• shareIcon

आंखों के लिए 10 हर्ब

आंखों को प्राकृतिक रूप से मजबूत बनाने के लिए हर्ब हमेशा से एक बेहतर विकल्प रहे हैं। हर्ब न सिर्फ आपकी आंखों की शक्ति बढ़ाते हैं, बल्कि मोतिया और अन्य रोगों से लड़ने की शक्ति भी प्रदान करते हैं।

घरेलू नुस्‍ख By Rahul Sharma / Jan 21, 2014

आंखों के लिए हर्ब

आंखों को प्राकृतिक रूप से मजबूत बनाने के लिए हर्ब हमेशा से एक बेहतर विकल्प रहा है। कुछ ऐसे हर्ब होते हैं जो न सिर्फ आपकी आंखों की शक्ति बढ़ाते हैं, बल्कि मोतिया और अन्य रोगों से लड़ने की क्षमता प्रदान सकते हैं। इसलिए चाहे आप अपनी आंखों की रोशनी को बरकरार रखना चाहें या कमजोर आंखों को ठीक, हर्ब इसके लिए एक कमाल का विकल्प होते हैं। आइये जानते हैं आंखों के लिए फायदेमंद 10 हर्ब कौन से हैं।

आईब्राइट (Eyebright)

आईब्राइट आंखों के इलाज की एक प्राचीन हर्ब है। इसका आइब्राइट नाम, इसके फूल के आंखों जैसा होने के कराण व इसकी आंखों की देखने की क्षमता को मजबूत बनाने के कारण है। शोध बताते हैं कि विशेष रूप से इसका उपयोग कंजक्टिवाइटिस से पीड़ित लोगों की लाल या खुजली वाली आंखों की पीड़ा कम करने के लिए किया जाता है।

मिल्क थिसल (Milk Thistle)

आंखों की समस्याओं का एक कारण, लिवर की खरीबी भी हो सकता है। मिल्क थिसल लिवर को ठीक रखते हैं, जिसकी मदद से आंखे भी स्वस्थ रहती हैं। शोध बताते हैं कि मिल्क थिसल न सिर्फ लिवर को ठीक रखता है, बल्कि डायबिटीज के मरीजों की आंखों को भी ठीक रखता है।

जिन्कगो (Ginkgo)

जिन्कगो रेटिना में रक्त के प्रवाह को बेहतर बनाता है। प्रारंभिक अनुसंधान से पता चलता है, कि इससे मोतियाबिंद वाले लोगों की दृष्टि में सुधार होता है। यह एंटीऑक्सीडेंट है, और आंख की तंत्रिकाओं की रक्षा करता है।

कॉलियस (Coleus)

कॉलियस में फोर्सकॉलिन होता है। फोर्सकॉलिन आईड्रोप आंख के भीतर तरल पदार्थ के उत्पादन को कम कर देती है, जिस वजह से आंख पर दबाव भी कम हो जाता है। यह मोतियाबिंद के उपचार में भी सददगार होती है।

अंगूर के बीज

अंगूर के बीज निश्चित रूप से आंखों के स्वास्थ्य को अच्छा बनाने वाली सबसे अच्छी जड़ीबूटियों मेंसे है। यह आंख के तनाव, मोतियाबिंद, मधुमेह रेटिनोपैथी जैसे नेत्र विकारों का मुकाबला करने में सक्षम होते हैं। इनमें मौजूद लिनोलेनिक एसिड, फ्लेवेनॉइड्स, विटामिन ई, निश्चित रूप से आंखों के लिए अच्छे होते हैं।

ग्रीन टी

ग्रीन टी में एंटी ऑक्सिडेट्स होते हैं। ग्रीन टी जहां एक और वजन घटाने और अमाशय के रोगों को दूर करने में लाभदायक है, वहीं यह आंखों के लिए भी बहुत उपयोगी होती है। चीनी विशेषज्ञों के अनुसंधान से पता चला है कि ग्रीन टी आंखों को संक्रमण से बचाती है। हरी चाय में पाए जाने वाले तत्व आंख में संक्रमण उत्पन्न करने वाली कोशिकाओं को समाप्त कर देती हैं। ग्रीन टी का नियमित प्रयोग मोतियाबिंद की बीमारी के जोखिम को भी कम कर देता है।

सौंफ

यदि आपकी आंखों में सूजन है या इनसे पानी जाता है, तो सौंफ एक ऐसी हर्ब जो आपको इन समस्याओं से निजात दिला सकती है। कच्चे सौंफ खाने, सौंफ की चाय पीने या इसके पानी से आंख धोने पर मोतियाबिंद और ग्लाउकोमा जैसे गंभीर समस्याओं में लाभ होता है, और आंखों की रोशनी भी तेज होती है।

केसर

सौंफ की ही तरह केसर भी एक ऐसा पाक मसाला है जो दृष्टि सुधार के साथ-साथ मोतियाबिंद जैसी समस्याओं में लाभ पहुंचाता है। एक चिकित्सीय परीक्षण में, केसर लेने वाले हर प्रतिभागी ने दृष्टि सुधार देखा गया। इसलिए शोधकर्ता कहते हैं कि बुजुर्गों की नजर कमजोर होने की समस्या को घटाने के लिए उन्हें केसर का सेवन करना चाहिए।

हल्दी

स्वास्थ्य और औषधीय प्रभाव के अपने विस्तृत श्रृंखला के लिए मशहूर, 'हल्दी' आंखों के लिए लाभ की अपनी बढ़ती संख्या के लिए भी जानी जाती है। यह जड़ीबूटी नेत्र लेंस के ऑक्सीकरण को कम करके नेत्र स्वास्थ्य को बेहतर बनाती है। गौरतलब है कि, शोध के अनुसार, लेंस का ऑक्सीकरण कई नेत्र विकारों के प्रमुख कारणों में से एक है।

गोल्डनसील (Goldenseal)

गोल्डनसील एक नेत्र स्वास्थ्य को बढ़ाने वाली उत्कृष्ट जड़ी-बूटी है, जो अपने एंटीबायोटिक और प्रज्वलनरोधी गुणों के लिए जानी जाती है। गोल्डनसील आंखों में जलन की समस्याओं के इलाज में प्रभावी होता है। इसके अलावा ये ट्रेकोमा और स्टेप संक्रमण संक्रमण तथा आंखों में एलर्जी से होने वाली समस्याओं के लिए एक भी अच्छा उपचार है।

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK