Subscribe to Onlymyhealth Newsletter
  • I have read the Privacy Policy and the Terms and Conditions. I provide my consent for my data to be processed for the purposes as described and receive communications for service related information.

दफ्तर की ये 10 बुरी आदतें बना सकती हैं आपको बीमार

आपका लगभग आधा दिन ऑफिस में बीतता है तो जाहिर सी बात है आपकी इस समय की आदतें आपके सेहत को प्रभावित कर सकती हैं, आइए हम आपकी उन आदतों के बारे में बताते हैं जिससे आपकी सेहत पर असर पड़ता है।

आफिस स्‍वास्‍थ्‍य By Rahul SharmaAug 12, 2015

दफ्तर की बुरी आदतें

हम सभी अपने दफ्तर में रोजाना 7 से 8 घंटे बिताते हैं, लेकिन क्‍या आप जानते हैं। तो जाहिर सी बात है इस दौरान की आपकी आदतों का असर आपके सेहत पर पड़ता है। अगर आपकी आदतें अनहेल्‍दी होंगी तो ये आपको बीमार भी कर सकती हैं। तो उन आदतों के बारे में जानिये जिसका सीधा असर आपकी सेहत पर पड़ता है।

Images source : © Getty Images

ब्रेकफास्‍ट छोड़ना

रोज सुबह ऑफिस आने से पहले आपको ब्रेकफास्‍ट करने की आदत डालनी होगी। रोज रोज का ब्रेकफास्‍ट छोड़ना धीरे धीरे आपकी तबियत खराब कर सकता है। यह दिन का सबसे अहम आहार होता है और हम इसे बड़ी आसानी से नकार देते हैं।
Images source : © Getty Images

लैग क्रौस करके बैठना

कई लोगों को बैठे हुए पैर हिलाते रहने की आदत होती है, और इससे बचने के लिये वे उन्हों क्रौस कर बैठने की आदत डाल लेते हैं। लेकिन इस आदत से आपकी मकर या गर्दन में दर्द हो सकता है और ब्लड प्रेशर भी बढ़ करता है।
Images source : © Getty Images

हेड फोन के साथ काम करना

काफी सारे कर्मचारियों को लगता है कि हेड फोन पहन कर काम करने से बेहतर आउटपुट मिलता है। और के साथ काम करने पर नतीजे अच्छे मिल सकते हैं। लेकिन, लोग भूल जाते हैं कि हेड फोन के कारण वे खुद को ऑफिस में चल रही ज़रूरी बातों से अलग कर लेते हैं। ऑफिस में उनकी दिलचस्पी कम होने लगती है।
Images source : © Getty Images

गलत पॉश्चर में बैठना


दफ्तर में घंटों कंप्यूटर के आगे गलत पोश्चर में बैठने से सेहत पर बुरा असर पड़ता है। गलत मुद्रा में बैठ कर लगातार की-बोर्ड के इस्तेमाल से आगे चलकर कारपल टनल सिंड्रोम समस्या हो जाती है। यह बीमारी दुनियाभर में 6 प्रतिशत लोगों को अपना शिकार बना चुकी है। गंभीर स्थितियों में तो इसे सजर्री से ठीक किया जाता है।
Images source : © Getty Images

ब्रेक न लेना


बिना ब्रेक लगातार काम करते रहना जोड़ों, मांसपेशियों, परिसंचरण तंत्र और आंखों पर काफी नकारात्मक प्रभाव डालता है। इतना ही नहीं, कंप्यूटर के सामने घंटों बैठे रहने से रक्त के थक्के जमने की आशंका बढ़ जाती है। खासतौर पर 20 से 40 आयु वर्ग में ड्राई आई, नजर कमजोर होना व आंखों में खुजली के मामले तेजी से बढ़ते देखे जा सकते हैं।   
Images source : © Getty Images

बाथरूम में फोन ले जाना


2013 में हुए हुफ्फपोस्ट/यूगॉव पोल (HuffPost/YouGov poll) के अनुसार 18 से 29 की उम्र के आधे से अधिक स्मार्टफोन उपयोगकर्ताओं शौचालय उपयोग के लिए जाते हुए उनके साथ उनके फोन ले जाते हैं। इससे काफी रोगाणुओं का प्रसार होता है, जोकि आपकी सेहत के लिये हानिकारक है। Images source : © Getty Images

काफी देर तक पानी न पीना

शरीर बेहतर ढंग से काम करे, इसके लिए पर्याप्त पानी पीते रहना बेहद जरूरी होता है। काम के बीच-बीच में नियमित रूप से पानी पीते रहें। इससे शरीर का निर्जलीकरण नहीं होगा। साथ ही आप खुद को तरोताजा महसूस करेंगे। साधारण पानी पीने से अच्‍छा होगा कि आप हल्‍का गुनगुना पानी पियें।
Images source : © Getty Images

ज्यादा कॉफी पीना


लोग अकसर दफ्तर में काम के साथ काफी सारी/कॉफी पी जाते हैं, जोकि सेहत के लिये हानिकारक है। इसलिये दिन में केवल 2 कप कॉफी ही पियें। कॉफी पीने के साथ खूब सारा पानी पियें जिससे आपका सिस्‍टम कैफीन मुक्‍त हो जाए।
Images source : © Getty Images

डायट सोडा अधिक पीना


यूनिवर्सिटी ऑफ टेक्सस के अनुसार डायट सोड़ा और कोक जैसी कार्बोनेटेड ड्रिंक्स का इस्तेमाल हम शून्य कैलोरी इनटेक को ध्यान में रख कर करते हैं।  पोषण विशेषज्ञ एमी गुडसन के मुताबिक इनसे शरीर की शुगर की जरूरत पूरी नहीं होती और जिसके चलते हम हम इसे जरूरत से ज्यादा पी जाते हैं, अंतत: सामान्य से ज्यादा कैलोरी ले लेते हैं।
Images source : © Getty Images

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK