• shareIcon

इस तरह अपनाएंगे खानपान, तो हमेशा टूटते रहेंगे आपके बाल

त्‍वचा की तरह आपके बालों और नाखूनों पर भी खाद्य पदार्थों का असर पड़ता हैं। आहार में पोषक तत्‍वों की कमी से आपके नाखून भंगुर और ड्राई हो जाते हैं और बाल पतले और गिरने लगते हैं।

फैशन और सौंदर्य By Rashmi Upadhyay / Jul 25, 2018

आहार का नाखून और बालों पर असर

त्‍वचा की तरह बालों और नाखूनों के स्‍वास्‍थ्‍य को भी आपका आहार प्रभावित करता हैं। आहार में पोषक तत्‍वों की कमी से आपके नाखून भंगुर और ड्राई हो जाते हैं और बाल पतले और गिरने लगते हैं। "फीड योर फेस" एंड स्किन एंड ब्यूटी एक्सपर्ट फॉर डेली ग्लो के लेखक और त्‍वचा विशेषज्ञ जेसिका वू, एमडी के अनुसार, आहार का आपके समग्र स्‍वास्‍थ्‍य पर असर पड़ता है। image courtesy : getty images

नाखून और बालों के लिए आहार

बाल और नाखून दोनों एक ही तरह के प्रोटीन केरातिन से बने होते हैं, इसलिए समान आहार विकल्‍प दोनों को प्रभावित करता है। वैसे तो बहुत कम अनुसंधान त्‍वचा की तरह बाल और नाखून पर आहार की भूमिका का वर्णन करते हैं, लेकिन अगर आप भंगुर नाखून या पतले बालों को लेकर चिंतित हैं, तो आपको यहां दिये कुछ खाद्य पदार्थों को अपने आहार में शामिल नहीं करना चाहिए। image courtesy : getty images

उच्‍च पारे वाली मछली

बहुत ज्‍यादा मछली खाना भी बालों और नाखूनों के लिए नुकसानदेह हो सकता है। कुछ मछलियों में बहुत अधिक मात्रा में पारा होता है और बहुत अधिक मात्रा में पारा बालों के झड़ने का कारण होता है। एफडीए के अनुसार, स्वोर्डफिश और मैकरील जैसी मछलियों में पारे की उच्‍च मात्रा जबकि ट्यूना, सामन और श्रिम्प में पारे की मात्रा बहुत कम होती है। image courtesy : getty images

चीनी

वू के अनुसार, त्‍वचा की तरह चीनी आपके बालों और नाखूनों के लिए बहुत खराब होती है। मिठाई खाने से आपके ब्‍लड शुगर का स्‍तर बढ़ जाता है। और शरीर में ब्‍लड शुगर की वृद्धि से एण्‍ड्रोजन का स्‍तर भी बढ़ जाता है। इसके परिणामस्‍वरूप पुरुष हार्मोंन महिला और पुरुषों दोनों में बालों के कूप सिकुड़ जाने का कारण बनता हैं।  image courtesy : getty images

हाई ग्लाइसेमिक खाद्य पदार्थ

चीनी की तरह स्‍टार्च वाले खाद्य पदार्थ भी बालों और नाखूनों को समान रूप से प्रभावित करते हैं। वू के अनुसार, स्‍टार्च सफेद ब्रेड, पास्ता और केक शरीर में ऐसी ही प्रतिक्रिया का कारण बनते हैं और बालों के झड़ने का नेतृत्व कर सकते हैं। रिसर्च के अनुसार, हाई ग्‍लाइसेमिक आहार से एण्‍ड्रोजन का स्‍तर बढ़ जाता है जबकि कम ग्लाइसेमिक सूचकांक आहार इसे कम कर सकता है।  image courtesy : getty images

विटामिन 'ए' का अधिक सेवन

विटामिन ए की अति उच्‍च खुराक भी बालों के झड़ने का कारण होती है। आमतौर पर मल्‍टीविटामिन में खतरनाक मात्रा शमिल नहीं होती जबकि विटामिन ए सप्‍लीमेंट में होती है। वू के अनुसार, कुछ दवाओं में पाया जाने वाला संबंधित यौगिक जैसे एक्‍यूटेन, इसी कारण से कुछ उपचार के दौरान बालों के झड़ने का कारण होता है।  image courtesy : getty images

बहुत कम प्रोटीन

वू के अनुसार, बाल और नाखून प्रोटीन से बने होते हैं, इसलिए जो लोग पर्याप्‍त मात्रा में प्रोटीन नहीं लेते उन्‍हें भंगुर नाखून या बालों के झड़ने की समस्‍या का सामना करना पड़ता है। प्रोटीन केवल मीट से ही प्राप्‍त नहीं होता बल्कि सेम, टोफू, पालक, दाल आदि बहुत से खाद्य पदार्थ फायदेमंद होते हैं। विशेष रूप से अमीनो एसिड के साथ फूड्स जो केरातिन बनाता है, सिस्‍ट‍िन कहलाता है। पोर्क, ब्रोकोली, वीटग्राम और लाल मिर्च में यह बहुत अधिक मात्रा में पाया जाता है।  image courtesy : getty images

आयरन और जिंक की कम मात्रा

नाखूनों में छोटे-छोटे सफेद धब्‍बे कैल्शियम के जमा होने का संकेत देता है, यह धारणा गलत है। रीडर्स डाइजेस्ट के अनुसार, यह धब्‍बे आपके आहार में जिंक की कमी का संकेत होते है। आयरन और जिंक- स्‍वाभाविक रूप से दोनों एक साथ लाल मांस और कुछ समुद्री भोजन में पाये जाते हैं - और केरातिन गठन के लिए आवश्यक होते हैं। वू के अनुसार, आहार में इन दोनों की कमी से बाल और नाखूनों की समस्‍याएं हो जाती हैं। आयरन और जिंक दोनों कुछ प्राकृतिक सेम में भी पाया जाता हैं।  image courtesy : getty images

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK