कान से वैक्स निकालने के लिए कॉटन वाले ईयर बड का इस्तेमाल करें बंद, डॉक्टर से जानें इससे होने वाले नुकसान

Updated at: May 17, 2021
कान से वैक्स निकालने के लिए कॉटन वाले ईयर बड का इस्तेमाल करें बंद, डॉक्टर से जानें इससे होने वाले नुकसान

क्या आप भी करते हैं ईयरबड से कान की सफाई? डॉक्टर से जानिए क्या घर में कान की सफाई करना है सही?

Kishori Mishra
अन्य़ बीमारियांWritten by: Kishori MishraPublished at: May 17, 2021

माचिस की तीली या फिर अन्य नुकीली चीजों से कान की सफाई नहीं करनी चाहिए। इस बात से हम सभी अच्छी तरह से वाकिफ हैं। लेकिन क्या आपको पता है कि कॉटन ईयरबड के इस्तेाल से भी कानों को कई तरह के नुकसान हो सकते हैं? जी हां, आपने सही पढ़ा। कॉटन ईयरबड से आपके कान को कई तरह की समस्या हो सकती है। ऐसे में अगर आप कॉटन ईयरबड यूज कर रहे हैं, तो आज से इसका इस्तेमाल बंद कर दें। कॉटन ईयरबड और इससे जुड़े सवालों को लेकर हमने नोएडा स्थित हीलिंग केयर ईएनटी क्लीनिक के ईएनटी स्पेशलिस्ट (एमबीबीएस एमएस) डॉ अंकुर गुप्ता से बातचीत की। चलिए जानते हैं क्या कहते हैं डॉक्टर अंकुर गुप्ता?

कान में कॉटन ईयरबड इस्तेमाल करने के नुकसान (Cotton Earbuds Side Effects)

डॉक्टर अंकुर गुप्ता का कहना है कि कान में ईयरबड यूज करने से बहुत सारे नुकसान हो सकते हैं। इससे कान के बाहरी एरिया यानि एक्सटर्नल ऑडिटरी कैनल में स्ट्रॉमा की समस्या हो सकती है। इस ट्रॉमा की वजह से कान में अन्य तरह की परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। डॉक्टर का कहना है कि हमें पता नहीं होता है कि हमारा एक्सटर्नल ऑडिटरी कैनल कैसे बना हुआ है, ऐसे में जब हम ईयरबड का इस्तेमाल करते हैं, तो इस पर प्रेशर डाल देते हैं। जिससे कई तरह की परेशानियां हो सकती हैं। ट्रॉमा की वजह से कई अन्य समस्या हो सकती हैं। जैसे-

कान में दर्द और पस निकलना

डॉक्टर का कहना है कि ईयरबड के इस्तेमाल से कान में ट्रॉमा हो सकता है, जिसके कारण कान में दर्द और पस निकलने की समस्या देखी गई है। ऐसे में कान की सफाई खुद से करने की कोशिश न करें।  

इसे भी पढ़ें - क्या बार-बार गरारे करने से गले को हो सकता है नुकसान? एक्सपर्ट से जानें दिन में कितनी बार करें गरारा

ईयर वैक्स ब्लॉकेज

कान में वैक्स की अधिकता के कारण ईयर वैक्स ब्लॉकेज की समस्या हो सकती है। ईयर वैक्स ब्लॉकेज की अधिकतर ऐसे लोगों को अधिक होती है, जो कान में नुकीली चीज या फिर कॉटन स्वैब का अधिक इस्तेमाल करते हैं। दरअसल, हमारे कान के बाहरी हिस्से पर वैक्स बनता है, लेकिन जब हम ईयरबड से वैक्स को निकालने की कोशिश करते हैं, तो यह वैक्स बाहर निकलने की बजाय अंदर की ओर चला जाता है। ऐसे में बार-बार ईयरबड के इस्तेमाल से ईयर वैक्स ब्लॉकेज की समस्या बढ़ सकती है।

पर्दे को पहुंचाते हैं नुकसान

डॉक्टर अंकुर गुप्ता बताते हैं कि ईयरबड का इस्तेमाल करते-करते कभी-कभी हम इतना अंदर चले जाते हैं कि कान के पर्दे तक को नुकसान पहुंचा देते हैं। इससे आपके कान के पर्दे फट भी सकते हैं। उदाहरण के तौर पर जिस समय आप कान में ईयरबड डाल रहे हैं, उस समय अचानक से किसी कारणवश आपके हाथ में झटका लग जाए, तो ऐसे में ईयरबड आपके पर्दे को नुकसान पहुंचा सकता है। इससे कान में दर्द होना, कान से आवाज आना, सुनाई न देना जैसी समस्याएं हो सकती हैं।

कान से खून आना

काफी अंदर तक ईयरबर्ड के इस्तेमाल से कान से खून भी आने लगता है। शायद यह समस्या कई बार आपके साथ भी हुई हो। कान में नुकीली चीज डालते-डालते उसमें खून निकल आया हो। कान से खून निकलना कान की क्षति की ओर इशारा करता है।

क्या कान में तेल डालना है सही? (Is it safe to put oil in ear?)

हम में से अधिकतर लोगों को लगता है कि कान में तेल डालने से वैक्स ऊपर आ जाता है, जिसे निकालने में आसानी हो जाती है। क्या इस बात में सच्चाई है? इस बारे में डॉक्टर अंकुर गुप्ता का कहना है कि कान में तेल डालने से आपको किसी तरह का कोई फायदा नहीं होता है। तेल कोई दवाई नहीं है, जिससे वैक्स फूलकर बाहर आ जाए। कान से वैक्स निकालने के लिए अलग से दवाइयां दी जाती हैं। हालांकि, ये पुराने नुस्खे हैं, जो काफी लंबे समय से चले आ रहे हैं। लेकिन इससे आपके कान को किसी तरह का कोई फायदा नहीं होता, बल्कि इससे नुकसान ही होता है। डॉक्टर का कहना है कि तेल डालने से कान में नमी हो जाती है, जिससे कान के अंदर फंगल इंफेक्शन का खतरा बढ़ता है। 

इसे भी पढ़ें - इन 10 बातों का रखेंगे ध्यान तो नहीं खराब होंगे आपके कान, सुनने की शक्ति पर नहीं पड़ेगा असर

क्या कान में तेल डालने से खुजली हो जाती है बंद?

हम में से शायद बहुत से लोगों ने कान में खुजली को दूर करने के लिए तेल का इस्तेमाल किया होगा। मैंने भी कई बार कान में खुजली को दूर करने के लिए तेल का इस्तेमाल किया है, लेकिन क्या डॉक्टर इस नुस्खे को बताते हैं कारगर? इस बारे में डॉक्टर अंकुर बताते हैं कि कान में तेल डालने से खुजली को भले ही आप कुछ समय के लिए दबा लें। लेकिन इससे अन्य समस्या हो सकती है। इसलिए कान में तेल डालने से बचें। कुछ लोगों को कान में तेल डालने दर्द हो सकता है। अगर आपके कान में ड्राईनेश की वजह से खुलजी हो रही है, तो तेल डालने के बजाय एंटी-सेप्टिक क्रीम, पेट्रोलियम जेली जैसी चीजों को कान के आसपास लगाएं। इससे खुजली की परेशानी को आप काफी हद तक कंट्रोल कर सकते हैं।

क्या ईयर कैंडलिंग थेरेपी से कर सकते हैं कान की सफाई? (Can ear candling therapy help with ear cleaning? )

डॉक्टर अंकुर गुप्ता इस बारे में बताते हैं कि आधुनिक समय में बहुत से लोग कैंडलिंग थैरेपी का इस्तेमाल करने लगे हैं। लेकिन इससे कान की सफाई नहीं होती है। बल्कि इससे आपका कान डैमेज हो सकता है। कान की सफाई के लिए इस तह के उपायों को अपनाने से बेहतर है किसी अच्छे डॉक्टर से संपर्क करना।

बार-बार डॉक्टर के पास जाकर कान की सफाई कराना है जरूरी?

डॉक्टर कहते हैं कि बार-बार कान की सफाई कराना जरूरी नहीं है। क्योंकि हमारे कान में बार-बार वैक्स नहीं बनती है। कान में वैक्स बनना सामान्य है। हर एक व्यक्ति के कान में थोड़ी-बहुत वैक्स बनती है, जो जॉ मूवमेंट (खाना खाना, बोलना, उबासी लेना इत्यादि) के जरिए खुद-ब-खुद निकल जाती है। कुछ-कुछ मामलों में व्यक्ति के कान में अधिक वैक्स बनता है, जो पूरी तरह से बाहर नहीं निकल पाता है। ऐसे मामलों में डॉक्टर के पास जाकर कान की सफाई करानी चाहिए। इसके अलावा किसी कारण से वैक्स कान के अंदर जम गया तो डॉक्टर के पास जाएं। बिना वजह बार-बार डॉक्टर के पास जाना बेकार है। जब भी आपको किसी तरह की परेशानी महसूस हो, तब ही डॉक्टर के पास जाकर कान की सफाई कराएं। 

इसे भी पढ़ें - कान के बीच के हिस्से में (मिडिल इयर) इंफेक्शन क्यों होता है? जानें इसके कारण, लक्षण और बचाव के टिप्स

कैसे पता चलेगा कान में भर गया वैक्स?

डॉक्ट अंकुर बताते हैं कि जब आपको महसूस हो कि कान में वैक्स भर गया है या फिर जम गया है, तब ही डॉक्ट के पास जाकर कान की सफाई करें। कान मैं वैक्स भरने पर आपको निम्न लक्षण दिख सकते हैं-

  • सुनने में परेशानी
  • कान से आवाज गूंजना।
  • कान में ब्लॉकेज का फील होना।
  • वैक्स हार्ड होने से कान में दर्द होना।

घर में कर सकते हैं कान साफ?

डॉक्टर का कहना है कि कान की सफाई हर वक्त करने की आवश्यकता नहीं होती है। वैसे तो कान की सफाई घर में करना सेफ नहीं है, लेकिन अगर आप किसी कारणवश डॉक्टर के पास जाकर कान की सफाई नहीं करवा पा रहे हैं, तो ऐसे केस में बहुत ही सावधानी पूर्वक घर में कान की सफाई कराएं। खुद से कान साफ न करें। हो सके, तो किसी व्यक्ति की मदद लें, ताकि वे अच्छे से देखकर कान को साफ कर सकें। कान की सफाई हमेशा नहाने का बाद करें। कान की सफाई कराते वक्त इधर-उधर न करें।

ध्यान रहे कि घर में कान की सफाई करने से बचें। डॉक्टर का कहना है कि वे अपने किसी भी मरीज को घर में कान की सफाई करने की सलाह नहीं देते हैं। क्योंकि इससे कान की समस्याएं बढ़ने का खतरा रहता है। ऐसे में जब भी किसी तरह की समस्या महसूस हो, तो डॉक्टर से संपर्क करें।

Read more articles on Other-Diseases in Hindi 

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK