अपने दिमाग की मांसपेशियों की करें कसरत

जिस तरह शरीर को फिट रखने के लिये व्यायम की जरूरत होती है, ठीक उसी तरह दिमाग को भी फिट रखने के लिये व्यायाम कर अपनी मांसपेशियों को दुरुस्त करने की जरूरत होती है।

मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य By Rahul Sharma / Nov 07, 2014
दिमाग की कसरत

दिमाग की कसरत

शरीर को फिट रखने के लिए हम व्‍यायाम का सहरा लेते हैं। लेकिन दिमाग का क्‍या। उसे भी फिट रखने के लिए हमें व्‍यायाम की जरूरत पड़ती है। दिमागी कसरत आपके दिमाग की कार्यक्षमता में इजाफा करती है। कहा जाता है कि एक आम इन्‍सान अपने पूरे जीवनकाल में अपने दिमाग के केवल पांच छह प्रतिशत हिस्‍से का ही उपयोग कर पाता है, इस बात में तथ्‍यों कि कमी हो सकती है, लेकिन इतना जरूर कहा जा सकता है कि यदि अपने दिमाग की कसरत कराते रहें तो हम ज्‍यादा तेज सोच सकते हैं, और अपनी याद्दाश्त को भी सुधार सकते हैं।  
Image courtesy: © Getty Images

याददाश्त की एक्सरसाइज़

याददाश्त की एक्सरसाइज़

अच्छे आईक्यू के लिए याददाश्त तेज होना बेहद जरूरी होता है। इसके लिए एक आसान सी कसरत करें। सबसे पहले शांत दिमाग से बैठें और अपने किसी सफर या किसी जुड़ी घटना आदि को याद करें और जो कुछ याद आए उसकी एक लिस्ट बनाते जाएं। इससे मस्तिष्क में एसीटाइकोलाइन की मात्रा बढ़ती है और दिमाग अधिक सक्रिय होता है।
Image courtesy: © Getty Images

नींद लें, सपने देखें और बढ़ाएं आईक्यू

नींद लें, सपने देखें और बढ़ाएं आईक्यू

हॉवर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा किए एक शोध में पाया गया कि जब हम चैन की नींद सोते हैं तो हमारी याददाश्त, घटनाओं को याद रखने का काम करती है और इससे दिमाग़ की कसरत होती है। खासतौर पर सपने देखते वक्त हमारा दिमाग अधिक सक्रिय रहता है। ‌इसलिए रोज सही समय पर सोएं और भरपूर नींद लें।
Image courtesy: © Getty Images

पहेलियां बुझाएं (ब्रेन गेम खेलें)

पहेलियां बुझाएं (ब्रेन गेम खेलें)

हाल में हुए एक शोध के दौरान यह पता चला क्रॉसवर्ड या सुडोकू जैसी पहेलियां या माइंड गेम्स रोजाना लेखने से याददाश्त तेज रखने, मानसिक रोगों से दूर रखने और दिमाग को सक्रिय रखने में मदद करते हैं। ब्रेन गेम दिमाग की बेहतरीम कसरत होते हैं।
Image courtesy: © Getty Images

मल्टीटास्किंग

मल्टीटास्किंग

मल्टीटास्किंग अर्थात एक साथ कई काम करना दिमाग की कसरत करा देते हैं। तो दिम में कुछ समय मल्टीटास्किंग भी करें, यह दिमाग को तेज करने में मदद करती है। जैसे कि एक्सर्साइज के साथ म्यूजिक सुनना आदि। लेकिन ध्यान रहे कि मल्टीटास्किंग के साथ-साथ अच्छी डाइट व पूरा आराम भी जरूरी है वरना आप स्ट्रेस का शिकार हो सकते हैं।
Image courtesy: © Getty Images

डाइट का खयाल रखें

डाइट का खयाल रखें

आप सोच रहे होंगे कि खाकर भला दिमाग़ की करसत कैसे हो सकती है। लेकिन आईक्यू बढ़ाने के लिए हेल्दी डाइट के साथ-साथ नींबू पानी, करौंदे का जूस जैसे ड्रिंक्स लेने से रक्तसंचार तेज होता है और दिमाग में रक्त का प्रवाह आसानी से होता है।  
Image courtesy: © Getty Images

बढ़ाएं अपनी फिटनेस का स्तर

बढ़ाएं अपनी फिटनेस का स्तर

एरोबिक एक्सरसाइज़ से शरीर तो तंदुरुस्त बनता ही है, साथ ही दिमाग की कोशिकाओं यानी न्यूरॉन्स का भी निर्माण भी होने लगता है। दौड़ने से भी दिमाग़ में नई कोशिकाएं बनने लगती हैं। इस प्रकार के कार्डियो व्यायाम करने से दिमाग का वो हिस्सा अधिक सक्रियता से काम करता है जो याद रखने और नई चीजें सीखने के लिए महत्वपूर्ण हैं।
Image courtesy: © Getty Images

अन्य भाषाएं भी सीखें

अन्य भाषाएं भी सीखें

आप दो या उससे भी अधिक भाषाओं में बात करते हैं, तो ये आपके लिए खुशखबरी है। दिमाग को तेज बनाने के लिए उसका सही उपयोग करना बहुत जरूरी होता है। ब्रिटेन के शोधकर्ताओं के अनुसार दो भाषा बोलने वाले बेहतर ढंग से कैल्कुलेशन करते हैं।
Image courtesy: © Getty Images

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK