• shareIcon

याद्दाश्‍त सुरक्षित रखने के आसान उपाय

याद्दाश्‍त शक्ति क्षीण होने पर हम निश्चय रूप से स्वयं को असहाय स्थिति में पाते हैं। इसलिए याद्दाश्‍त को सुरक्षित रखना जरूरी होता है। आइए हम आपको बता रहे हैं ऐसे कुछ टिप्‍स जो आपकी मेमोरी को दुरुस्‍त रखने में मददगार साबित होंगे।

मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य By Kriyanshu Saraswat / Apr 19, 2014

याद्दाश्‍त को ऐसे रखें सुरक्षित

भागदौड़ भरी जिंदगी के बीच लोगों में छोटी-छोटी बातों को भूलने की आदत बढ़ रही है। यदि आप कुछ बातों का ध्‍यान रखें तो अपनी याद्दाश्‍त को बेहतर कर सकते हैं। आगे की स्‍लाइड में हम आपको बता रहे हैं ऐसे ही कुछ टिप्‍स जो आपकी मेमोरी को दुरुस्‍त रखने में मददगार साबित होंगे।

लिखने की आदत बनाएं

कहते हैं इनसान सब कुछ भूल सकता है, लेकिन अपने दस्‍तखत नहीं। एक जर्नल में प्रकाशित शोध के मुताबिक यदि आप चीजों को लंबे समय तक याद रखना चाहते हैं तो उन्‍हें लिखने की आदत डालें। जिंदगी में घटित होने वाली घटनाओं को लिखने से ये आपको लंबे समय तक याद रहती हैं। जरूरत पढ़ने पर लिखे तथ्‍यों को पढ़ने पर ये आपके दिमाग में ताजी हो जाते हैं।

आस-पास की चीजों की पहचान करें

कार पार्क करने के बाद आप भूल जाते हैं कि आपने कार कहां खड़ी की थी तो इसके लिए कार के आस-पास के माहौल को एक बार अच्‍छे से देख लें। यानी कार के पीछे और साइड में क्‍या है? ऐसा करने से आपको कार पार्क करने की जगह याद रहेगी।

इंटरनेट पर सर्च करें

यूनिवर्सिटी ऑफ कैलीफोर्निया में हाल ही में हुए अध्‍ययन के मुताबिक यदि आप नियमित तौर पर कुछ समय के लिए इंटरनेट पर रोजाना सर्च करते हैं तो इससे आपकी याद्दाश्‍त सुरक्षित रहती है। ऐसा करने से आपको पिछली चीजों को याद करने में भी आसानी होती है।

नियमित व्‍यायाम करें

नियमित व्‍यायाम सेहत और दिमाग दोनों के लिए फायदेमंद रहता है। न्‍यूरोबॉयोलाजी ऑफ लर्निंग एंड मेमोरी में प्रकाशित अध्‍ययन के मुताबिक हर रोज कसरत करने से याद्दाश्‍त पहले के मुकाबले 20 फीसदी तक मजबूत हो जाती है।

थोड़ी-थोड़ी पिया करो

अल्‍जाइमर डिजीज जर्नल में प्रकाशित एक विश्‍लेषण में कहा गया है कि जो लोग हर हफ्ते कम मात्रा में एल्‍कोहल का सेवन करते हैं, उनकी सामान्‍य लोगों के मुकाबले बातों को भूलने की आशंका कम होती है। हफ्ते में एक बार एल्‍कोहल का सेवन करने वाले लोगों को अपनी जिंदगी से जुड़ी बातें कहीं ज्‍यादा याद रहती हैं।

कार्बोहाइड्रेट का सेवन करें

एक अध्‍ययन में व्‍यक्ति की याद्दाश्‍त और खाने में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा के बीच संबंध पाया गया है। अध्‍ययन में कहा गया है कि जिन लोगों के भोजन में कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती है, उनकी याद रखने की क्षमता भी कम होती है। कार्बोहाइड्रेट की कम मात्रा लेने वालों की मेमोरी संबंधी टास्‍क में परफारमेंस अच्‍छी नहीं पाई गई।

कुछ न कुछ पढ़ते रहें

याद्दाश्‍त मसल्‍स की तरह होती है। जिस तरह से मसल्‍स का इस्‍तेमाल ना करने से यह कमजोर होने लगती है। ठीक उसी तरह से हमारी याद्दाश्‍त भी लगातार इस्‍तेमाल करने से कमजोर होने लगती है। इसलिए कुछ न कुछ पढ़ने की आदत डालें।

पर्याप्त नींद

पर्याप्त नींद की कमी, बेचैनी और तनाव से याद्दाश्‍त में कमी आ आने लगती है। इसलिए याद्दाश्‍त को दुरूस्‍त रखने के लिए कम से कम 7 घंटे की नींद जरूर लेनी चाहिए। डॉक्‍टर भी यह मानते हैं कि पौष्टिक आहार के सेवन, नियमित व्यायाम के साथ भरपूर नींद से भी याद्दाश्त सु‍रक्षित रखी जा सकती है।

ओमेगा-3 फैटी एसिड का सेवन

मस्तिष्‍क के लिए ओमेगा-3 फैटी एसिड लाभदायक होता है। इसलिए अपने आहार में मछली, सरसों का तेल, सोयाबीन, अखरोट, अलसी को शामिल करें। अलसी में ओमेगा-3 फैटी एसिड की मात्रा बहुत अधिक होती है। इसके अलावा विटामिन-बी1 से नर्वस सिस्टम बेहतर होकर याद्दाश्‍त सही रहती है।

ध्‍यान

ध्‍यान बौद्धिक कार्यों को प्रभावशाली तरीके से करने में मदद करता है। यदि आपकी याददाश्त कमजोर है तो इसे ध्यान के द्वारा आसानी से दूर किया जा सकता है। वैज्ञानिकों के अनुसार, मात्र दस मिनट के लिए आंखें बंद करके ध्‍यान करने से याद्दाश्‍त ठीक रहती है। इसे करने के लिए आप सुखासन में बैठ जाएं और आलार्म लगाकर मात्र दस मिनट के लिए आंखें बंद कर लें और सिर्फ सांसों के आवागमन पर ध्यान दें। ऐसा प्रतिदिन कम से कम 30 दिन तक करें।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK