बरसात के मौसम में जरूर पिएं ये 2 ड्रिंक्स, पेट में इंफेक्शन की समस्या से रहेंगे दूर

बारिश में पेट से जुड़ी बीमारियां और पानी से फैलने वाले इंफेक्शन बढ़ जाते हैं। ऐसे में ये ड्रिंक्स आपके पाचन तंत्र को हेल्दी रखने में मदद कर सकते हैं।

Pallavi Kumari
स्वस्थ आहारWritten by: Pallavi KumariPublished at: Jun 17, 2021
Updated at: Jun 23, 2021
बरसात के मौसम में जरूर पिएं ये 2 ड्रिंक्स, पेट में इंफेक्शन की समस्या से रहेंगे दूर

बरसात के मौसम में पानी से जुड़ी बीमारियां अक्सर बढ़ जाती हैं। ये सब दूषित पानी और पानी से फैलने वाले संक्रमण के कारण होता है। पानी से फैलने वाली बीमारियों में सबसे आम है पेट में इंफेक्शन (stomach flu)। ये गैस्ट्रोएंटेराइटिस से जुड़ी समस्याओं से जुड़ा होता है। इसमें पेट और आंतों में सूजन आ जाती है। यह स्थिति आमतौर पर बैक्टीरिया या वायरल टमी बग के कारण होती है। इसे लेकर परेशान करने वाली बाते ये है कि ये दूषित भोजन या पानी के माध्यम से एक-दूसरे में फैल सकता है। ऐसे में आपको बरसात आते ही अपने खान-पान में थोड़ा बदलाव करना चाहिए। इसलिए आज हम आपको 2 हेल्दी ड्रिंक्स के बारे में बताएंगे, जिन्हें बरसात के दिन में खाली पेट पीने से आप पेट में इंफेक्शन की समस्या से दूर रह सकते हैं। आइए जानते हैं क्या हैं ये हेल्दी ड्रिंक्स। 

Inside1stomachflu

बारिश में पिएं ये 2 ड्रिंक्स-Healthy drinks for stomach flu in rainy season

1. सोल कढ़ी (Solkadhi)

सोल कढ़ी कोंकण-गोवा और महाराष्ट्र में काफी फेमस है। यह पेय नारियल के दूध, खसखस और कोकम फल से बनाया जाता है। इसके न्यूट्रिशनल बेनिफिट्स की बात करें, तो सोलकढ़ी में फैट, सोडियम, पोटेशियम, कार्बोहाइड्रेट, शुगर, फाइबर, कैल्शियम, मैग्नीशियम, नियासिन, जिंक, सेलेनियम, फास्फोरस और विटामिन ए और सी होता है।  सोल कढ़ी की खास बात ये है कि ये पेट को ठंडा करता है और शरीर को पीएच भी बैलेंस करता है। दरअसल, गर्मी में इसे पानी पाचन तंत्र को डिटॉक्स कर के  हेल्दी डाइजेशन को बढ़ावा देता है। इसके अलावा इसे बनाने के लिए इस्तेमाल किया गया नारियल ठंडा दूध एसिडिटी, गैस, अपच, डायरिया, कब्ज और पेट दर्द को रोकता है। 

Inside2solkadhi

इसे भी पढ़ें : स्वस्थ और मजबूत नाखूनों के लिए करें इन 5 फूड्स का सेवन, बढ़ेगी नाखूनों की प्राकृतिक चमक

सोल कढ़ी फायदा (solkadhi benefits) सबसे ज्यादा कोकम में छिपा हुआ है। दरअसल,  कोकम में मौजूद हाइड्रॉक्सी-साइट्रिक-एसिड जैसे पॉलीफेनोल्स ट्राइग्लिसराइड के स्तर को कम करते हैं। ये कोरोनरी हृदय रोग से जुड़े बीमारियों के जोखिम को कम करता है और हाई बीपी को परेशानी से बचाता है। साथ ही नारियल के दूध में मौजूद लॉरिक एसिड कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी सही करता है। बात अगर खसखस के बीजों की करें, तो ये प्रोटीन का अच्छा स्रोत हैं और ओमेगा-6 फैटी एसिड और फाइबर से भी भरपूर हैं।  फाइबर कब्ज की समस्या को दूर करता है और मेटाबोलिज्म को सही रखता है। इसके अलावा ये शरीर को हाइड्रेटेड भी रखता है और  पेट को लंबे समय के लिए भरा-भरा महसूस करवाता है, जो कि अहेल्दी चीजों के सेवन से बचाता है। 

सोल कढ़ी बनाने की रेसिपी-Solkadhi Recipe

  • - पानी से भरी एक कटोरी लें और उसमें कुछ कोकम एक घंटे के लिए भिगो दें। इसे कुछ देर तक चलाएं और कोकम का रंग धीरे-धीरे छूटने लगेगा और पानी लाल हो जाएगा।
  • -रस निकालने के लिए कोकम की फली को निचोड़ें। अब पानी को छान लें।
  • -मिक्सर में 1 कप ताजे कद्दूकस किए हुए नारियल को पर्याप्त पानी के साथ मिलाकर मुलायम पेस्ट बना लें। पेस्ट को छानकर ताजा नारियल का दूध निकालें।
  • - कोकम के रस में 2 कली कटा हुआ लहसुन, लाल प्याज, 1 हरी मिर्च, 1-2 करी पत्ते, आधा छोटा चम्मच जीरा पाउडर और ताजा नारियल का दूध मिलाएं। बाद में आप नमक डाल सकते हैं।
  • -अब इसे फ्रिज में डाल कर ठंडा कर लें और इसे पिएं।
Inside3sonthordriedginger

इसे भी पढ़ें : लीची है पसंद तो गर्मियों में जरूर बनाएं ये 'लीची ड्रिंक', स्वाद के साथ सेहत को मिलेंगे ये 9 फायदे

2. सोंठ का शरबत (sonth ka sharbat)

सोंठ का शरबत पारंपरिक पेय है, जो अक्सर बारिश के दिनों में पेट खराब होने पर पिया जाता है। ये पेट के इंफेक्शन के लक्षणों जैसे कि पेट में ऐंठन और दर्द, बुखार, मतली और सिरदर्द को कम करता है। सोंठ (dried ginger benefits) एंटी बैक्टीरियल भी है और एंटी इंफ्लेमेटरी भी। इसका मतलब ये है कि ये जहां इंफेक्शन को कम कर सकता है वहीं, पेट और आंतों में हुए सूजन से भी राहत दिलाता है। ये भोजन के पाचन और अवशोषण को उत्तेजित करता है और आंतों के मार्ग से अतिरिक्त गैस को खत्म करता है। सोंठ का शरबत बनाने के लिए 

  • -सोंठ को 1 गिलास पानी में डाल कर उबाल लें।
  • -अब इसमें गुड़, नमक और भुना हुआ जीरा कूट कर मिला लें। 
  • -अब इसे गिलास में छान कर रख लें।
  • -अब थोड़ा ठंडा हो जाने के बाद इसका सेवन करें।

इस तरह बरसात के मौसम में आप इन हेल्दी ड्रिंक्स को पी कर अपने पेट को स्वस्थ रख सकते हैं। इन ड्रिंक्स की खास बात ये है कि ये आपके मेटाबोलिज्म को भी सही रखते हैं और वजन घटाने में भी मदद करते हैं। तो, अगर आपने अब जब सोल कढ़ी और सोंठ का शरबत नहीं पिया है, तो इसे एक बार जरूर ट्राई करें।

Read more articles on Healthy-Diet in Hindi

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK