Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

फेसबुक पर पोस्‍ट डालने से पहले रखें इन बातों का खयाल

फेसबुक सारी दुनिया से अपने विचारों को साझा करने का शानदार मंच है। लेकिन, अकसर लोग इस पर कुछ भी पोस्‍ट कर देते हैं। इसलिए यह जानना जरूरी है कि आखिर फेसबुक पर कुछ भी अपलोड करने से पहले किन बातों को जरूर ध्‍यान में रखना चाहिए।

मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य By Bharat MalhotraMar 20, 2014

फेसबुक पर अपडेट

फेसबुक ने सारी दुनिया को एक मंच पर लाकर खड़ा कर दिया है। दुनिया भर में एक अरब से ज्‍यादा लोग इसका इस्‍तेमाल करते हैं। इस लिहाज से देखा जाए, तो यह दुनिया का तीसरा सबसे बड़ा मुल्‍क है। यहां लोग अपने विचार साझा करते हैं। लेकिन, क्‍या फेसबुक पर कुछ भी डाल देना सही है। शायद नहीं। फेसबुक आपकी ऑनलाइन पहचान का आइना है। इसलिए यहां की गयी आपकी सभी गतिविधियों पर सबकी नजर होती हैं। Image Courtesy-walton

आखिर क्‍या है अपडेट का मकसद

क्‍या आप कोई जानकारी साझा कर रहे हैं। या फिर कुछ हल्‍के-फुल्‍के अंदाज में कही गयी बात। किसी भी पोस्‍ट के पीछे कोई सार्थक उद्देश्‍य जरूर होना चाहिए। आपने रात में क्‍या खाया और पिया इससे लोगों को भला क्‍या सरोकार हो सकता है। हां, यदि उस भोजन की रेसेपी शानदार हो, तो आप उसे जरूर लोगों के साथ साझा कर सकते हैं। और यह जानने में उनकी दिलचस्‍पी भी हो सकती है।

कौन हैं पढ़ने वाले

क्‍या आपके बॉस, पिता, बेटी अथवा दोस्‍त की बेटी के लिए कुछ बातें जाननी जरूरी नहीं। आपको यह बताने और पोस्‍ट करने की कोई जरूरत नहीं कि बार में आपने क्‍या किया और किसके साथ झगड़ बैठे। यहां ऐसी कोई बात न लिखें और कहें जो आप अपने परिवार के सामने नहीं कह सकते। आपकी भाषा संयत होनी चाहिए।

तीन चार बहुत हैं यार

सारा दिन फेसबुक पर पोस्‍ट करते रहना कोई अच्‍छी बात नहीं। यदि आप तीन-चार पोस्‍ट कर चुके हैं, तो अब वक्‍त है कि आप फेसबुक छोड़ टि्वटर पर लॉग इन कर लें। इससे ज्‍यादा बार पोस्‍ट करने से दूसरे लोगों को बोरियत का अहसास हो सकता है।

दो पल में मिटने वाली भावनायें

कई बार हम भावनाओं के संवेगों को नहीं संभाल पाते और फेसबुक पर इनका जिक्र कर देते हैं। अपना दुखड़ा और शिकायत सब फेसबुक पर करते हैं। याद रखिये यह आपकी निजी जिंदगी है और इसके बारे में यूं खुलेआम बात करना अच्‍छी बात नहीं है। ऐसे में फेसबुक वॉल महज भड़ास निकालने की जगह भर रह जाती है। बाद में भले ही आपको इस बात का अहसास हो कि आपने पल भर की भावनाओं का जिक्र यहां करके अच्‍छा नहीं किया, लेकिन तब तक काफी देर हो जाती है।

लाइक पाने की चाह

हम अकसर यह सोचकर कोई पोस्‍ट या स्‍टेटस डालते हैं कि उसे ज्‍यादा से ज्‍यादा हिट अथवा लाइक मिलेंगे। क्‍या होता है जब हमारी आकांक्षायें पूरी नहीं होतीं। असली जिंदगी की तरह इस आभासी दुनिया में भी जब हम कोई काम केवल और केवल दूसरों को प्रभावित करने के लिए करते हैं, तो हमारे हाथ निराशा और दुख ही आता है। जब आप कोई काम शिद्दत से करते हैं, तो आपको उसके लिए दूसरों के अनुमोदन की जरूरत नहीं होती। तो, यदि आपके स्‍टेटस को अधिक पसंद न भी किया जाए, तो निराश या हताश होने की जरूरत नहीं है।

क्‍या मैं बोर हो रहा हूं

जिंदगी कहीं अटक गयी है, तो आपकी पोस्‍ट ऐसी होनी चाहिए, जो आपको आगे बढ़ने में मदद करे। विचार करें ऐसी कौन सी चीजें हैं, जो इस मुश्किल घड़ी में आपके काम आ सकती हैं। कौन सी ऐसी चीजें हैं जो आपको जीवन में आगे बढ़ने में मदद कर सकती हैं। लेकिन साथ ही इस बात का भी खयाल रखें कि अपनी बोरियत को दूर करने के लिए ही फेसबुक पर कुछ भी अपडेट करना न शुरू कर दें। इससे आपको काफी परेशानी हो सकती है। हो सकता है कि बाद में आपको एहसास हो कि आपने कुछ गलत डाल दिया है।

आपकी वॉल आपकी डायरी नहीं

याद रखिये आपकी फेसबुक वॉल आपकी निजी डायरी नहीं है। यहां आप जो कुछ भी कहते-करते हैं वह सामाजिक मंच पर साझा हो जाता है। अब वह सबके लिए आसानी से उपलब्‍ध है। तो, यह न समझें कि आप अपनी वॉल पर ऐसा कुछ न लिखें जो आप बेहद निजी समझते हैं। निजी बातें सार्वजनिक मंच पर कहना बाद में परेशानी और उपहास का कारण बन सकता है। Image Courtesy - programmableweb

भावनायें न भड़कायें

आप किसी भी धर्म, पंथ, संप्रदाय को मानते हो, यह पूरी तरह से आपकी निजता का प्रश्‍न है। लेकिन, इसका अर्थ यह नहीं कि आप दूसरों के खिलाफ कुछ भी कहने लगें। आपको दूसरों की भावनाओं का सम्‍मान करना चाहिए। फेसबुक पर कही गयी एक गलत बात जंगल की आग की तरह फैलती है और इसके भयावह दुष्‍परिणाम हो सकते हैं। हम बीते कुछ बरसों में इसके ज्‍वलंत उदाहरण देख चुके हैं।

क्‍या यह सही है

कभी भावनाओं और कभी यूं ही बहकर हम किसी बात को शेयर कर देते हैं। अकसर ऐसी बातों को रोचक अंदाज में पेश किया जाता है, जिनका सच्‍चाई से कोई वास्‍ता नहीं होता। हम इस पक्ष को पूरी तरह से नजरअंदाज कर देते हैं। फेसबुक पर किसी भी बात को शेयर करने से पहले यह पुष्टि कर लें कि वह बात कितनी सही है। कहीं आप जाने अनजाने झूठ और भ्रामक तथ्‍यों का प्रचार तो नहीं कर रहे।

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK