• shareIcon

सिर्फ 1 बार लगाएं घर में बना ये नुस्खा, स्ट्रेच मार्क्स हमेशा के लिए होंगे गायब

घरेलू नुस्‍ख By Rashmi Upadhyay , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Dec 06, 2017
सिर्फ 1 बार लगाएं घर में बना ये नुस्खा, स्ट्रेच मार्क्स हमेशा के लिए होंगे गायब

एकाएक त्वचा के फैलने और सिकुडऩे से उस पर पडऩे वाले निशान को स्ट्रेच माक्र्स कहते हैं। 

एकाएक त्वचा के फैलने और सिकुडऩे से उस पर पडऩे वाले निशान को स्ट्रेच माक्र्स कहते हैं। वेट लिफ्टिंग या प्रेग्नेंसी के दौरान अक्सर ये निशान पड़ सकते हैं। त्वचा की दो सतहें होती हैं। गर्भावस्था के दौरान वजन बढ़ता है। त्वचा की बाहरी सतह तो खिंच जाती है, किंतु आंतरिक त्वचा खिंचाव को लंबे समय तक नहीं सहन कर पाती और भीतर के टिश्यूज टूटने लगते हैं। इससे त्वचा पर गहरी लकीरें पड़ने लगती हैं, जिन्हें स्ट्रेच माक्र्स कहा जाता है। ये आमतौर पर पेट, कूल्हों, जांघों या ब्रेस्ट पर गर्भावस्था या इसके बाद पड़ सकते हैं।

बॉडी बिल्डिंग, वजन और उम्र बढऩे के साथ ये निशान पडऩे लगते हैं। किसी कारणवश स्किन ओवर स्ट्रेच हो जाए तो निशान पडऩे लगते हैं। वजन बढऩे-घटने से इलास्टिक फाइबर कम हो जाते हैं। प्रेग्नेंसी में पोषण की कमी व डिहाइड्रेशन के कारण ऐसा हो सकता है। हॉर्मोनल असंतुलन और रूखी त्वचा से भी ऐसा हो सकता है।

इसे भी पढ़ें : शुगर लेवल नियंत्रित रखने के लिए आजमाएं 10 घरेलू नुस्‍खे

ताकि न पड़ें निशान

  • प्रेग्नेंसी के दौरान कपड़ों की फिटिंग पर ध्यान दें। पेट के पास अधिक कसे कपड़े न पहनें। ढीले-ढाले सूती वस्त्र पहनें।
  • शरीर को हाइड्रेट रखें। खूब पानी पिएं। इससे त्वचा नम रहती है।
  • प्रोटीन और विटमिन सी युक्त डाइट लें। डाइट में जिंक, विटमिन ए, सी और ई शामिल करें। फैटी एसिड्स भी लें।
  • डॉक्टर की सलाह से व्यायाम करें।
  • हरी सब्जियां खाएं। इनमें प्रचुर मात्रा में आयरन होता है, जिससे निशान नहीं पड़ते हैं।
  • कैफीन यानी ज्य़ादा चाय-कॉफी से बचें।
  • टोफू, सोया मिल्क, सेम या बींस का सेवन करें। इससे शरीर में कोलेजन का उत्पादन बढ़ता है।

घरेलू उपचार

  • विटमिन सी व ई युक्त पोषक डाइट लें। इससे कोशिका निर्माण की प्रक्रिया तेज होती है। डॉक्टर की सलाह से पेट के निचले हिस्से पर विटमिन ई युक्त तेल की मालिश करें।
  • जैतून तेल की कुछ बूंदों के साथ पांच बूंदें लैवेंडर तेल की मिला कर मालिश करें।
  • दो चम्मच बादाम तेल में एक चम्मच वीट जर्म तेल मिलाएं और उसमें पांच बूंदें रोज और मेहंदी ऑयल डालें। इस मिश्रण से 15-20 मिनट नियमित मालिश करें।
  • तीन चम्मच जोजोबा, 10 बूंदें पचौली और पांच बूंदें लैवेंडर तेल की मिलाएं और 15 मिनट मालिश करें।
  • दस बूंदें मेहंदी और दो चम्मच बादाम का तेल मिला कर हलके हाथों से निशानों पर मलें, जब तक कि तेल सूख न जाए।
  • खुबानी या अखरोट वाले स्क्रब रगडऩे से भी निशान कम होते हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Home Remedies

 
Disclaimer:

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।