Subscribe to Onlymyhealth Newsletter

व्‍यायाम संबंधी ये 10 सवाल पूछने में होती है शर्मिंदगी

व्‍यायाम को अपनी दिनचर्या में शामिल कर हम खुद को फिट और बीमारियों से मुक्‍त रख सकते हैं, लेकिन आपके मन में इसे लेकर कई सवाल भी उठते हैं जिसे पूछने में आपको शर्मिंदगी हो सकती है।

एक्सरसाइज और फिटनेस By Nachiketa SharmaJul 07, 2014

व्‍यायाम संबंधी सवाल

स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी समस्‍या के कारण व्‍यायाम का भी असर शरीर पर नहीं पड़ता है, और बात तब और पेचीदा हो जाती है जब आप नियमित रूप से व्‍यायाम करते हैं और उसका असर आपके स्‍वास्‍थ्‍य पर बिलकुल भी नहीं पड़ता। ऐसे में इन समस्‍याओं को छुपाने से बेहतर है कि उनका समाधान निकाला जाये और उसका उपचार किया जाये ताकि आप फिट रह सकें। आपके व्‍यायाम संबंधी कुछ सवाल ऐसे भी हैं जिनको पूछने में आपको होती है शर्मिंदगी।

image courtesy - getty

क्‍या व्‍यायाम के साथ खानपान का असर वजन पर होता है ?

व्‍यायाम करने से कई प्रकार की स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी समस्‍याये नहीं होती हैं और नियमित व्‍यायाम करने से डायबिटीज, कैंसर, दिल की बीमारियों के होने का खतरा कम रहता है। लेकिन व्‍यायाम के साथ-साथ वजन बढ़ रहा तो इसके लिए आपका खानपान जिम्‍मेदार हो सकता है। खाने में शुगर और फैट की अधिकता के कारण व्‍यायाम का असर शरीर पर पूरी तरह प्रभावी नहीं हो। इसलिए व्‍यायाम के साथ-साथ खानपान पर ध्‍यान देना चाहिए।

image courtesy - getty

क्‍या बच्‍चों के साथ उनकी गतिविधियों में हिस्‍सा लेना भी व्‍यायाम है ?

आप जितना ज्‍यादा एक्टिव रहेंगे आपका शरीर उतना ही फिट और बीमारी मुक्‍त रहेगा। कई शोधों में भी यह बात साबित हुई है कि अगर आप नियमित रूप से व्‍यायाम नहीं करते हैं लेकिन ऐसी गतिविधियां करते हैं जिसमें शरीर का मूवमेंट बार-बार होता है तो आप फिट रह सकते हैं। इसलिए बच्‍चों के साथ गेम खेलना, उनके साथ चहल-कदमी करना भी व्‍यायाम जैसा ही है, ऐसा मौका बिलकुल भी न गंवायें।

image courtesy - getty

क्‍या धीरे-धीरे जॉगिंग करने से शरीर की कैलोरी बर्न होती है ?

जितना अधिक आप चहल-कदमी करते हैं आपके शरीर से उतनी कैलोरी जलती है। लेकिन अगर आप जॉगिंग कर रहे हैं तो अपनी स्‍पीड बढ़ाकर इसका अधिक फायदा उठा सकते हैं। उदाहरण के लिए, धीरे-धीरे जॉगिंग के बजाय अगर आप 15 मिनट में एक मील चलते हैं तो आपके शरीर से 28 प्रतिशत कैलोरी अधिक जलेगी। इसलिए अगर जॉगिंग कर रहें हैं तो इसका अधिक फायदा उठाइये।

image courtesy - getty

अगर घर में कोई व्‍यायाम नहीं करता है तो क्‍या मुझे करना चाहिए ?

आपके घर में अगर कोई वर्कआउट नहीं करता तो इसका मतलब यह नहीं कि आपको भी नहीं करना चाहिए। खुद को फिट रखने और मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए आप आप 30 मिनट जिम सेंटर में दे सकते हैं, इससे आपको नुकसान की बजाय फायदा ही होगा।

image courtesy - getty

व्‍यायाम के दौरान एब्‍स को महसूस किया जा सकता है ?

जब भी आप पीठ के बल लेटकर व्‍यायाम करते हैं तब आप अपने एब्‍स का अनुभव नहीं कर सकते हैं। न्‍यूयार्क स्थित 'रीयल पिलातेस' के संस्‍थापक एलीसिया उंगारो के अनुसार, 'अगर आप पीठ के बल लेटकर व्‍यायाम करते हैं तो आप कभी भी अपने पेट का अनुभव नहीं कर सकते हैं, इसिलए पेट का अनुभव करने के लिए अन्‍य व्‍यायाम कीजिए।''

image courtesy - getty

क्‍या दौड़ने से स्‍तनों में शिथिलता आती है ?

दौड़ने से पहले आपने जो कपड़े पहने हैं उसका असर आपके स्‍तनों पर पड़ता है। अगर आप दौड़ने का अभ्‍यास कर रही हैं तो विशेष प्रकार के स्‍पोर्ट्स अंडरगारमेंट्स का प्रयोग करें। क्‍योंकि अगर आप दौड़ने के दौरान स्‍तनों के ऊतकों को सपोर्ट करने वाले कपड़े नहीं पहनेंगी तो स्‍तन के ऊतक शिथिल हो सकते हैं।

image courtesy - getty

कल की समस्‍या के कारण क्‍या मैं वर्कआट का सेशन छोड़ सकती हूं ?

बिलकुल भी नहीं, यादि आपको कल जिम के दौरान समस्‍या हुई, इसके कारण आपके मांसपेशियों में आज दर्द है तो इसका मतलब बिलकुल भी यह नहीं कि आज आप वर्कआउट नहीं करेंगी। दरअसल यह समस्‍या नहीं है, इसलिए अपने व्‍यायाम को जारी रखें।

image courtesy - getty

योग की कक्षाओं में लोग कैसे योगासन करते हैं ?

योग कोई सीखकर नहीं आता है बल्कि सभी योग को सीखकर ही उसके आसनों को दोहराते हैं। यह आपके लिए भी बहुत मुश्किल काम नहीं है, आप आसानी से योग के आसन सीख सकती हैं। इसके लिए आप चाहें तो योग की किताबें पढ़े, योग के डीवीडी और उनकी वीडियो देखें और अगर अधिक समस्‍या हो तो किसी योग गुरू से संपर्क कीजिए।

image courtesy - getty

क्‍या 10 मिनट का व्‍यायाम पर्याप्‍त है ?

अगर काम के चलते आपके पास व्‍यायाम के लिए केवल 10 मिनट है तो यह भी पर्याप्‍त है। लेकिन इसके लिए जरूरी है कि आप इतने समय का सही प्रयोग करें और नियमित रूप से 10 मिनट व्‍यायाम के लिए निकालें। अगर आप रोज 10 मिनट व्‍यायाम करती हैं तो एक सप्‍ताह में 400 से 500 कैलोरी जलाती हैं। इसलिए अगर आपके 10 मिनट ही है तो कार्डियो और स्‍ट्रेंथ वर्कआउट दोनों साथ में करें।

image courtesy - getty

व्‍यायाम शुरू करने का सही तरीका क्‍या है ?

व्‍यायाम शुरू करने का कोई तरीका नहीं होता, बल्कि इसे अपने रूटीन में शामिल कीजिए, ऐसा न हो कि एक दिन व्‍यायाम किया तो 4 दिन आराम किया। आप कार्डियो और स्‍ट्रेंथ ट्रेनिंग भी कर सकती हैं। अगर आपको अन्‍य व्‍यायाम करने में समस्‍या हो सकती है तो चलने से बेहतर कोई और व्‍यायाम नहीं हो सकता है। अगर आप रोज 1 हजार से अधिक कदम चलते हैं तो सप्‍ताह में 400-500 से कैलोरी जलाती हैं।

image courtesy - getty

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK