Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

रूप निखारे, सेहत बनाये खस-खस

पौष्टिकता से भरा खसखस अपने औषधीय लाभों के कारण जाना जाता है। आइए जानें खसखस के स्वास्थ्य लाभ में से कुछ लाभों के बारे में इस स्‍लाइड शो में।

घरेलू नुस्‍ख By Pooja SinhaMar 14, 2014

खसखस

खसखस किडनी के आकार का बीज होता है। इसे लोग पॉपी सीड के नाम से भी जानते हैं। खसखस प्यास को बुझाता है और ज्वर, सूजन और पेट की जलन से राहत दिलाता है और यह एक दर्द-निवारक भी है। लंबे समय से ही प्राचीन सभ्यता में इसका इस्‍तेमाल औषधीय लाभों के लिए किया जाता है। आइए जानें खसखस के स्वास्थ्य लाभ में से कुछ लाभों के बारे में। Image Courtesy: Getty Images

पोषण

खसखस के बीज ओमेगा-6 फैटी एसिड, प्रोटीन, फाइबर का अच्छा स्रोत हैं। इसके अलावा इसमें विभिन्न फाइटोकेमिकल्स, विटामिन बी, थायमिन, कैल्शियम और मैंगनीज भी होता हैं। इसलिए खसखस को एक उच्च पोषण वाला आहार माना जाता है। Image Courtesy: Getty Images

अनिद्रा

खसखस नींद से जुड़ी समस्‍याओं में मदद करता है क्‍योंकि इसके सेवन से आपके अन्‍दर सोने के लिए मजबूत इच्‍छा पैदा होती हैं। अगर आप भी अनिद्रा की समस्‍या से परेशान हैं, तो सोने से पहले खसखस के पेस्‍ट को गर्म दूध के साथ सेवन करना समस्‍या में बहुत प्रभावी साबित हो सकता है। Image Courtesy: Getty Images

कब्ज

खसखस फाइबर को बहुत अच्छा स्रोत हैं। इसमें इसके वजन से लगभग 20-30 प्रतिशत आहार फाइबर शामिल होता हैं।  फाइबर स्वस्थ मल त्याग में और कब्ज की समस्‍या को दूर करने में बहुत लाभकारी होती है। लगभग 200 ग्राम खसखस आपके दैनिक फाइबर की जरूरत को पूरा कर सकता हैं। Image Courtesy: Getty Images

श्वसन संबंधी विकार

खसखस के बीज में शांतिदायक गुण होने के कारण यह सांस की बीमारियों के इलाज में बहुत कारगर हो सकता है। यह खांसी को कम करने में मदद करता है और अस्थमा जैसी समस्याओं के खिलाफ लंबे समय तक राहत प्रदान करता है। Image Courtesy: Getty Images

एंटीऑक्सीडेंट

माना जाता है कि खसखस में बहुत अधिक मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट मौजूद होने के कारण इसमें अद्भुत एंटीऑक्सीडेंट गुण होते है। ये एंटीऑक्‍सीडेंट फ्री रेडिकल के हमलों से अंगों और ऊतकों की रक्षा करते है। इसलिए इन सब खतरों से बचने के लिए हमें अपने आहार में खसखस को शामिल करना चाहिए। Image Courtesy: Getty Images

किडनी में पथरी

खसखस किडनी में पथरी के गठन को रोकने में बहुत कारगर होता है। खसखस में मौजूद ओक्सलेट्स शरीर से अतिरिक्त कैल्शियम को अवशोषित करता है, जिससे किडनी में क्रिस्‍टलीकरण रोकने में मदद मिलती है। यह सब किडनी में पथरी को बनने से रोकता है। Image Courtesy: Getty Images

शांतिकर औषधि

सूखी खसखस को प्राकृतिक शांति प्रदान करने वाली औषधि माना जाता है क्‍योंकि इसमें थोड़ी से मात्रा में ओपियम एल्कलॉइड्स नामक रसायन होता है। यह रसायन तंत्रिका की अतिसंवेदनशीलता, खांसी और अनिद्रा को कम करते हुए आपकी तंत्रिका तंत्र पर एक न्‍यूनतम प्रभाव उत्‍पन्‍न करती है।
Image Courtesy: Getty Images

दर्द-निवारक

खसखस एक लोकप्रिय दर्द-निवारक भी है। खसखस में मौजूद ओपियम एल्कलॉइड्स नामक रसायन होता है, जो दर्द-निवारक  के रूप में बहुत कारगर होता है। खसखस को दांत में दर्द, मांसपेशियों और नसों के दर्द को दूर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। Image Courtesy: Getty Images

त्वचा की देखभाल

आयुर्वेद में तो हमेशा से ही खसखस को त्‍वचा के लिए अच्‍छा माना जाता है। यह एक मॉइस्‍चराइजर की तरह काम करता है और त्‍वचा की जलन और खुजली को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें मौजूद लिनोलिक नामक एसिड एक्जिमा के उपचार में भी मददगार होता है।
Image Courtesy: Getty Images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK