• shareIcon

बालों से जानें, कितने स्वस्थ है आप

बालों की सेहत से आपके स्वास्थ्य भी जुड़ा होता है। अगर आप स्‍वस्‍थ्‍य और खुश हैं तो आपके बाल मजबूत और चमकदार बने रहेगें। अपने बालों के स्वस्थ रखें। अपने सेहत को तंदरूस्त।

बालों की देखभाल By Aditi Singh / Mar 07, 2015

बाल और शारीरिक समस्या

काले, घने मुलायम बाल आपकी खूबसूरती में चार चांद लगा देते है, लेकिन आज की इस तनाव भरी जिंदगी में बालों की सेहत बनाएं रखना असंभव सा लगनें लगा है। बालों की चमक औऱ सेहत एक दूसरें से जुड़े होते है। आकर्षक दिखने के लिए भी दोनों का होना जरूरी होता है। अगर आपनें अपनी सेहत का ख्याल नहीं रखा तो आपके बाव खराब हो सकते है। वहीं आपके बालों से भी आपकी सेहत का राज खुल सकता है। इस स्लाइडशो में हम आपको दोनों के संबध के बारे में बताते है:-
ImageCourtesy@GettyImages

बालों का झड़ना

बालों का गिरना आजकल एक आम समस्या हो गई है, हालांकि अगर इनके गिरने की संख्या अगर 90-100 के बीच हो तो ये सामान्य बात है। मगर इससे ज्यादा बाल गिरना आपको गंजा कर सकता है। बालों का झड़ना आपके ख़राब स्वास्थ की निशानी है। इसलिए आपने भोजन में प्रोटीन, आयरन, जिंक, विटामिन ए और ओमेगा -3 फैटी एसिड की मात्रा को बढ़ाये जिससे आपके बाल हेल्दी और चमकदार होंगे।
ImageCourtesy@GettyImages

रूसी

बालों में रुसी सिर की त्वचा सूखी या बहुत ऑयली होने से होती है, या शैम्पू बार बार उपयोग करने से भी रुसी होती है। रुसी सिर में गंदगी, चिंता या मानसिक तनाव,हार्मोन में परिवर्तन होना, ड्रायर से बाल सुखाना, शीतल पेय और चाय-कॉफी का अधिक पीने से होती है। अपने सिर को साफ रखें, और बालों में गरम तेल से मालिश करे।
ImageCourtesy@GettyImages

बाल सफेद होना

समय से पहले बालों का सफेद होना वंशानुगत भी हो सकता है। इसके अलावा एनीमिया जैसी स्थितियों, थायराइड की समस्याओं, विटामिन बी 12 की कमी, और विटिलिगो की वजह से बाल सफेद होते है।बहुत अधिक केमिकल वाले शैंपू, केमिकल डाइ या रंग और महक वाले तेल से भी बाल सफेद होते हैं। लंबे समय तक बीमार रहने वाले लोगों के बाल भी जल्द सफेद होते हैं।
ImageCourtesy@GettyImages

 

हेयर कलर के प्रभाव

आज की जेनेरेशन में बालों को रंगाना एक शगल हो गया है। अक्सर लोग इसके साइड इफेक्ट्स के बारें में भूल जाते है। हेयर कलर इस्तेमाल करना भी हो तो परमानेंट के बजाय टेम्परेरी होना चाहिए। परमानेंट हेयर कलर में अधिक मात्रा में अमोनिया होता है। जो बालों को सफेद करने के अलावा उनकी कोमलता खत्म कर देता है। इसके इस्तेमाल से कम उम्र में ही युवाओं के बाल अधिक झड़ने का खतरा हो जाता है।  
ImageCourtesy@GettyImages

हेयर स्ट्रेटनिंग

केमिकल बेस्ड परमानेंट हेयर स्ट्रेटनिंग से बालों के टेक्सचर पर बुरा असर पड़ता है। इससे नेचुरल हेल्थी हेयर रिगेन करने में समस्या आती है। जड़ों के ड्राई हो जाने से हेल्थी बाल नहीं आ पाते हैं। इस प्रोसेस में इस्तेमाल किए गए कठोर केमिकल्स की वजह से बाल डेमेज होने लगते हैं और दो मुंहे बाल आने लगते हैं।
ImageCourtesy@GettyImages

एलर्जी

बालों को कलर और स्ट्रेट कराने में इस्तेमाल किए गए प्रोडक्‍ट से सिर की त्‍वचा पर एलर्जी पैदा हो सकती है। इसलिये आपको उस प्रोडक्‍ट का ब्रैंड जरुर पता होना चाहिये। यदि पहली बार कलर करवा रहे हैं, तो एलर्जी पैच टेस्ट जरूर करें। कलर करने में इस्तेमाल होने वाला ब्रश व बाउल साफ रखें। स्कल्प को भी टेस्ट जरूर करवाएँ। कलर प्रोटेक्शन शैम्पू व ऑयल का यूज करें।
ImageCourtesy@GettyImages

शैंपू का इस्तेमाल

विज्ञापन देख कर शैंपू और कंडीशनर नहीं खरीदना चाहिये। ज्यादा शैंपू करने से बालों को नुकसान होता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं कि शैंपू किया ही न जाए। शैंपू न करने से भी बालों का झड़ना बढ़ सकता है. उनके मुताबिक, सिर की त्वचा तैलीय हो जाने से इंफेक्शन हो सकता है. इससे बालों का विकास भी प्रभावित होता है।
ImageCourtesy@GettyImages

रूखापन

बालों को तरावट की जरूरत होती है। यदि बातों में तेल का प्रयोग न किया जाये तो बाल बढ़ने से रूक जाते हैं, क्योंकि उनमें रूखापन आ जाता है। बालों को नियमित आहार न मिलने से उनकी वृद्धि नहीं होती। बालों में तेल को सिर्फ ऊपर प्रयोग नहीं करना चाहिए बल्कि बालों की जड़ों तक पहुंचाने के लिए अच्छी मालिश करना चाहिए।
ImageCourtesy@GettyImages

बालों की करें देखभाल

बालों को साफ रखने के लिए उन में अच्छी तरह कंघी करें। ध्यान रहे, जरूरत से ज्यादा कंघी भी बालों को नुकसान पहुंचाती है।बालों में स्थायी चमक व मजबूती के लिए अपने आहार पर खास ध्यान दें। पौष्टिक आहार से बालों की जड़ों को अंदर से पोषण मिलता है। ताजे फल, हरी सब्जियां व प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में लें।  बालों में चमक लाने के लिए विटामिन ई युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें व सिर की तेल से मालिश करें।
ImageCourtesy@GettyImages

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK