• shareIcon

हाई बीपी से हैं परेशान तो ये घरेलू नुस्खे देंगे आपको आराम, आज से करें शुरुआत

घरेलू नुस्‍ख By जितेंद्र गुप्ता , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग / Nov 21, 2012
हाई बीपी से हैं परेशान तो ये घरेलू नुस्खे देंगे आपको आराम, आज से करें शुरुआत

मौजूदा दौर में हाई ब्लड प्रेशर यानी की हाइपरटेंशन एक ऐसी समस्या है, जिससे कामकाजी पुरुष व महिलाएं सहित उम्र दराज लोगों की एक बड़ी समस्या है। अगर आप इस बीमारी से परेशान हैं तो हम आपको ऐसे कुछ घरेलू नुस्खों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आप अपन

मौजूदा दौर में हाई ब्लड प्रेशर यानी की हाइपरटेंशन एक ऐसी समस्या है, जिससे कामकाजी पुरुष व महिलाएं सहित उम्र दराज लोगों की एक बड़ी समस्या है। ब्लड प्रेशर के कारण हार्ट अटैक, डायबिटीज, किडनी फेल्यिर और स्ट्रोक का खतरा काफी बढ़ जाता है। खराब खानपान, एक्सरसाइज या शारीरिक गतिविधि न करना और बदलती जीवनशैली लोगों में ब्लड प्रेशर की शिकायत बढ़ा रही है। अगर आप इस बीमारी से परेशान हैं तो हम आपको ऐसे कुछ घरेलू नुस्खों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आप अपने बीपी को नियंत्रित कर सकते हैं। 

हाई ब्लड प्रेशर के कारण धमनियों पर दबाव बढ़ जाता है, जिससे धमनियां फट सकती हैं और व्यक्ति की मौत भी हो सकती है। हार्ट अटैक के सबसे ज्यादा मामलों में हाई ब्लड प्रेशर ही इसका कारण होता है। आइए आपको बताते हैं हाइपरटेंशन यानी हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को किस तरह कंट्रोल किया जा सकता है।

हाई ब्‍लड प्रेशर के सामान्‍य लक्षण

हाई ब्लड प्रेशर में चक्कर आने लगते हैं, सिर घूमने लगता है। रोगी का किसी काम में मन नहीं लगता। उसमें शारीरिक काम करने की क्षमता नहीं रहती और रोगी अनिद्रा का शिकार रहता है। इस रोग का घरेलू उपचार भी संभव है, जिनके सावधानीपूर्वक इस्तेमाल करने से बिना दवाई लिए इस भयंकर बीमारी पर पूर्णत: नियंत्रण पाया जा सकता है। जरूरत है संयमपूर्वक नियम पालन की। आइए जानें हाई ब्लड प्रेशर के लिए घरेलू उपाय।

इसे भी पढ़ेंः दिमागी चोट से जल्दी उबरने में मदद करेंगे ये 5 घरेलू नुस्खे, जानें तरीका

हाई ब्लड प्रेशर के लिए घरेलू उपाय

  • नमक ब्लड प्रेशर बढाने वाला प्रमुख कारक है। इसलिए हाई बी पी वालों को नमक का प्रयोग कम कर देना चाहिए।
  • लहसुन ब्लड प्रेशर ठीक करने में बहुत मददगार घरेलू उपाय है। यह रक्त का थक्का नहीं जमने देता है। और कोलेस्‍ट्रॉल को नियंत्रित रखता है।
  • एक बडा चम्मच आंवले का रस और इतना ही शहद मिलाकर सुबह-शाम लेने से हाई ब्लड प्रेशर में लाभ होता है।
  • जब ब्लड प्रेशर बढा हुआ हो तो आधा गिलास मामूली गर्म पानी में काली मिर्च पाउडर एक चम्मच घोलकर 2-2 घंटे के अंतराल पर पीते रहें।
  • तरबूज के बीज की गिरी तथा खसखस अलग-अलग पीसकर बराबर मात्रा में मिलाकर रख लें। इसका रोजाना सुबह एक चम्‍मच सेवन करें।
  • बढे हुए ब्लड प्रेशर को जल्दी कंट्रोल करने के लिये आधा गिलास पानी में आधा नींबू निचोड़कर 2-2 घंटे के अंतर से पीते रहें।
  • पांच तुलसी के पत्ते तथा दो नीम की पत्तियों को पीसकर 20 ग्राम पानी में घोलकर खाली पेट सुबह पिएं। 15 दिन में लाभ नजर आने लगेगा।
  • हाई ब्लडप्रेशर के मरीजों के लिए पपीता भी बहुत लाभ करता है, इसे प्रतिदिन खाली पेट चबा-चबाकर खाएं।
  • नंगे पैर हरी घास पर 10-15 मिनट चलें। रोजाना चलने से ब्लड प्रेशर नार्मल हो जाता है।
  • सौंफ, जीरा, शक्‍कर तीनों बराबर मात्रा में लेकर पाउडर बना लें। एक गिलास पानी में एक चम्मच मिश्रण घोलकर सुबह-शाम पीते रहें।
  • पालक और गाजर का रस मिलाकर एक गिलास रस सुबह-शाम पीयें, लाभ होगा।
  • करेला और सहजन की फ़ली उच्च रक्त चाप-रोगी के लिये परम हितकारी हैं।
  • गेहूं व चने के आटे को बराबर मात्रा में लेकर बनाई गई रोटी खूब चबा-चबाकर खाएं, आटे से चोकर न निकालें।
  • ब्राउन चावल उपयोग में लाएं। यह उच्च रक्त चाप रोगी के लिये बहुत ही लाभदायक भोजन है।
  • प्याज और लहसुन की तरह अदरक भी काफी फायदेमंद होता है। इनसे धमनियों के आसपास की मांसपेशियों को भी आराम मिलता है जिससे उच्च रक्तचाप नीचे आ जाता है।
  • तीन ग्राम मेथीदाना पावडर सुबह-शाम पानी के साथ लें। इसे पंद्रह दिनों तक लेने से लाभ मालूम होता है।

इसे भी पढ़ेंः दिमागी चोट से जल्दी उबरने में मदद करेंगे ये 5 घरेलू नुस्खे, जानें तरीका

याद रखें उच्‍च रक्‍तचाप हमारी सेहत के लिए बेहद खतरनाक होता है। लेकिन, रक्‍तचाप अगर सामान्‍य से कम हो, तो वह भी सेहत के लिए कम खतरनाक नहीं होता। इसलिए किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से सलाह जरूर लें।

Read More Article On Home Remedies In Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK