Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

ये दर्द सिर्फ अजीब समय पर काम करने वाले ही समझते हैं

वे लोग जो छुट्टी के दिन या ऑड आवर्स में काम करते हैं, उनका दर्द और परेशानी सिर्फ ऐसे समय में काम करने वाले ही समझ सकते हैं।

मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य By Rahul SharmaJun 05, 2014

ऑड आवर्स में काम

क्या आपने कभी सोचा है कि अगर आपको संडे के दिन दफ्तर में काम करना पड़े और आपके सारे साथी आपको पार्टी और आउटिंग के लिए फोन कर रहे हों तो आपके दिल पर क्या बीतेगी? जी हां ये ऐसा दर्द है जो सिर्फ अजीब समय पर काम करने वाले लोग ही समझ सकते हैं। तो चलिये जानते हैं कि क्या हैं ऑड आवर्स में काम करने के दर्द।  
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

आज सिर्फ आप कर रहे हैं काम

जब छुट्टी वाले दिन आप काम कर दफ्तर से बाहर निकलते हैं तो लगभग सभी पार्टी कर घर लौट चुके होते हैं और आपके साथ जाने के लिए कोई नहीं होता है। वाकई लगातार कई हफ्तों तक ऐसा होने पर आपको बहुत बुरा लगेगा।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

जब कोई वीकएंड वीश करे तो

जब आप दफ्तर में काम करते समय फेसबुक या ट्विटर पर अपने दोस्तों को वीकएंड विश पोस्ट देखते हैं और उसके वीकएंड प्लान के बारे में रोचक तैयारी और उत्साह देखते हैं तो मन करता है कि तुरंत ही ऑफ लाइन हो जाएं।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

आई हेट फ्राइडे सोंग्स

वीक ऑफ के दिनों काम करने वाले लोगों को जब कभी कोई फ्राइडे मस्ति या वाकऑफ पार्टी गीत सुनाई देता है तो वे अन्य लोगों से उलट रोने जैसा महसूस करते हैं। क्योंकि ये दिन केवल और लोगों के लिए ही मजेदार होता है।  
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

रात को शोपिंग

ऑड आवर्स और दिनों में काम करने वाले लोग जब रात को 2 बजे ग्रोसरी का समान लनें 24 घंटे खुलने वाले स्टोर में जाते हैं तो उनका दर्द वो ही समझ सकते हैं।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

आंखों के नीचे काले घेरे

अक्सर सामान्य साइकिल से हटकर काम करने वाले लोगों को तनाव और नींद पूरी ना हो पाने की शिकायद होती है, जिस कारण अनकी आंखों के नीचे काले घेरे भी बन जाते हैं। ये काले घेरे समस्या को और ज्यादा बढ़ा देते हैं।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

बार-बार वीकएंड बधाइयां

वाकई जब आपको शनिवार और रविवार काम करना होता है और आपके सहकर्मी या कोई अन्य इंसान आपको शुक्रवार के दिन जाते हुए बार-बार खुश होकर वीकएंड विश करता है तो तन-बदन में आग सी लग जाती है।   
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

आपके पीछे की गॉसिप

जब आप अन्य लोगों से उलट रात की शिफ्ट में या वीकऑफ में काम करते हैं तो आपके पीछे क्या गॉसिप हुई हैं, इसका आपको कोई अंदाजा नहीं होता है। जो आपको बेहद परेशान करता है।
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

उत्सव ना मना पाने का दुख

ऑड आवर्स में काम करने से आप ना सिर्फ दफ्तर की पार्टियों में सम्मिलित हो पाते बल्कि घर में हो रहे उत्सवों और परिवार जनों की खुशी में भी शामिल नहीं हो पाते हैं। है ना ये बेहद दुखदायक?     
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

जब लोग आपकी परेशानी नहीं समझते

जब आपके दोस्त आपको अपनी जन्मदिन की पार्टी में बुलाता है और आपके ना आ पाने के कारण को समझने को राजी नहीं होता तो आपको लगता है कि या तो आप उसके गाल पर एक तमाचा रख दें, या अपने बॉस के।  
courtesy: © Thinkstock photos/ Getty Images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK