Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

कैसे करें अपने लिए वर्कआउट का चुनाव

स्वास्थ्य जीवन के लिए नियमित एक्सरसाइज करना बेहद जरूरी होता है, लेकिन ऐसे में किसी व्यक्ति के लिए यह चुनाव करना कि किस प्रकार की एक्सरसाइज प्लान का चुनाव किया जाए, बेहद मुश्किल होता है।

एक्सरसाइज और फिटनेस By Rahul SharmaNov 27, 2014

वर्कआउट का चुनाव

स्वास्थ्य जीवन के लिए नियमित एक्सरसाइज करना बेहद जरूरी होता है, इसी के चलते अब नित नए फिटनेस स्टूडियो भी खुलते जा रहे हैं। सभी कई नई तरह की एक्सरसाइज पेश करते हैं और उनके अलग-अलग फायदों के बारे में दावे भी करते हैं। ऐसे में किसी व्यक्ति के लिए यह चुनाव करना कि किस प्रकार की एक्सरसाइज प्लान का चुनाव किया जाए, बेहद मुश्किल हो जाता है। बेशक आप की नई एक्सरसाइज तकनीक का चुनाव कर सकते हैं, लेकिन कौंन सी एक्सरासइज का चुनाव करें ये हम आपको इस स्लाइड शो के माध्यम से बता रहे हैं।
Image Courtesy- Getty Images

टबाटा वर्कआउट

टबाटा वर्कआउट को जापान के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ फिटनेस एंड स्पोर्ट्स के डॉ. इजुमी टबाटा ने इजात किया, जिस कारण इसका नाम टबाटा वर्कआउट पड़ा। आमतौर पर इसे चार मिनट के लिए किया जाता है, जिसमें आपको 20 सेकंड वर्कआउट और 10 सेकंड रेस्ट करना होता है। इस तरह आप आठ रैप में अपना वर्कआउट पूरा कर पाते हैं। इस वर्कआउट का अधिकतम समय आधा घंटा हो सकता है।
Image Courtesy- Getty Images

जुम्‍बा, डांस फिटनेस

जुंबा वर्कआउट अर्थात ऊर्जा और रोमांच से भरपूर यह डांस फिटनेस क्‍लास लेटिन अमेरिकी देश ब्राजील से शुरू हुआ था और अब अंतरराष्‍ट्रीय पहचान पा चुका है। इसे कर आप किक बॉक्सिंग अथवा स्‍टेप एरोबिक्‍स से अधिक कैलोरी बर्न कर सकते हैं। जुंबा स्‍टेप्‍स में जुंबा की क्षमता को बढ़ाया भी जाता है ताकि इससे टांगों की बेहतर कसरत हो सके। एक घंटे जुम्बा डांस करने से 500 से 800 कैलोरी बर्न होती है। इसे 12 से 65 साल तक के लोग कर सकते हैं।
Image Courtesy- Getty Images

किक बॉक्सिंग

एनर्जेटिक व फिट बने रहने के लिए किक बॉक्सिंग आज के दौर का लेटेस्ट ट्रेंड एक्सरसाइज बना हुआ है। हालांकि अभी अधिक जिम व फिटनेस सेंटर्स में यह सुविधा नहीं मिल परी है। यह एक्सरसाइज कम समय में ही काफी कैलरी बर्न करने में साहायक होती है। फिट रहने के लिए इसे रोजाना 5 से 7 मिनट करना काफी होता है। 5 मिनट की किक बॉक्सिंग एक्सरसाइज करने से 80 कैलरीज तक बर्न करने में मदद मिलती है।
Image Courtesy- Getty Images

साइकलिंग

साइकलिंग और रनिंग दोनों ही कामाल के फिजिकल वर्कआउट हैं। लेकिन व्यवहारिक इस्तेमाल और कार्यक्षमता के आधार पर साइकलिंग अधिक बेहतर फिटनेस एक्टिविटी है। क्योंकि फिजिकल एक्टिविटी जितनी अधिक होगी उतना ही आपको पसीना आएगा और फैट भी तेजी से कम होगा। टमी फ्लैट या लेग टोन के अलावा सायकलिंग से हृदय स्वास्थ्य भी बेहतर बनता है। एक खास बात, दोस्तों या गर्लफ्रेंड के साथ साइकलिंग का लुत्फ उठाना तो मानो फिटनेस और फन का एक कमाल कोम्बो होता है।
Image Courtesy- Getty Images

फ्यूजन फिटनेस

अलग-अलग वर्कआउट के कॉम्बिनेशन को फ्यूजन फिटनेस कहा जाता है। मसलन कोर स्ट्रेंथ, मस्कुलर स्ट्रेंथ, शरीर संतुलन, गति और साम‌र्थ्य आदि इसके अभिन्न अंग होते हैं। इसमें अलग-अलग तरह की क्रियाएं जैसे- योग, एक्सट्रीम बॉडी स्ट्रेच, पिलातज, स्पिनिंग, सर्किट ट्रेनिंग, बूट कैंप, जुंबा, बॉडी वेट ट्रेनिंग, हाइ इंटेंसिटी कार्डियो, किक बॉक्सिंग, फन एंड रन, फ्लोर एरोबिक्स भी शामिल होती हैं। इस तरह के वर्कआउट के परिणाम काफी बेहतर होते हैं।
Image Courtesy- Getty Images

वॉक एंड टॉक

जैसा की नाम सेही ज़ाहिर है कि यह खुली हवा में ग्रुप के साथ किया जाने वाला वर्कआउट है। साथियों से बातचीत करते हुए टहलना भी हो जाता है और फिटनेस भी बनी रहती है। इसे और भी मज़ेदार बनाने के लिए चाहें तो दो-तीन ग्रुप के साथ बात करते हुए तेज चलने की प्रतियोगिता भी कर सकते हैं। इस तरह जोश-जोश में ब्रिस्क वॉक भी हो जाती है।
Image Courtesy- Getty Images

डांसिंग एक्सरासइज

सभी डांस फॉर्म में एक्सरसाइज खुद-ब-खुद शामिल हैं। हिप हॉप, सालसा, बालीवुड के डांस या फिर वेस्टर्न सभी कमाल के फन फिटनेस एक्सरसाइज हैं। लोग सोचते हैं कि फिटनेस के शौकीन हिप हॉप ज्यादा पसंद करते हैं क्योंकि उसमें कई ब्रेकिंग, लॉकिंग और पॉपिंग जैसे एलिमेंट होते हैं। लेकिन वास्तव में हिप हॉप प्रोग्राम में ज्यादातर डांस सीखने वाले होते हैं, जबकि फिटनेस चाहने वाले बॉलीवुड के गानों पर थिरककर सेहत बनाते हैं।
Image Courtesy- Getty Images

फायदेमंद है योग

योग के जरिए मस्तिष्क और शरीर का मिलन होता है। साथ ही तनाव कम करने से लेकर ब्लड प्रेशर कंट्रोल, कॉलस्ट्रॉल कम करने और वजन घटाने में योगाभ्यास कमाल की भूमिका निभाता है। इसमें मस्तिष्क और शरीर का संगम होता है जिससे दिमागी कसरत से स्वास्थ्य लाभ मिलता है। वजन को कम करने के साथ-साथ योग से शरीर सुन्दर और चुस्त-दुरुस्त बनता है। योग से आपको मन की शांति भी प्राप्त होती है।
Image Courtesy- Getty Images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK