिट्टी से करें अपना फुल बॉडी डिटॉक्स, जानें 3 स्टेप्स और फायदे

आपकी संवेदनशील त्वचा और संवेदनशील हो सकता है

अगर आपकी त्वचा आसानी से फट जाती है, तो आपके चेहरे पर मुल्तानी मिटटी लगाना एक अच्छा आइडिया नहीं है। ये आपके स्किन के प्राकृतिक पीएच के संतुलन को बिगाड़ सकता है। चूंकि इस मिट्टी में बड़े पैमाने पर अवशोषण की क्षमता होती है, इसलिए यह त्वचा में जलन पैदा करती है और त्वचा को और लाल और रैशेज भरा बना सकती है। इसलिए अगर आपकी त्वचा सेंसिटिव है, तो आपको मुल्तानी मिट्टी का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए।

मुल्तानी मिट्टी का प्रयोग आपको झुर्रियां दे सकता है

अगर आप मानते हैं कि तैलीय त्वचा पर झुर्रियां नहीं पड़ती हैं, तो आप गलत सोच रहे हैं। वास्तव में, जितना अधिक आप मुल्तानी मिट्टी जैसे सूखने वाले उत्पादों का उपयोग करते हैं, उतना ही आपका चेहरा सूखता जाता है और इसके फाइन लाइन और झुर्रियां बढ़ने लगती है। दरअसल जब मुल्तानी मिट्टी त्वचा पर सूख जाती है, तो यह आपके चेहरे को बहुत कठिन बना देता है और आप अपनी त्वचा पर एक कसाव महसूस करते हैं। यह आपकी त्वचा का खिंचाव पैदा करता है। एक बार मुल्तानी मिट्टी का उपयोग करने के बाद कोई नुकसान नहीं होगा, लेकिन अगर आप एक नियमित रूप से इसके उपयोगकर्ता हैं और तो ये आपके चेहरे पर झुर्रियां का कारण बन सकता है।

insidemultanimittiforhaircare

इसे भी पढ़ें : बालों को घना और मुलायम बनाती है ये खास मिट्टी, ऐेसे करें प्रयोग

इससे आपके बाल टूट कर दोमुंहे हो सकते हैं

ऑयली स्कैल्प लोग ज्यादातर मुल्तामी मिट्टी का इस्तेमाल करते हैं। पर आप ध्यान रखे कि स्कैल्प पर भी इसका असर चेहरे जैसा ही होगा। ये आपके स्कैल्प के पोर्स को खोल देगा, जिसके कारण अधिक बाल टूट सकते हैं। वहीं जब आप इसे लगाते हैं, तो इसे लगाने और धोने में एक रगड़ पैदा हो सकती है। इससे बाल टूट कर दोमुंहे हो सकते हैं। अगर आपके बाल मजबूत हैं, तो यह समस्या नहीं होगी पर आपके बाल झड़ते भी हैं और ऑयली भी हैं, तो इसका इस्तेमाल बिलकुल न करें।

Read more articles on Fashion-Beauty in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK