• shareIcon

क्‍यों डराता है सच्‍चा प्‍यार

प्‍यार एक अहसासा है, लेकिन कुछ लोग इससे डरते हैं। कुछ किसी को खोने के डर से इस प्‍यार में नहीं जाते, तो कुछ को लगता है कि इससे परिवार के लिए उनका ध्‍यान कम हो जाएगा। आखिर क्‍या है प्‍यार और क्‍यों डराता है ये आपको।

डेटिंग टिप्स By Bharat Malhotra / Jul 03, 2014

ये प्‍यार क्‍या है

प्‍यार क्‍या है यह समझना नामुमकिन सा है। यह आपको जीवन के कई रंग दिखाता है। यह एक अनजानी दुनिया के सफर पर ले जाता है। एक ऐसी जगह पर जहां आप कई बार खुद से ही जुदा हो जाते हैं। लेकिन, आखिर प्‍यार के इस रंग के मायने क्‍या हैं।

सच्‍चा प्‍यार हमें कमजोर बनाता है

नये रिश्‍ते की शुरुआत में हम अनजान से खतरे से भयभीत रहते हैं। प्‍यार में पड़ना किसी खतरे से कम नहीं। हम किसी दूसरे व्‍यक्ति पर बहुत अधिक भरोसा कर बैठते हैं। और इसका असर हम पर पड़ना स्‍वाभाविक ही है। इससे हम थोड़ा कमजोर महसूस करने लग सकते हैं। हमारी मजबूती को चुनौती दी जाने लगती है। आत्‍म-केंद्रित होने की हमारी पुरानी आदतें टूटने लगती हैं। हमें यह अहसास होने लगता है कि हम जितना किसी खयाल रखते हैं, हमारे दुख का दायरा भी उतना ही बढ़ने लगता है।

नये प्‍यार में पुराने जख्‍म

किसी नये रिश्‍ते में जाते समय हमें यह मालूम नहीं होता कि हम बीती बातों से कितना प्रभावित हैं। बचपन से रहे हमारे रिश्‍ते हमारे रूमानी रिश्‍ते को काफी हद तक प्रभावित करते हैं। पुरानी नकारात्‍मक बातें हमें किसी नये रिश्‍ते में भी असहज कर सकती हैं। पुराने जख्‍म दर्द देते हैं, गुस्‍सा देते हैं और इसका असर नये संबंधों पर भी पड़ता है। यूं भी प्‍यार और प्रेम का गहरा नाता जो है।

परमानंद के साथ परम पीड़ा

जब हमें असली खुशी और आनंद मिलता है, तब भावनात्‍मक रूप से हम बहुत संतुष्‍ट महसूस करते हैं। और कई बार ऐसी ही बातें हमारे दुख का कारण भी बनती हैं। हममें से कई लोग उन चीजों से दूर होने लगते हैं, जो आपको सबसे ज्‍यादा खुशी देती हैं, क्‍योंकि आखिर में वही हमारे सबसे बड़े देख का कारण भी बनती हैं। और प्‍यार में भी जब हम पूरी तरह डूब जाते हैं, तो उससे मिलने वाली खुशी के बाद यह डर लगने लगता है कि कहीं ये खुशी हमसे छिन न जाए।

प्‍यार में बराबरी नहीं होती

कई बार लोग किसी के साथ रिलेशनशिप में पड़ने से केवल इसलिए बचते हैं, क्‍योंकि वह शख्‍स उन्‍हें बहुत पसंद करता है। उन्‍हें डर लगने लगता है कि अगर वे इस शख्‍स से साथ प्‍यार में पड़ जाएंगे, तो उनकी अपनी भावनायें नहीं सामने आ पाएंगी। और ऐसे में वह शख्‍स दुखी महसूस करेगा। प्‍यार के रिश्‍ते में प्‍यार को लेकर असंतुलन तो बना ही रहता है। वक्‍त के साथ-साथ लोगों का प्‍यार को लेकर असंतुलन बना रहता है। किसी के लिए हमारी भावनायें कभी भी बदल सकती हैं। जिसे हम प्‍यार करते हैं, एक पल में उससे गुस्‍सा हो सकते हैं, नाराज हो सकते हैं और यहां तक हम उससे नफरत भी करने लगते हैं।

प्‍यार से छूटे परिवार

क्‍या प्‍यार आपको अपने परिवार से दूर कर सकता है। यह कहीं न कहीं आपकी आजादी को भी प्रभावित करता है। प्‍यार आपको आपके परिवार से भी दूर ले जा सकता है। आप किसी एक व्‍यक्ति पर इतने अधिक निर्भर हो जाते हैं कि उसके सिवाय कुछ दूसरा नजर ही नहीं आता। यह कुछ ऐसा होता है, जैसे आप अपनी ही नयी पहचान गढ़ रहे हों। परिवार से दूर होने का अर्थ यह नहीं कि आप कहीं दूर जाकर रहने लगते हैं। इसका अर्थ है कि आप भावनात्‍मक रूप से अपने परिवार से विमुख हो सकते हैं।

प्‍यार से बढ़ता है डर

आपके पास जितना अधिक होता है उसे खोने का डर भी उतना ही ज्‍यादा होता है। कोई शख्‍स हमारे लिए हतना अधिक मायने रखता है, उसके जाने का डर भी उतना ही अधिक बढ़ जाता है। जब हम प्‍यार में होते हैं, तो न केवल हमें अपने साथी को खोने का डर बना रहता है, बल्कि साथ ही नैतिक रूप से भी अधिक सजग होने लगते हैं। हमारी जिंदगी को नये मायने और मूल्‍य मिलने लगते हैं। और ऐसे में खोने का डर अधिक सताता है। और इस डर पर काबू करने का तरीका हमें मालूम ही नहीं होता।

प्‍यार चुनौती है

हर रिश्‍ते को निभाना किसी चुनौती से कम नहीं। हमें प्‍यार को लेकर अपने डर पर काबू पाना होगा। डर आपके रिश्‍ते को बेहद नुकसान पहुंचा सकता है। इस पर काबू पाये बिना आप किसी रिश्‍ते को पूरी शिद्दत के साथ नहीं जी सकते। खुद को पहचानिये और रिश्‍ते का आनंद उठाइये।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK