• shareIcon

ये 10 घरेलू नुस्‍खे सेहत के लिए हैं हानिकारक, कभी न करें इस्‍तेमाल

हर चीज का इलाज घर पर करना कई बार स्थिति को और अधिक खराब कर सकता है। इस स्‍लाइड शो में कुछ ऐसे घरेलू उपचार दिये गए है जो चीजों को ठीक करने की बजाय आपको संकट में डाल सकते हैं।

घरेलू नुस्‍ख By अतुल मोदी / Mar 13, 2018

घरेलू नुस्‍खे के नुकसान

बहुत सारी समस्‍याओं के समाधान के लिए हम घरेलू उपायों का इस्‍तेमाल करते हैं। लेकिन बहुत से ऐसे घरेलू उपाय हैं जो आपके सेहत को नुकसान पहुंचा सकते हैं। इसलिए इन्‍हें घर पर करने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। कुछ घरेलू उपाय जैसे मधुमक्‍खी के डंक पर ठंडा पानी डालने को परेशानी के तुरंत इलाज का प्रभावी तरीका माना जाता है। लेकिन आपको यह नहीं भूलना चाहिए हर चीज का इलाज घर पर करना कई बार स्थिति को और अधिक खराब कर सकता है। इस स्‍लाइड शो में कुछ ऐसे घरेलू उपचार दिये गए है जो चीजों को ठीक करने की बजाय आपको संकट में डाल सकते हैं।

ईयर कंडलिंग

कई लोग कान के वैक्‍स से छुटकारा पाने के लिए खतरनाक घरेलू उपचार इयर कांडलिंग का इस्‍तेमाल करते हैं जो खुजली और जलन पैदा कर सकता है। इस प्रक्रिया के दौरान जब मोमबत्ती के आकार के बीवैक्स कोन को कान के अंदर रखा जाता है और इसकी बाती को जलाया जाता हैं। तब बाती से निकलने वाली कुछ बूंदे कान के अंदर चली जाती है। इस तरह से इस प्रक्रिया के दुष्‍प्रभाव खतरनाक होते है। इस घरेलू उपाय से आप अपनी सुनने की क्षमता को भी खो सकते हैं।

छोटे बच्‍चों के मसूडों पर शराब का इस्‍तेमाल

छोटे बच्‍चे दांत निकालते समय बहुत अधिक दर्द महसूस करते है जिससे वह अधिक चिड़चिडे हो जाते हैं और इस कारण से वह काफी रोते भी हैं। बच्‍चों के दर्द को कम करने के लिए माता-पिता अपने बच्‍चों के मसूड़ों पर शराब को रगड़ना एक घरेलू उपाय मानते हैं। लेकिन इस घरेलू उपाय से काफी हद तक बचा जाना चाहिए क्‍योंकि शराब का प्रभाव बच्‍चों पर भी वैसे ही पड़ता है जैसे बड़ों पर। इसके अलावा यह जलन भी पैदा कर सकता है। Image courtesy : Getty Images

जलने पर मक्खन लगना

जलने पर मक्‍खन लगाने को आपात स्थिति में एक बहुत बढि़या घरेलू उपाय माना जाता है, लेकिन यह उपाय आपके घाव पर संक्रमण पैदा कर सकता है। इसलिए इस घरेलू उपाय को करने से पहले इसके साइड इफेक्‍ट के बारे में एक बार सोच लें।

मुंहासों पर टूथपेस्ट लागना

टूथपेस्‍ट से दांत साफ करने के अलावा, कुछ लोग इसका इस्‍तेमाल मुंहासों को दूर करने के लिए भी करते हैं। लेकिन मुंहासों को दूर करने वाला यह घरेलू उपाय प्रभावित हिस्‍से पर जलन पैदा करके चीजों को भी बदतर बना सकता हैं। Image courtesy : Getty Images

उंगली से मस्सा काटना

कई लोग फिंगर्स से मस्‍सा को निकालने के लिए घरेलू इलाज को करते हैं। इसके लिए वह किसी तेज वस्‍तु से उसे काट देते हैं। लेकिन इस तरह से इलाज करने से आपको संक्रमण हो सकता है या चोट के निशान भी दे सकता है। Image courtesy : Getty Images

फिश बोन हड्डी को दूर करना Removing Stuck Fish Bone with Fingers

कई लोगों के लिए उंगलियों से गले से फिश बोन हड्डी को दूर करना एक आम बात होती है। लेकिन यह स्थिति को सुधारने की बजाय बिगाड़ सकता है क्‍योंकि यह गले के अंदर के हिस्‍से को चोटिल कर सकता हैं। इसलिए इस घरेलू उपाय को न करने की सलाह दी जाती हैं। Image courtesy : Getty Images

आंखों की फुंसी को सुई से दबाना

आंखों में हुई फुंसी को कई लोग सुई से दबाना एक आम घरेलू उपचार मानते हैं। लेकिन ऐसा करना आपकी आंखों को खतरे में डाल सकता है। इस तरह से सुई से भेदने से सुई आपके आंखों के अंदर जा सकती है और आप गंभीर रूप से घायल हो सकते हैं। Image courtesy : Getty Images

कान के अंदर बाल पिन डालना

कान के अंदर की गंदगी को साफ करने के लिए कुछ लोग अक्‍सर बाल पिन का इस्‍तेमाल करते हैं। इसके अलावा कई लोग माचिस की तीली पर कॉटन लपेटकर भी इस्‍तेमाल करते हैं। ऐसा करने से माचिस की तीली आपके कान के अंदर टूटकर अटक सकती हैं और आपके सुनने की क्षमता भी खो सकती है। इस तरह के घरेलू उपाय आपके लिए खतरनाक साबित हो सकते हैं।

कोलेस्ट्रॉल स्तर के लिए लहसुन का प्रयोग

बहुत से लोगों को मानना है कि लहसुन के सेवन से कोलेस्‍ट्रॉल के स्‍तर को रक्तचाप को कम किया जा सकता है। लेकिन लहसुन का अधिक इस्‍तेमाल वॉरफेरिन (रक्त के थक्‍के को रोकने वाली दवा) के साथ करने से रक्तस्राव में अधिक वृद्धि के जोखिम में डाल सकते हैं। यह असामान्‍य दिल की धड़कन और दिल के दौरे का कारण हो सकता है। Image courtesy : Getty Images

एलोवेरा

एलोवेरा को एक बहुउद्देश्यीय घरेलू उपाय माना जाता है, लेकिन इसका इस्‍तेमाल मुख्‍य रूप से चेहरे पर चमक तेज करने के लिए किया जाता है। हालांकि, इस संयंत्र का उपयोग खून में पोटेशियम के स्तर की एक बूंद का नेतृत्व करता हैं। लेकिन यह दिल की समस्याओं कारण हो सकता है और हृदय रोगियों की स्थिति और भी खराब कर सकता है। Image courtesy : Getty Images

Disclaimer

इस जानकारी की सटीकता, समयबद्धता और वास्तविकता सुनिश्चित करने का हर सम्भव प्रयास किया गया है हालांकि इसकी नैतिक जि़म्मेदारी ओन्लीमायहेल्थ डॉट कॉम की नहीं है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्सक से अवश्य संपर्क करें। हमारा उद्देश्य आपको जानकारी मुहैया कराना मात्र है।

More For You
This website uses cookie or similar technologies, to enhance your browsing experience and provide personalised recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy. OK