• shareIcon

बालों के गिरने की ना करें अनदेखी

बालों की देखभाल By Pooja Sinha , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Jun 16, 2017
बालों के गिरने की ना करें अनदेखी

चाहे खूबसूरती या फिटनेस की बात करें, बालों का प्रभाव हमारे सम्पूर्ण व्यक्तित्व पर पड़ता है। बालों का गिरना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है और यह अलग–अलग लोगों को अलग–अलग प्रकार से प्रभावित करती है।

सौन्दर्य का व्याख्यान करते समय सदियों से कवि बालों की महत्वपूर्ण भूमिका को मानते आये हैं। बात चाहे पुरूष वर्ग की करें या महिला वर्ग की बालों का सौंदर्य हम सभी के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।
 
चाहे खूबसूरती या फिटनेस की बात करें, बालों का प्रभाव हमारे सम्पूर्ण व्यक्तित्व पर पड़ता है। आपकी पहली छाप के अलावा आपके बाल आपकी स्टाइल स्टेटमेंट होते हैं। बालों का गिरना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है और यह अलग–अलग लोगों को अलग–अलग प्रकार से प्रभावित करती है।

बालों का झड़ना

बालों का गिरना

आज कई कारणों से पुरूषों और महिलाओं में बालों का झड़ना एक बहुत ही आम प्रक्रिया हो गयी है। महिलाओं में बालों का गिरना एक कहर की तरह होता है और कई बार तो इसके परिणाम डिप्रेशन या साइकालाजिकल समस्याओं को भी जन्म देते हैं। हमारी खूबसूरती हमारे लिए बहुत ही महत्वपूर्ण है। यहां तक कि ऐसा भी माना गया है कि खूबसूरत बाल आत्मविश्वास बढ़ाने में भी सहायक होते हैं।

 

बालों के गिरने के कुछ खास कारण

  • अधिक समय तक धूप या प्रदूषण का सामना करना।
  • बालों पर अधिक मात्रा में रसायन का प्रयोग करना।
  • आधुनिक उपकरणों का प्रयोग।
  • कुपोषण या अस्वस्‍‍थ खान पान की आदतें।
  • आनुवांशिक गंजापन या हार्मोन में असंतुलन।
  • अधिक समय तक हैलमेट का प्रयोग करना।


सिर पर बालों के ना होने से व्यक्ति की सम्‍पूर्ण खूबसूरती प्रभावित होती है और इसी कारण से व्यक्ति में डिप्रेशन और असुरक्षा की भावना जन्म लेने लगती है। पुरूषों और महिलाओं में बालों के गिरने का समय भी अलग अलग होता है। पुरूषों के बाल 40 वर्ष की उम्र से पहले ही गिरने शुरू हो जाते हैं और महिलाओं के बाल अकसर 40 वर्ष की उम्र के बाद गिरने शुरू होते हैं।

बालों का झड़ना

गंजेपन में कारगर कुछ आधुनिक तरीके

  • दवाओं का प्रयोग।
  • लेजर चिकित्सा, जैसे लेजर कांब।
  • क्लीनिकल उपचार जैसे खोपड़ी की चिकित्सा, अल्ट्रावायलेट और इन्फ्रारेड लाइट थेरेपी, लेजर मसाज।
  • डाइरेक्ट हेयर इम्लांट (डी एच आई)।


इन थेरेपीज में से कुछ के साइड इफेक्ट भी पाये गये हैं और कुछ दर्दरहित हैं जैसे डी एच आई। चिकित्सा से पहले व्यक्ति को चिकित्सा के खर्च और साइड इफेक्ट के बारे में पूरी तरह से जानकारियां इकट्ठी कर लेनी चाहिए।

Image Source : Getty

Read More Articles on Hair Loss in Hindi

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।