• shareIcon

विंटर ब्लूज को दूर करने के तरीके

सर्दी का मौसम गर्मा गर्म भोजन, ठंडी हवा के बीच टहलना और रोमांटिक मौसम का मजा देता है लेकिन कुछ लोगों के लिए यही समय उदासी का कारण भी बन जाता है। इसे ठंड की उदासी यानी विंटर ब्लूज के नाम से जाना जाता है।

मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य By Pooja Sinha / Oct 14, 2014

विंटर ब्लूज

सर्दियों की उदासी (विंटर ब्लूज) के नाम से पहचानी जाने वाली इस आम समस्या के चलते लोग निराशा, एकाकीपन, अरुचि और नकारात्मक भावना के गिरफ्त में आ जाते हैं। पुष्पावती सिंघानिया रिसर्च सेंटर की मनोविज्ञानी बृष्टि बर्काटकी के अनुसार, 'इस मौसम में लोग अलगाव, चिड़चिड़ापन, कमजोरी और एकाकीपन जैसी भावनाओं की शिकायत करते हैं। और जीवन में आने वाली छोटी-छोटी समस्याओं को भी बहुत बड़ा समझकर उसका इलाज कई बार खुद से ही करने लगते हैं।' लेकिन निराश न हो क्‍योंकि इस समय से बाहर निकलने के बहुत सारे तरीके उपलब्‍ध है। यहां पर आपके हौसले और उज्‍जवल और खुश दिनों को वापस लाने के कुछ तरीके दिये गये हैं। image courtesy : getty images

सूरज की रोशनी में जाये

विशेषज्ञों के अनुसार, सर्दियों की उदासी धूप की अवधि कम होने से दिमाग में जैव-रासायनिक असंतुलन के कारण पैदा होती है। इस मौसम में धूप की कमी के कारण स्ट्रोटाइनिन का स्तर घट जाता है और लोग उदासी महसूस करने लगते हैं। इस मौसम में धूप और विटामिन डी की जरूरत होती है, क्योंकि सर्दियों में घर में खुद को बंद रखने से विटामिन डी का स्तर शरीर में घट जाता है। घर से बाहर निकलकर, सुबह के समय में धूप का सेवन करके इस समस्‍या से बचा जा सकता है। image courtesy : getty images

एक्‍सरसाइज

डाइट और फिटनेस एक्‍सपर्ट लौरा विलियम्‍स के अनुसार, सर्दियों की उदासी को कम करने के लिए एक्‍सरसाइज कई स्‍तर पर काम करती है। इससे एंडोर्फिन नामक फील गुड हार्मोंन का स्राव होता है। यह तनाव और चिंता की भावनाओं को कम कर अधिक सकारात्‍मक महसूस कराता हैं। इसलिए अमेरिका के स्‍वास्‍थ्‍य और मानव सेवा विभाग के अनुसार, एक दिन में 30 मिनट के सामान्‍य लक्ष्‍य के साथ एक सप्‍ताह में कम से कम 150 मिनट की एरोबिक एक्‍सरसाइज या 75 मिनट की जोरदार एरोबिक एक्‍सरसाइज को शामिल करें। image courtesy : getty images

मेलजोल

सर्दियों में (विशेष रूप से अधिक सर्द मौसम) आप में कंबल में और टीवी सामने रहना चाहते हैं। लेकिन क्यों न इन सर्द हवाओं बहादुर बनाकर अपने दोस्त के घर पर जाया जाये। दोस्तों या परिवार के साथ एक छोटा सा गेट टूगेदर आपके मूड लिफ्ट करने के लिए कोई बेहतर रास्ता हो सकता है। image courtesy : getty images

अपना रवैया बदलें

स्ट्रेस मैनेजमेंट सोसाइटी के डायरेक्टर नील शाह ने दावा किया है कि सर्दियों के मौसम के समय आने वाली नकारात्‍मक भावना सिर्फ मन की उदास भावना को प्रोत्साहित करती है। इसलिए अपने विश्वास, अनुभव और स्‍ि‍थति के हिसाब से अपनी प्रतिक्रिया का निर्धारण करें। image courtesy : getty images

जीवन को रंगों से भरें

क्रोमो चिकित्‍सा के अनुसार, चमकीले रंग की उपस्थिति वास्‍तव में आपको खुश रखती हैं। इसलिए गुलाबी, लाल, पीले, हरे और नारंगी रंग के रंगीन कपड़े पहनें। अपने नाखूनों के साथ-साथ अपने घर की दीवारों पर चमकीले रंग का पेंट कराये। इंद्रधनुष से भरे रंग के आहार को शामिल करें। शिकागो हेल्लेर्स डॉट कॉम प्रैक्टिशनर करेन एरिक्‍सन शेक्नोव्स के अनुसार, पीला और संतरी रंग खुशी और हंसी को बढ़ावा देने और ध्‍यान केंद्रित में सुधार लाने में मदद करता है। अधिक रंगों से घिरे होने पर आप अधिक खुश महसूस करते हैं। image courtesy : getty images

दयालुता की भावना

दयालुता की भावना इंसान की एक ऐसी खूबी है जो उसे स्वत: अच्छाइयों की तरफ ले जाती है। दयालुता अधिनियम न केवल दूसरों की आत्‍माओं को ऊंचा उठाने में मदद करता है बल्कि इस भावना से आप भी ऊंचे उठते हैं। अगर हम किसी को प्‍यार देंगे और उसके बारे में अच्‍छा सोचेंगे तो जाहिर सी बात है बदले में हमें प्‍यार और अपनापन मिलेगा। image courtesy : getty images

पर्याप्‍त नींद

पर्याप्‍त नींद त्‍वचा को खूबसूरत बनाने के साथ-साथ आपको खुश रखने में भी मदद करती है। इसलिए सोने और उठने के एक निश्चित समय का निर्धारण करें, ता‍की आपका शरीर इसका आदि हो जाये। नींद में कमी कम उत्‍पादकता और जरूरत से ज्‍यादा सोना नींद की मादकता जैसी समस्‍याओं को कारण बन सकता है। image courtesy : getty images

स्वस्थ खाओ

वजन, स्वास्थ्य और मूड: आहार कई चीजों को प्रभावित करता हैं। इसलिए अपने आहार में साबुत अनाज, फल, सब्जियां, प्रोटीन और स्वस्थ वसा की एक श्रृंखला को शामिल करें। प्रोटीन युक्त खाद्य पदार्थ अमीनो एसिड ट्रीप्टोफन, उत्साहजनक रूप से मूड वाले सेरोटोनिन को प्रोत्साहित करता हैं। मछली के तेल में पाया ओमेगा -3 फैटी एसिड मस्तिष्क में न्यूरोट्रांसमीटर को सकारात्मक रूप से प्रभावित करता हैं। image courtesy : getty images

खुश रहें

जनवरी का महीना मूड को लेकर बहुत कठिन होता है। इसलिए इस मौसम के दौरान उदास होने पर अपनी आंखें बंद करके बीते हुए दौर की किसी खुशनुमा घटना को याद करें जिस पर आपको गर्व हो या उसके बारे में सोचकर आपको खुशी मिलती हो। विस्तार से उस दौर को याद करें ताकि आपका तनाव दूर हो और आपका मूड भी अच्छा हो जाए। उस अनुभव को एक बार मन ही मन में जीने की कोशिश करें। image courtesy : getty images

भविष्य की ओर देखें

जनवरी को अधिक आकर्षक बनाने के लिए नए साल में कुछ रोमांचक चीजों की सूची बनाये। इसके लिए आपकी जरूरत क्‍या है, आप क्‍या चाहते हैं, किसी भी नए लक्ष्‍य के लिए आपके उद्देश्‍य क्‍या है, के बारे में सोचो। लाइफ कोच कैरोल ऐन राइस के अनुसार, आप अपने जीवन में क्‍या करना चाहते है, इसकी योजना तैयार करें। साथ ही घर, परिवार, स्वास्थ्य, कैरियर और भलाई जैसी चीजों के लिए एक रणनीति तैयार करें। भविष्य में खुशी के मौके पर अपना ध्यान केंद्रित करें। image courtesy : getty images

गहरी सांस लें

सांस भीतरी दुनिया को बाहरी दुनिया से जोड़ती है। इसकी सहायता से हम अपने शरीर तथा दिमाग में जमे हुए तनाव को बाहर निकाल सकते हैं। जब आप खुद में सर्दियों की उदासी महसूस करें तब गहरी सांस अंदर-बाहर करके आप काफी राहत महसूस करेंगे। इसके लिए धीरे-धीरे नाक के रास्ते गहरी सांस लें और धीरे-धीरे ही मुंह के रास्ते छोड़ दें। ऐसा पांच मिनट के लिए करें और आपको खुद में बदलाव महसूस होगा। image courtesy : getty images

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK