Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

सच्‍चा जीवनसाथी मिलने के 10 संकेत

ज़िदगी के इस लंबे सफर में हम सब ही एक नए रिश्तों में बंधते हैं। लेकिन एक रिश्ता ऐसा होता है, जिसका कोई सानी नहीं होता। ये रिश्ता होता है जीवन साथी का। शायद ऐसे साथी को ही सोल मेट भी कहा जाता है।

डेटिंग टिप्स By Rahul SharmaFeb 16, 2015

सच्‍चा जीवनसाथी मिलने के संकेत

ज़िदगी के इस लंबे सफर में हम सब ही एक नए रिश्तों में बंधते हैं। लेकिन एक रिश्ता ऐसा होता है, जिसका कोई सानी नहीं होता। ये रिश्ता होता है जीवन साथी का। अगर इसे सोल मेट भी कहा जाए तो भी गलत न होगा। वेसे तो इसे शब्‍दों में बयां कर पाना थोड़ा मुश्‍किल है, लेकिन सोलमेट का शाब्दिक अर्थ होता है 'आत्‍मा से साथी'। इस रिश्‍ते में दोनों ही लोग एक दूसरे के साथ खुश रहते हैं, सभी अच्छे बुरे पलों को साथ में जीते हैं और जीवन के परसुख की प्राप्ति करते हैं। लेकिन सच्‍चा जीवनसाथी मिलने के भी कुछ संकेत होते हैं जिनको पहचानना भी बेहद जरूरी होता है। तो चलिये जानें सच्‍चा जीवनसाथी मिलने के 10 संकेत क्या हैं।
Images courtesy: © Getty Images

हर सुख-दुख साझा करना

अक्सर हमारे आस-पास कुछ दोस्त व रिश्तेदार मौजूद होते हैं, जिनसे हम अपने मन की कई सारी बातें कह सकते हैं। लेकिन कभी-कभी न जाने क्यों हम किसी एक ऐसे व्यक्ति से वो सारी बातें कह जाते हैं जिनका उन बातों से कोई लेना-देना ही नहीं होता। लेकिन जब फिर भी वो इंसान आपकी बालों को लेकर संजीदा होता है और मदद का हाथ आगे बढ़ाता है, तो इससे स्पष्ट हो जाता है कि वो आपको दुखी नहीं देखना चाहता और आपकी परवाह करता है। एक प्रकार से वो इस प्रकार अपनी मौजूदगी और परवाह बताने की कोशिश भी करता है।
Images courtesy: © Getty Images

ईर्ष्या

आपके किसी और से बात करने पर वो चिड़चिड़ा जाए या आपके पुराने प्रेमी या प्रेमिका के ज़िक्र पर उन्हें झुंझलाहट हो तो समझ लीजिए कि उनके दिल में आपके लिए एक ख़ास जगह है। यही नहीं आपके पास रहने पर उनके बदलते हाव भाव आपके कई सवालों का जवाब देते भी नज़र आते हैं।
Images courtesy: © Getty Images

रिश्ते में 'हम' का महत्व

इंसानी फितरत है कि जब हम किसी के लिए कुछ करते हैं तो उसे जताना नहीं भूलते। अगर प्यार के रिश्ते के बीच 'मैं' आ जाए तो रिश्तों में दरारें पड़ने लगती हैं। लेकिन जब आप 'मैं' से हटकर 'हम' पर आते हैं तो रिश्ते में दूसरे व्यक्ति के महत्व को दर्शाते हैं। मसलन आप इस बात को समझते हैं कि आपका कोई फैंसला दूसरे के जीवन को प्रभावित करता है। रिश्ते को निभाना किसी एक का नहीं बल्कि दोनों का काम होता है। तो यदि कोई आपको हम की भावना का अहसास कराए तो समझ लीजिये ये वही है।
Images courtesy: © Getty Images

लड़ाई-झगड़े फर्क पैदा नहीं करते

लड़ाई झगड़े के बावजूद भी आप एक साथ रहते हैं, और उतना ही प्रेम है तो ये बेहतर जीवन साथी होना का एक बड़ा संकेत होता है। देखिये कोई भी रिश्‍ता परफेक्‍ट नहीं होता, सभी में उतार-चढ़ाव आते ही हैं, लेकिन बावजूद इसके भी जब आप दोनों के बीच कोई गलतफहमी नहीं होती है और आप एक दूसरे की हर बात को समझते हैं तो ये सच्चे प्यार का बड़ा उदाहरण होता है।
Images courtesy: © Getty Images

विश्वास की भावना

भले ही किसी भी प्रकार की कोई समस्‍या हो, लेकिन आप कभी उन्‍हें बताने में हिचकिचाहट महसूस नहीं करते हैं। और किसी खटास के आने पर भी आप बुरी यादों को हटाकर, अच्छी बातों की साथ में रहना ही पसंद करते है।
Images courtesy: © Getty Images

सारी दुनिया से अलग होने का अहसास

अगर दिमाग में हर वक्त बस उसका ही ख्‍याल रहता हो तो स्‍वाभाविक है कि आपके लिये वो इंसान बेहद खास है। ऐसा प्‍यार में भी होता है लेकिन प्‍यार में ये फीलिंग केवल कुछ महीनों तक होती है, जबकि सोलमेट के साथ ऐसी फीलिंग हमेशा ही बनी रहती है।
Images courtesy: © Getty Images

दिमाग से इम्‍प्रेस रहते हैं

यदि आप दोनों के बीच दिमागी कनेक्‍शन इतना मजबूत है कि आप दोनों एक साथ ही कई चीज़ें समान्जस्य बिठाकर हर कर लेते हैं और कई बातों में समानता रखते हैं तो इस टर्म को सोलमेट ट्यूनिंग कहा जाता है। यही नहीं आप दोनों एक दूसरे की आंखों में देखकर हर बात करते हैं। ये परफेक्ट कपल का बेहतरीन उदाहरण है।
Images courtesy: © Getty Images

कभी कोई वादा ना तोडें

प्यार में कसमें तो बहुत खाई जाती है लेकिन निभाई कम ही जाती हैं। लेकिन किसी खास से किए गए वादे के टूटने का डर आपके मन को विचलित करे व आप इस वादे को पूरा करने के प्रयासों में तन-मन से जुट जाएं तो समझ लीजिए की आपको प्यार हो गया है। वादों के पूरा होने पर एक दूसरे पर विश्वास बढ़ता है।
Images courtesy: © Getty Images

खुशी

उनके नजरों के सामने आने पर आपके होठों पर खिलती मुस्कान, उनकी खुशी में खुश होना, उनके आने से सारे गमों को भूल जाना आदि सभी प्यार के ही लक्षण हैं। ये लक्षण आपको इस बात का एहसास दिलाते हैं कि वह इंसान आपके जीवन में कितना खास है।
Images courtesy: © Getty Images

आप उनके साथ सहज व सुरक्षित महसूस करते हैं

इस बात में कोई शक नहीं कि आप अपने सोलमेट या जीवनसाथी के साथ हमेशा सुरक्षित और सहज महसूस करते है। किसी भी तरह का डर मन में होने पर आप उन्‍हें अपने साथ पाकर ही कम्‍फर्टटेबल हो जाते हैं और किसी भी बात को साझा करने में संकोच महसूस नहीं करते।
Images courtesy: © Getty Images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK