क्‍या होता है जब आप शैंपू नहीं करते

सप्‍ताह में तीन या चार दिन शैंपू करने से आपके बाल साफ हो जाते हैं और गंदगी नहीं रहती, लेकिन क्‍या आपको पता है इससे बाल मजबूत नहीं बल्कि कमजोर हो रहें है, कमजोर होने के कारणों के बारे में जानें।

फैशन और सौंदर्य By Aditi Singh / Apr 01, 2015
कभी-कभी न करें शैंपू

कभी-कभी न करें शैंपू

बालों की चमक बनाए रखनें के लिए हम अक्सर अच्छे से अच्छे शैंपू का प्रयोग करते हैं। लोग अपने बालों में रोजाना शैंपू करते हैं। उन्‍हें लगता है कि अगर वे ऐसा नहीं करेंगे तो उनके बाल मैले रहेंगे। जबकि हकीकत कुछ और ही है। सप्‍ताह में तीन-चार बार से ज्‍यादा शैंपू करने से आपके बालों को नुकसान पहुंचता है। अगर आप लंबे समय तक शैंपू का प्रयोग नहीं करते है तो ये आपके स्कैल्प के लिए अच्छा होता है। आगे की स्‍लाइड में जानिये शैंपू न करने से आपके बालों पर क्‍या गुजरती है।  
ImageCourtesy@gettyimages

रोज बालों को धोना ठीक

रोज बालों को धोना ठीक

रोज़ बाल धोना ठीक नहीं है, क्योंकि इससे आपके बाल रूखे और बेजान हो जाते हैं। कई ऐसे शैम्पू आते हैं, जिनमें बहुत ज्यादा केमिकल होता है जो बालों के लिए नुकसान देह साबित होते हैं। अगर आपके ज्यादा पसीना निकलता है या बाल जल्दी गंदे होजाते हैं तो सादे पानी से सर धोए या ऐसा शैम्पू इस्तेमाल करें जिसमें केमिकल ना के बराबर हों।
ImageCourtesy@gettyimages

शैंपू से बाल धोनें से क्या होता है नुकसान

शैंपू से बाल धोनें से क्या होता है नुकसान

डर्मोटोलॉजिस्‍ट और स्‍टाइलिस्‍ट मानते हैं कि रोजाना शैंपू ना करने के बहुत कारण हैं। जानकारों की राय है कि ‘बाल फाइबर हैं, एक प्रकार का वूल फाइबर। आप जिसे इतना धोएंगे यह उतना बुरा नजर आएगा। अपने बालों को रोजाना धोने की जरूरत नहीं है। आपके बाल धोने के बीच में ही अधिक लंबे, मोटे और कर्ली होते हैं।
ImageCourtesy@gettyimages

शैंपू ना करने का फायदा

शैंपू ना करने का फायदा

यूनिवर्सिटी ऑफ मियामी के इथेनिक स्किन केयर के निदेशक और प्रबंध निदेशक हीथर वूले-लॉयड, का कहना है कि तेल बालों की जड़ों और स्‍कैल्‍प में बहुत तेजी से नहीं जाता। इसलिए बाल रूखे नजर आते हैं, लेकिन उन्‍हें ज्‍यादा शैंपू की जरूरत नहीं होती। यहां तक कि उलझे, छोटे, पतले और सीधे बालों को भी रोजाना शैंपू करने की जरूरत नहीं होती।
ImageCourtesy@gettyimages

केमिकल को कहें ना

केमिकल को कहें ना

अगर आपकों लगता भी है कि बालों को साफ करने की जरूरत है तो केमिकल वाले शैंपू की जगह आप साफ पानी से बालों को साफ कर सकती है। जब भी आपको लगे कि बाल थोड़े से भी चिपचिपे और गंदे हो गए हैं तो उन्‍हें हल्‍के शैंपू से धो डालें। जिन महिलाओं के लंबे बाल होते हैं उन्‍हें हफ्ते में दो बार बाल धोने की जरुरत होती है। पसीने से बालों में केवल बदबू ही नहीं आती बल्कि उनमें रूसी की समस्‍या भी पैदा हो जाती है।
ImageCourtesy@gettyimages

बालों में बढ़ती है मजबूती

बालों में बढ़ती है मजबूती

जो लोग महीनों बालों को शैंपू से नहीं धोते है, उनके बालों में स्कैल्प ऑयल खुद से बनना कम हो जाता है, जिसे सीबम कहा जाता है। जिसके चलते बालों में चमक, नमी और मजबूती आ जाती है। सीबम आपके बालों के लिए अच्छा होता है। स्कैल्प ऑयल बालों की क्वालिटी को बढाता है, ये एक तरह का प्राकृतिक कंडीशनर होता है.
ImageCourtesy@gettyimages

पाउडर का इस्‍तेमाल

पाउडर का इस्‍तेमाल

पाउडर और ड्राई शैंपू बालों को धोने के दौरान सिर से निकलने वाले अतिरिक्‍त तेल को सोख लेता है। आप चाहें तो बालों में शैंपू के स्‍थान पर कभी-कभी टेलकम पाउडर भी इस्‍तेमाल कर सकते हैं। यह तरीका उन लोगों के लिए खासतौर पर मददगार होता है, जिनके स्‍कैल्‍प से काफी मात्रा में तेल निकलता है। हालांकि पाउडर शैंपू को पूरी तरह स्‍थानांतरित नहीं कर सकता।
ImageCourtesy@gettyimages

बालों की करें समुचित देखभाल

बालों की करें समुचित देखभाल

बालों को साफ रखने के लिए उन में अच्छी तरह कंघी करें। ध्यान रहे, जरूरत से ज्यादा कंघी भी बालों को नुकसान पहुंचाती है। ज्यादा कंघी करने से तेल ग्रंथियां बहुत ज्यादा सक्रिय हो उठती है, जिस से बालों में ‘सीबम’ की मात्रा बढ़ जाती है और वे चिपचिपे से हो जाते हैं। बालों में स्थायी चमक व मजबूती के लिए अपने आहार पर खास ध्यान दें। पौष्टिक आहार से बालों की जड़ों को अंदर से पोषण मिलता है। ताजे फल, हरी सब्जियां व प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में लें। बालों में चमक लाने के लिए विटामिन ई युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन करें व सिर की तेल से मालिश करें।
ImageCourtesy@gettyimages

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK