Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

एक्‍सपर्ट से जानें आईब्रो और पलकों की ड्रैंडफ से कैसे बचें

डैंड्रफ सिर्फ बालों को ही नहीं वरन पलकों और भौंहों को भी नुकसान पहुंचाते हैं। सवाल उठता है कि भौंहें और पलकों में डैंड्रफ क्यों होता है? असल में इसके पीछे कई अलग अलग वजहें छिपी हैं और इनके बचाव के लिए क्‍या करना चाहिए। इसके बारे में इस स्‍लाइडशो में

फैशन और सौंदर्य By Meera RoyJun 27, 2016

पलकों और भौहों में डैंड्रफ होने की वजह

सेबोरिया डर्मटाइटिस और ब्लेफराइटिस की वजह से भौंहे में डैंड्रफ की समस्या हो जाती है।सेबोरिया डर्मटाइटिस की स्थिति में पलकों और भौहों में डैंड्रफ होने की असली वजह जानी नहीं जा सकती। लेकिन कुछ अनुमानों के मुताबिक ऐसा कम पानी पीने से और जंक फूड का अतिरिक्त सेवन करने से हो सकता है। असल में जब जंक फूड हमारी जिंदगी के अभिन्न अंग हो जाते हैं तो कई किस्म की समस्या हमें घेरने लगती है। ऐसी ही एक बीमारी पलकों और भौंहों में डैंड्रफ होना है। टाक्सिक जीवनशैली के कारण त्वचा सम्बंधी समस्या होने लगती है। पलकों के नजदीक के छिद्र बंद हो जाते हैं जो कि परेशानी का सबब बन जाते हैं। ब्लेफराइटिस की स्थिति में आंखों में सूजन हो जाती है। पलकों में डैंड्रफ बिल्कुल सिर के तरह देखने को लगते हैं। लेकिन यह समस्या संक्रामक नहीं है।बहरहाल यहां हम कुछ ऐसे उपचार का जिक्र करेंगे जिनके जरिये भौंहों और पलकों से जुड़ी समस्याओं से पार पाया जा सकता है।
Image Source-Getty

ड्रगस्टोर के साबुन

पलकों और भौंहों में हुए डैंड्रफ से पार पाने के लिए आप ड्रगस्टोर से साबुन ले सकते हैं। ध्यान रखें कि एक ऐसा साबुन लें जिसमें चायपत्ती के पेड़ का तेल और पाइरीथीन जिंक हो। ऐसे साबुन यीस्ट रोगाणुओं से लड़ने में मदद करते हैं जो कि पलकों और भौंहों में डैंड्रफ की वजह होते हैं। खैर! इस बात का ध्यान रखें कि इस साबुन का झाग आपकी आंखों में न जाए। यह आंखों के लिए खतरनाक हो सकता है। बेहतर होगा यदि आप साबुन को पानी में घोलकर हल्का मिश्रण बना लें ताकि आंखों में जाने पर भी यह किसी तरह का नुकसान न कर सके।
Image Source-Getty

बच्चों का शैम्पू

शिशुओं के इस्तेमाल करने वाले शैम्पू का इस्तेमाल करें। इसे इयर बड के जरिये भौंहों और पलकों में लगाएं। आहिस्ता आहिस्ता पलकों को साफ करें। भौंहों की सफाई के दौरान ज्यादा सावधानी की आवश्यकता नहीं होती क्योंकि वहां से आंखों में जाने का खतरा कम होता है। लेकिन पलकों की सफाई के दौरान सावधान रहें। ऐसा नियमित 4 से 5 बार प्रतिदिन करें ताकि पलकों और भौंहों में हुए डैंड्रफ से जल्द छुटकारा मिल सके।
Image Source-Getty

बादाम तेल से मसाज

चूंकि डैंड्रफ के कारण भौंहें और पलकें सूखी होने लगती है। यही नहीं उनकी चमक भी खत्म हो जाती है। ऐसे में यदि इन्हें मसाज किया जाए तो यह बेहतर होगा। मसाज के लिए बदाम के तेल का इस्तेमाल करें। मसाज से सूखापन तो खत्म होता ही है भौंहें और पलकों की सेहत भी अच्छी होती है। यही नहीं उन्हें उगने में मदद मिलती है साथ ही डैंड्रफ में भी कमी आती है। यह जरूरी नहीं है कि बदाम के तेल से डैंड्रफ होने की स्थिति में ही पलकों और भौंहों की मसाज की जाती है। यदि आप पलकें छोटी हैं तो बदाम तेल से मसाज करें। यकीन मानें कि आपकी पलके जो सामान्य दिखती थीं, अचाकन सुंदर, घनी और लम्बी हो जाएंगी।
Image Source-Getty

भौहों और पलकों का ख्याल रखें

ध्यान रखें कि आंखें, पलकें और भौहों में किसी तरह का मेकअप न करें। यदि मेकअप करते भी हैं तो जल्दी उसे धो दें और अच्छी तरह धोएं ताकि किसी भी तरह का रसायन भौंहों या पलकों में न चिपका हुआ हो। असल में जरा भी बचा हुआ मेकअप पलकों और भौंहों को बुरी तरह नुकसान पहुंचा सकता है और डैंड्रफ भी हो सकते हैं। यदि मेकअप आप शौक है तो फिर ओपथलमोलोजिकल टेस्ट के जरिये मेकअप उतारा करें। ये नुकसानदेय नहीं होते। ताजा फल और सब्जी खाए। शराब, कैफीन और जंक फूड के सेवन से बचें। इनकी बजाय बेहतर होगा यदि आप उबली हुई सब्जियां खाएं। यही नहीं प्रत्येक दिन 8 से 10 गिलास पानी पीयें।
Image Source-Getty

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK